डिनो मोरिया ने ‘तांडव’ की तैयारी के लिये ‘प्रोफेसर्स’ का किया बारीकी से अध्‍ययन 

1 min


Dino Morea

डिनो मोरिया अपनी बेहतरीन भूमिकाओं और वास्‍तविक अदाकारी के अपने हुनर के लिये जाने जाते हैं।

उनकी आगामी अमेज़न ओरिजिनल सीरीज ‘तांडव’ के अमेज़न प्राइम वीडियो पर रिलीज का बेसब्री से इंतजार किया जा रहा है।

डिनो इसमें पॉलिटिकल साइंस के एक प्रोफेसर की भूमिका में नज़र आयेंगे और उन्‍होंने हाल ही में इस किरदार को लेकर अपनी तैयारियों के बारे में चर्चा की। साथ ही इस शो को करने की वजह पर भी रोशनी डाली। 

ज्योति वेंकटेश

“ऐक्टिंग मेरी पहली पसंद है और यदि मुझे अच्‍छी भूमिका मिलेगी तो मैं कभी मौका नहीं छोडूंगा” डिनो मोरिया

Dino Morea

उन्‍होंने बताया, ‘‘अपनी भूमिका निभाने के लिये कैमरे के सामने जाने से पहले मुझे उसकी पूरी तैयारी करना पसंद है, ताकि मैं उस भूमिका को विश्‍वसनीयता के साथ निभा सकूं।

‘तांडव’ में मैं एक पॉलिटिकल साइंस के प्रोफेसर के रूप में नज़र आने वाला हूं और इसलिये मैंने कई सारी फिल्‍में और शोज़ देखे, जिनमें प्रोफेसर्स थे और मैंने उनकी बॉडी लैंग्‍वेज को काफी करीब से देखा।’’ 

‘तांडव’ को चुनने की वजह के बारे में आगे बताते हुए डिनो ने कहा, ‘‘मैं काफी समय से परदे से दूर था, क्‍योंकि मुझे ऐसा लगा कि मुझे अच्‍छी भूमिकाएं ऑफर नहीं हो रही हैं।

ऐक्टिंग मेरी पहली पसंद है और यदि मुझे अच्‍छी भूमिका मिलेगी तो मैं कभी मौका नहीं छोडूंगा।

जब मुझे ‘तांडव’ में काम करने का ऑफर मिला तो मुझे उसकी स्क्रिप्‍ट पढ़ते ही पसंद आ गयी थी और मैं अली अब्‍बास जाफर के साथ काम करने का मौका जाने नहीं देना चाहता था।

इसमें विविधता से भरे शानदार कलाकार काम कर रहे हैं। मुझे ऐसा लगा कि ‘तांडव’ जीवन में एक बार मिलने वाले मौके जैसा है और मैंने दोनों हाथों से उस मौके को लपक लिया।

भारत में पहली बार पॉलिटिकल थ्रिलर शो बनाया गया है और उसके हिसाब से तांडव नाम बिलकुल सही है।

यह एक रोचक कहानी है, जिसमें हर कोई अपने फायदे के लिये एक-दूसरे गिराने की कोशिश करता है। यह कहानी ट्विस्‍ट और टर्न से भरी हुई है।

राजनीति की पृष्‍ठभूमि पर बनने के कारण ‘तांडव’ में रिश्‍तों में काफी जटिलताएं दिखायी गयी है। इसलिये, जिन लोगों को राजनीति जैसे विषय में बहुत रुचि नहीं है, उन्‍हें भी यह शो पसंद आयेगा।’’ 

बहुप्रतीक्षित राजनीतिक ड्रामा, ‘तांडव’ का प्रीमियर 15 जनवरी, 2021 को भारत समेत 200 से भी ज्‍यादा देशों व क्षेत्रों में एक्‍सक्‍लूसिव रूप से अमेज़न प्राइम वीडियो पर किया जायेगा। 

हिमांशु किशन मेहरा और अली अब्‍बास जाफर द्वारा प्रोड्यूस, 9 एपिसोड में बने इस पॉलिटिकल ड्रामा में एक से बढ़कर एक धुरंधर कलाकारों ने काम किया है।

उनमें सैफ अली खान, डिंपल कपाड़िया, सुनील ग्रोवर, तिग्‍मांशु धूलिया, डिनो मोरिया, कुमुद मिश्रा, गौहर खान, अमायरा दस्‍तूर, मोहम्‍मद जीशान अयूब, कृतिका कामरा, सारा जेन डियास, संध्‍या मृदुल, अनूप सोनी, हितेन तेजवानी, परेश पाहुजा और शोनाली नागरानी जैसे कलाकार शामिल है। 

सारांश : 

चुनावों (लोक सभा) में पार्टी की जीत के बाद प्रमुख राजनीतिक दल के करिश्‍माई नेता, समर प्रताप (सैफ अली खान) को ऐसा लगता है कि वह प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठने के लिये तैयार है।

समर के पिता पार्टी के मुखिया और देश के प्रधानमंत्री, देवकी नंदन (तिग्‍मांशु धूलिया) अभी रिटायर नहीं होना चाहते।

देवकी की करीबी सहयोगी अनुराधा (डिंपल कपा‍ड़िया), पार्टी के वरिष्‍ठ लीडर गोपल दास (कुमुद मिश्रा), कुछ ऐसे लीडर्स हैं जो उसे कुर्सी पर बैठने के योग्‍य मानते हैं।

लेकिन कुर्सी आसानी से हाथ नहीं आती। एक आदर्शवादी कैम्‍पस एक्टिविस्‍ट शिवा (जशीन अयूब) की कहानी भी इसके साथ-साथ चलती है, जोकि एक राजनीतिक कार्यक्रम में अपने काम से रातोंरात यूथ आईकन बन गया है।

शिवा बदलाव लाना चाहता है, युवाओं को साथ लेकर सत्‍ता के स्‍तंभों को उखाड़ फेंकना चाहता है। शिवा को पहली बार सत्‍ता का स्‍वाद चखने का मौका मिलता है।

राष्‍ट्रीय राजनीति के कैम्‍पस ऐक्टिविज्‍म के साथ मिलने से शिवा और समर की जिंदगियां आपस में टकराती हैं।

सत्‍ता का यह तांडव घटनाओं की एक श्रृंखला की तरह है, जोकि सभी रिश्‍तों में निहित स्‍वार्थ, छल, कपट, महत्‍वाकांक्षाओं और हिंसा को उजागार करता है। 

‘तांडव’ का प्रीमियर 15 जनवरी, 2021 को किया जायेगा और यह भारत समेत 200 से भी ज्‍यादा देशों व क्षेत्रों में प्राइम मेंबर्स के लिये उपलब्‍ध होगा। 

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये