दिलीप कुमार का पुश्तैनी घर ढहने के कगार पर

1 min


दिलीप कुमार का पेशावर स्थित पुश्तैनी घर ढहने के कगार पर है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने इसे राष्ट्रीय स्मारक घोषित किया था।

1-10-2012_624_l

किस्सा ख्वानी बाजार में खुदादाद मुहल्ले के निवासियों ने सरकार से गुहार लगाई है कि इस राष्ट्रीय स्मारक को बचाने के लिए तत्काल कदम उठाए जाएं।
दिलीप कुमार के इस घर को पिछले साल जुलाई में राष्ट्रीय स्मारक घोषित किया गया था। सरकार की मंशा इसे एक संग्रहालय के रूप में बदलने की है। लेकिन इस दिशा में अभी तक कुछ नहीं किया गया है।

दिलीप कुमार का पुश्तैनी घर बहुत बुरी स्थिति में है और कभी भी गिर सकता है। यदि ऐसा हुआ तो यह बहुत दुखद होगा । पेशावर में जन्मे दिलीप कुमार का असली नाम यूसुफ खान है। उन्होंने इस मकान में अपने शुरुआती सात साल बिताए थे। 1930 के दशक के आखिर में उनका परिवार मुंबई चला गया था।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये