शोले के रीमेक के लिए रमेश सिप्पी ने रखी ये खास शर्त, तभी दोबारा बन सकेगी फिल्म

1 min


शोले रीमेक

शोले के रीमेक के लिए रमेश सिप्पी ने क्या शर्त रखी है ?

बॉलीवुड में कुछ दिनों से रीमेक फिल्मों का ट्रेंड सा चल गया है। जिसे देखो वही फिल्मों के रीमेक बनाने में लगा है। बॉलीवुड की पुरानी फिल्मों से साउथ इंडियन फिल्मों तक आजकल हर किसी का रीमेक बनाया जा रहा है। हालांकि, अभी तक बॉलीवुड में जिन फिल्मों के भी रीमेक बने वो ओरिजिनल फिल्मों से बेहतर नहीं साबित हुए। क्रिटिक्स और दर्शकों की तरफ से भी ऐसी फिल्मों को अच्छी प्रतिक्रिया नहीं मिली। वहीं, कुछ दिनों से साल 1975 में आई डायरेक्टर रमेश सिप्पी की ब्लॉकबस्टर फिल्म शोले के रीमेक को लेकर भी चर्चा चल रही है।

रमेश सिप्पी शोले का रीमेक बनाना ही नहीं चाहते

खबरों के मुताबिक, डायरेक्टर रमेश सिप्पी ने शोले के रीमेक को लेकर एक खास शर्त रखी है। और उसी शर्त के अनुसार ही शोले का रीमेक बनाया जा सकता है। हाल ही में हुई एक बातचीत के दौरान रमेश सिप्पी ने कहा, मैं शोले के रीमेक को लेकर ज्यादा खुश नहीं हूं। जब तक कि कोई इसके रीमेक को बिलकुल अलग अंदाज़ में बनाने के बारे में न सोच सके। अगर ऐसा नहीं सकता तो मैं शोले का रीमेक नहीं बनाना चाहूंगा। इसका साफ तौर पर मतलब ये है कि मैं शोले का रीमेक बनाना ही नहीं चाहता। उन्होंने कहा कि कई फिल्में अबतक ऐसी बनीं जिनका बहुत अच्छा रीमेक बनाया गया है। किसी फिल्म को आप दोबारा अलग तरीके से कैसे बनाते हैं, ये बात बहुत मायने रखती है।

साल 2007 में राम गोपाल वर्मा ने बनाई थी आग

गौरतलब है कि साल 2007 में राम गोपाल वर्मा ने शोले को राम गोपाल वर्मा की आग के नाम से रीमेक बनाया था। जो बॉक्सऑफिस पर बुरी तरह से पिट गई। इस फिल्म की काफी आलोचना भी हुई। रमेश सिप्पी का कहना है, इतनी बड़ी स्टारकास्ट के साथ हाई ओक्टेन सींस वाली फ़िल्म को मैनेज करना उस वक़्त एक बड़ी चुनौती थी। सिप्पी ने कहा- मुझे ख़ुशी है कि हमारी कोशिश बेकार नहीं गयी। 45 साल बाद आज भी फ़िल्म को लोगों का प्यार पहले जैसा ही मिलता है।

ये भी पढ़ेंश्रद्धा कपूर ने शेयर की अपनी थ्रोबैक फोटो, बताया अपने खरगोश जैसे दांतों का सच


Like it? Share with your friends!

Sangya Singh

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये