दिलजीत की पगड़ी पर मुझे गर्व है – अंगद बेदी

1 min


अभिनेता दिलजीत दोसांझ और अंगद बेदी अपनी आगामी फिल्म ‘सूरमा‘ का प्रचार करने के लिये स्टारप्लस के गेम शो ‘सबसे स्मार्ट कौन?‘ के सेट पर पहुंचे। इस शो में उन्होंने होस्ट रवि दुबे के साथ अपनी स्मार्टनेस को भी परखा।

इस शो के आगे बढ़ने के साथ अंगद बेदी ने बताया कि उनके पिता बिशन सिंह बेदी उन्हें अपनी तरह एक क्रिकेट खिलाड़ी बनाना चाहते थे। हालांकि, अंगद ने अंडर 19 दिल्ली टीम के लिये खेला भी है, लेकिन वह भारतीय टीम के लिये चुने नहीं गये। अंगद ने बताया, ‘‘मेरे पिता ने कहा था कि यदि मेरा चुनाव मेन टीम में नहीं हुआ, तो मुझे दूसरा कॅरियर के बारे में सोचना चाहिये, क्योंकि 18-19 साल की उम्र में कई युवा टीम मे ंजगह बना रहे हैं और दूसरे नंबर पर आना कोई विकल्प नहीं था।‘‘

हालांकि, उनके पिता उन्हें क्रिकेट खिलाड़ी बनाना चाहते थे, लेकिन अंगद की दिलचस्पी एन्टरटेनमेंट इंडस्ट्री में थी। उन्होंने इस बारे में बात करते हुये कहा, ‘‘इंडस्ट्री के प्रति मेरा हमेशा से ही झुकाव था और मुझे इस बात की खुशी है कि मुझे श्री अमिताभ बच्चन (पिंक) और अब दिलजीत (सूरमा) के साथ काम करने का मौका मिला।‘‘

उन्होंने आगे कहा, ‘‘मैं खुद भी एक सिख हूं और दिलजीत पाजी जिस वाहेगुरू की पूजा करते हैं, मैं भी उनकी ही पूजा करता हूं। वह मेरी और देश में मेरे जैसे लाखों लोगों के लिये प्रेरणा हैं। मैं जब भी उनकी पगड़ी को देखता हूं, मुझे उनपर गर्व होता है। मैं उनका एक बहुत बड़ा फैन हूं।‘‘

यह सुनकर दिलजीत बेहद खुश हुये और उन्होंने अंगद को गले लगा लिया। कुछ देर के लिये दोनों ही बेहद भावुक हो गये और वे कुछ भी बोल नहीं पा रहे थे।

लेकिन अब सवाल यह है कि ज्यादा स्मार्ट कौन है, दिलजीत या अंगद ?


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये