दिलीप कुमार

1 min


एक्टर्स के आदर्श रहे दिलीप कुमार

यदि किसी भी एक्टर से पूछा जाए की वो एक्टिंग में अपना आदर्श किसे मानते हैं तो हेर किसी की पहली पसंद होगी ट्रेजिडी किंग ‘दिलीप कुमार’ दिलीप कुमार को अपने दौर का बेहतरीन अभिनेता माना जाता है और त्रासद भूमिकाओं के लिए मशहूर होने के कारण उन्हे ‘ट्रेजडी किंग’ भी कहा जाता था दिलीप कुमार का जन्म 11 दिसम्बर, 1922 को वर्तमान पाकिस्तान के पेशावर शहर में हुआ था। उनके बचपन का नाम ‘मोहम्मद युसूफ़ ख़ान था। उनके पिता का नाम लाला ग़ुलाम सरवर था जो फल बेचकर अपने परिवार का ख़र्च चलाते थे। विभाजन के दौरान उनका परिवार मुंबई आकर बस गया।

दिलीप कुमार का शुरुआती जीवन तंगहाली में ही गुजरा। पिता के व्यापार में घाटा होने के कारण वह पुणे की एक कैंटीन में काम करने लगे थे। यहीं देविका रानी की पहली नज़र उन पर पड़ी और उन्होंने दिलीप कुमार को अभिनेता बना दिया। देविका रानी ने ही ‘युसूफ़ ख़ान’ की जगह उनका नया नाम ‘दिलीप कुमार’ रखा। पच्चीस वर्ष की उम्र में दिलीप कुमार देश के नंबर वन अभिनेता के रूप में स्थापित हो गए थे। दिलीप कुमार ने अपने करियर की शुरुआत फिल्म ‘ज्वार भाटा’ से की, जो वर्ष 1944 मे आई। हालांकि यह फ़िल्म सफल नहीं रही। उनकी पहली हिट फ़िल्म “जुगनू” थी। 1947 में रिलीज़ हुई इस फ़िल्म ने बॉलीवुड में दिलीप कुमार को हिट फ़िल्मों के स्टार की श्रेणी में लाकर खड़ा कर दिया। 1949 में फ़िल्म “अंदाज़” में दिलीप कुमार ने पहली बार राजकपूर के साथ काम किया। यह फ़िल्म एक हिट साबित हुई। दीदार (1951) और देवदास (1955) जैसी फ़िल्मों में गंभीर भूमिकाओं के लिए मशहूर होने के कारण उन्हें ट्रेजडी किंग कहा जाने लगा। मुग़ले-ए-आज़म (1960) में उन्होंने मुग़ल राजकुमार जहाँगीर की भूमिका निभाई। “राम और श्याम” में दिलीप कुमार द्वारा निभाया गया दोहरी भूमिका (डबल रोल) आज भी लोगों को गुदगुदाने में सफल साबित होता है। 1970, 1980 और 1990 के दशक में उन्होंने कम फ़िल्मों में काम किया। इस समय की उनकी प्रमुख फ़िल्में थीं: क्रांति (1981), विधाता (1982), दुनिया (1984), कर्मा (1986), इज़्ज़तदार (1990) और सौदागर (1991)। 1998 में बनी फ़िल्म “क़िला” उनकी आखिरी फ़िल्म थी।उन्होने रमेश सिप्पी की फिल्म शक्ति मे अमिताभ बच्चन के साथ काम किया। इस फिल्म के लिए उन्हे फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार भी मिला।

 यदि दिलीप साहब की पर्सनल लाइफ की बात की जाए तो उनकी जिंदगी में बहुत सी औरतें आई जिनमे  में दो औरतें सबसे ज़्यादा महत्वपूर्ण रही पहली मधुबाला और दूसरी उनकी पत्नी सायरा बानू ।दिलीप कुमार पहले अभिनेत्री कामिनी कौशल से प्यार करते थे लेकिन उनकी शादी नही हो पायी परिणामस्वरूप, दिलीप कुमार को बाद में अभिनेत्री मधुबाला से प्यार हुआ लेकिन दोनों के परिवारों ने उनका विरोध किया बाद में फ़िल्मी जानकारों ने वयजंतिमाला को दिलीप कुमार का तीसरा प्यार बताया क्योकि दोनों ने ही अपने करियर में 1955 से 1968 के दरमियाँ काफी सफल फिल्मे भी दी लेकिन अंततः 1966 में दिलीप कुमार ने अभिनेत्री सायरा बानू से शादी कर ली दिलीप कुमार की शादी अभिनेत्री सायरा बानो से वर्ष 1966 मे हुई। विवाह के समय दिलीप कुमार 44 वर्ष और सायरा बानो की 22 वर्ष की थीं। 1980 मे कुछ समय के लिए उन्होंने आसमां से दूसरी शादी भी की थी क्योकि वो पिता बनना चाहते थे लेकिन ये शादी ज़्यादा नहीं चल पाई और दिलीप जी वापस सायरा बानू के पास आ गए शादी के बाद से आज तक सायरा दिलीप जी के साथ परछाई की तरह है। हाल ही में दिलीप कुमार की तबियत बहुत ख़राब हो गई थी लेकिन अब वो बिल्कुल ठीक हैं ।

दिलीप कुमार को हिंदी सिनेमा का एक चमकता तारा और महान कलाकार कहा जाता है. उन्होंने अपने जीवन में कई बार बेस्ट एक्टर के लिये वर्ड अवार्ड जीते है, और यह अपनेआप में ही एक रिकॉर्ड है। अपने करियर में उन्हें बहोत से पुरस्कार मिले है जिनमे 8 बेस्ट एक्टर फिल्मफेयर अवार्ड और 19 फिल्मफेयर नामनिर्देशन शामिल है। 1933 में उन्हें अपनी फिल्मफेयर की तरफ से लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड भी दिया गया था। 1980 में दिलीप कुमार को मुंबई के शेरिफ (Sheriff)के पद पर नियुक्त भी किया गया था और 1991 में भारत सरकार ने उन्हें पद्म भूषण से भी सम्मानित किया था और 1994 में दादासाहेब फालके अवार्ड और 2015 में पद्म विभूषण से भी सम्मानित किया गया था। आंध्रप्रदेश सरकार ने 1997 में उन्हें एनटीआर नेशनल अवार्ड देकर सम्मानित किया था ।राजनैतिक दल शिव सेना, महाराष्ट्र उन्हें दिये गये इस पुरस्कार पर काफी सवाल खड़े किये थे और उनकी देशभक्ति पर शक भी किया था। लेकिन 1999 में भारत के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सहायता से वे अपने इस अवार्ड को बचाने में सफल हुए। 2009 में CNN-IBN ने उन्हें लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड देकर सम्मानित किया था।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये