फ़िल्मी इंटरव्यू – Mayapuri https://mayapuri.com Latest Bollywood Hindi News Wed, 15 Jan 2020 10:51:48 +0000 en-US hourly 1 https://wordpress.org/?v=5.3.2 https://i0.wp.com/mayapuri.com/wp-content/uploads/2018/02/mayapuri-favicon.png?fit=32%2C32&ssl=1 फ़िल्मी इंटरव्यू – Mayapuri https://mayapuri.com 32 32 142476063 क्लासिकल गायन की दुनिया में एक बड़ा नाम बन गये हैं..सत्यम आनंदजी https://mayapuri.com/mesmerising-romantic-soulful-ghazal-by-satyam-anandjee/ https://mayapuri.com/mesmerising-romantic-soulful-ghazal-by-satyam-anandjee/#respond Wed, 15 Jan 2020 10:51:48 +0000 https://mayapuri.com/?p=225577 Satyam Anandjee

भवन्स ऑडिटोरियम में सत्यम आनंदजी का सेमी क्लासिकल प्रोग्राम था। उन्होंने गजल की एक तान छेड़ी थी- ‘फूल रस्मों की खातिर नहीं लाइये, फूल खिल जाएंगे आप आ जाइए।’ समूचा हॉल तालियों की गड़गड़ाहट से भर गया था। यह गजल थी- गीतकार मदन पॉल की लिखी हुई, जो सत्यम ने उसी दिन गीतकार के साथ […]

The post क्लासिकल गायन की दुनिया में एक बड़ा नाम बन गये हैं..सत्यम आनंदजी appeared first on Mayapuri.

]]>
Satyam Anandjee

भवन्स ऑडिटोरियम में सत्यम आनंदजी का सेमी क्लासिकल प्रोग्राम था। उन्होंने गजल की एक तान छेड़ी थी- ‘फूल रस्मों की खातिर नहीं लाइये, फूल खिल जाएंगे आप आ जाइए।’ समूचा हॉल तालियों की गड़गड़ाहट से भर गया था। यह गजल थी- गीतकार मदन पॉल की लिखी हुई, जो सत्यम ने उसी दिन गीतकार के साथ बैठकर कुछ देर पहले ही कंपोज किया था। यह दुखद बात हुई कि इस कार्यक्रम के अगले दिन ही गीतकार मदन पॉल हृदयघात से दुनिया छोड़ गये। सत्यम ने इस गीत को अपने 2020 के रिज्यूलेशन में शामिल कर लिया है। उनका कहना है कि गीतकार मदन पॉल (आइना क्या देखते हो दिल में उतरकर देखो ना’… फेम) मेरे गहरे मित्र थे। अब मैं अपने हर प्रोग्राम में यह गजल जरूर गाऊंगा, जो मदनजी के लिए श्रद्धांजलि होगी।’

सत्यम आनंद आज किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। क्लासिकल गायकी की दुनिया में वह एक बड़ा नाम बनकर उभर रहे हैं। गजल, भजन और भारतीय सुगम संगीत की नई पहचान बन चुके युवा गायक सत्यम आनंद जी से एक मुलाकात मुंबई में उनके घर पर हुई है। चर्चा चल रही होती है प्रियंका गांधी के एक ट्विटर पर लिखे गये ‘दुर्गा सप्तशती’ के श्लोक की। सत्यम कहते हैं- ‘अरे भाई वह यह मेरा गाया गाना सुनी थी, यह कैसे तय होगा? मैंने तो एक-एक शब्द बड़ा साफ और क्लीयर गाया है।’,  बता दें कि सत्यम आनंद ने ‘दुर्गा सप्तशती’ के पूरे 13 अध्याय गाये हैं। जो पिछले एक साल में बहुत चर्चित रहे हैं और नेट पर इस सप्तशती के करोड़ों व्यूअर्स-श्रोता हो चुके हैं।

सत्यम आनंदजी के अबतक हजारों स्टेज शो देश-विदेश में हो चुके हैं। भजन, गजल, बॉलीवुड सॉन्ग के साथ ही कंपोजिंग पर उनकी जो पकड़ है, उसे सुनकर बड़े-बड़े धुरंधर संगीतज्ञ भी उनकी तारीफ करने से नहीं रूक पाते। मशहूर भजन गायक अनूप जलोटा को वह अपना गुरू मानते हैं।

गायक बनने की शुरूआत कहां से कैसे हुई ?

बचपन से ही। सात साल की उम्र से संगीत में रूचि होने लगी थी। भागलपुर में, मैं अपनी मां के साथ गाने में रूचि लेने लगा था। मां लोक गायिका हैं। जब बड़ा हुआ.. अनूपजी का एक प्रोग्राम वहां हुआ था। उनकी गायी हुई लाइने मेरे मन में बैठ गई- ‘दुख में मत घबराना पक्षी…’। मैंने उनकी तरह ही गाना शुरू किया और कह सकते हैं कि वह मेरे एकलव्य के गुरू जैसे गुरू हैं। एकलव्य से उनके गुरू ने अंगूठा मांगा था, अनूप जी ने मुझे अपने साथ अपने प्रोग्रामों में गवाया है। वैसे, अनूप जी के अलावा जगजीत सिंह, मेंहदी हसन, गुलाम अली इन सभी की गायन शैली से मैंने सीखा है। टी-सीरीज से पहला एलबम निकला था। फिर स्थानीय गायकी से पूरे देश के शहरों में और विदेशों में मेरे कन्सर्ट होते चले गये। सैकड़ों भजन और गजल के एलबम आए। तमाम गीत गाने और पॉपुलैरिटी के ग्राफ के बढ़ते जाने से मुझे महसूस हुआ है कि भारतीय सुगम संगीत, गजल, भजन की विद्या अमिट है। आज विदेश में युवा हमारे गीतों को सुनना पसंद कर रहे हैं।’ वह हंसते हैं। ‘और हमारे यहां उल्टा हो गया है। पर सब अपने रूट की ओर ही लौटेंगे।’

सत्यम आनंदजी की ज्यादा सुनी जाने वाली गजल की लाइनें हैं- ‘बहुत खूबसूरत हो तुम’, ‘हाथ पकड़ कर रेत पे चलना’, ‘जमाने का अगर डर था’, ‘ये आंचल का मतला, ये पायल का मकता’, ‘जब सफर की कभी बात हो’। इसी तरह उनके भजन हैं- ‘एक नाम सुना है कृष्णा कृष्णा’, ‘जिसके जप तप से मिलता है’, ‘तेरा नाम बड़ा है’, ‘मेरे साईं सहारा है तू’, ‘माई के अंगना’, ‘दुर्गा सप्तशती’, ‘हे श्याम मुझे अपना ले’ आदि।

 ‘ऐसा नहीं है कि मैं सिर्फ भजन और गजल तक ही हूं।’ वह कहते हैं। बॉलीवुड म्यूजिक के लिए भी मैं काम कर रहा हूं गाता हूं। इस वेलेन्टाइन डे के मौके पर मेरा गाया कंपोज किया एक बॉलीवुड- एलबम ‘तेरे मेरे दरमियां’ रिलीज होने वाला है। ‘नैना रे नैना रे’, ‘तेरे बिना मेरे यारा’, ‘ओ मेरे हमसफर जरा सी बात पर’ ‘खामोश धड़कनों में तेरा फसाना मिला’, ‘लेके आये हैं हम देश की खुशबू…’ जैसे बॉलीवुड टाइप के गाने भी खूब सुने जाते हैं।’

सत्यम बताते हैं- ‘अगले दो महीनों में मेरे दस से बारह कंसर्ट लंदन, आयरलैंड और दूसरे विदेशी शहरों में बुक हैं जहां लोग मुझसे हर टाइप के गाने सुनना चाहते हैं। किन्तु लाइट क्लासिकल गानों की अपनी ही बात है।’

सत्यम आनंदजी की एक पहचान कार्पोरेट गायक की भी है। ग्लोरियस इवेंट, लार्सेन एंड ट्यूबरों इवेंट, सोनपुर मेला, उड़ीसा- ग्रैंड इवेंट के वह पसंदीदा गायको में एक हैं। कोशी महोत्सव, मंदार महोत्सव, विक्रमाशील महोत्सव, भागलपुर महोत्सव, चंपारण महोत्सव जैसे संगीत उत्सवों में उनकी मांग सर्वाधिक रहती है। वह बताते हैं- ‘आनंद आता है मुझे भी गाते हुए जहां आयोजक और मेहमान श्रद्धेय होते हैं। जैसे- उड़ीसा के ग्रैंड इवेंट में माननीय मंत्री नाना किशोरदास जी और विष्णु पुरिया ट्रस्ट के लोगों द्वारा मिले सम्मान से मैं आहलादित हुआ! इंडियन रेड कांगे्रस का उत्सव, जो सांस्कृतिक मंत्रालय के सहयोग से गत दिनों पटना में सम्पन्न हुआ, मैं उनसे भी प्रभावित हुआ। वे लोग और दूसरे लोग जो भारतीय म्यूजिक को जानते पहचानते हैं… मैं उन सबसे बहुत प्रभावित हूं। मैं चाहता हूं पूरी दुनियां में भारतीय- संगीत की धूम मचे।’

और पढ़े: Army Day: इन 10 एक्टर्स ने आर्मी वर्दी पहन कर जीता करोंडो लोगों का दिल

The post क्लासिकल गायन की दुनिया में एक बड़ा नाम बन गये हैं..सत्यम आनंदजी appeared first on Mayapuri.

]]>
https://mayapuri.com/mesmerising-romantic-soulful-ghazal-by-satyam-anandjee/feed/ 0 225577
‘अच्छे कंटेंट और कैरेक्टर की जरूरत है’- सोनाली सहगल https://mayapuri.com/sonnalli-seygall-talks-about-her-upcoming-film-jai-mummy-di/ https://mayapuri.com/sonnalli-seygall-talks-about-her-upcoming-film-jai-mummy-di/#respond Mon, 06 Jan 2020 06:17:28 +0000 https://mayapuri.com/?p=224563

‘सोनू की टीटू की स्वीटी’ जैसी सुपरहिट फिल्म में अहम भूमिका निभाने वाले सनी सिंह और प्यार का पंचनामा फिल्म से पॉपुलर हुईं एक्ट्रेस सोनाली सहगल एक साथ फिल्म ‘जय मम्मी दी’में जल्द ही दिखाई देने वाले हैं। सोनाली सहगल ने अपने कॅरियर की शुरुआत मॉडलिंग से की थी। उन्हें हिंदी सिनेमा मे आने का […]

The post ‘अच्छे कंटेंट और कैरेक्टर की जरूरत है’- सोनाली सहगल appeared first on Mayapuri.

]]>

‘सोनू की टीटू की स्वीटी’ जैसी सुपरहिट फिल्म में अहम भूमिका निभाने वाले सनी सिंह और प्यार का पंचनामा फिल्म से पॉपुलर हुईं एक्ट्रेस सोनाली सहगल एक साथ फिल्म ‘जय मम्मी दी’में जल्द ही दिखाई देने वाले हैं। सोनाली सहगल ने अपने कॅरियर की शुरुआत मॉडलिंग से की थी। उन्हें हिंदी सिनेमा मे आने का पहला मौका लव रंजन की फिल्म प्यार का पंचनामा से मिला। इस फिल्म में उन्होंने रिया की भूमिका की थी। फिल्मों के अलावा वह पाश्र्व गायक आतिफ असलम के वीडियो प्रेम में भी नजर आ चुकी हैं। वह कई रियलिटी में बतौर शो प्रस्तोता के तौर पर भी नजर आतीं रही हैं। जय मम्मी दी फिल्म से पहले सोनाली सनी सिंह के एक साथ फिल्म प्यार का पंचनामा 2 में नजर आ चुके हैं। एक बार फिर से सनी सिंह और सोनाली सहगल की जोड़ी को फैंस बड़े पर्दे पर देखने के लिए काफी उत्साहित नजर आ रहे हैं।

इस बारे में बात करते हुए सोनाली ने बताया कि जय मम्मी दी एक कॉमेडी और मनोरंजक पारिवारिक फिल्म है। सोनू के टीटू की स्वीटी और बधाई हो जैसी फिल्मों को मिली अपार सफलता के बाद ये कहना बिलकुल भी गलत नहीं होगा कि दर्शको को ऐसी फिल्में पसंद आ रही है। फिल्म में मम्मियों की पाॅवर दिखाई गई है।

पहली फिल्म के बाद अब तक की जर्नी को लेकर क्या कहेंगी? इस सवाल पर सोनाली कहती हैं कि मैंने इस बारे में कभी ज्यादा सोचा भी नहीं। मुझे तो यह भी नहीं पता कि फिल्म का बिजनेस क्या होता है। मैं तो बस इतना समझती थी कि मुझे जो कैरेक्टर निभाना है, वो लोगों को पसंद आये। इस फिल्म के अपने कैरेक्टर के लिये भी मैंने रिस्क लिया। इस फिल्म में मेरा दिल्ली की देसी गर्ल वाला लुक है। हालांकि मेरा यह लुक आपको चैंकने पर मजबूर कर देगा। इसमें मेरा सांझ नाम की लड़की का कैरेक्टर है। मैं शुरू से ही यह चाहती थी कि मुझे इस तरह की फिल्में मिलें।

इस फिल्म में मदर को इतना पाॅवरफुल दिखाने का क्या रीज़न है? जवाब में सोनाली कहती हैं कि कई बार रीज़न कुछ नहीं होता। छोटी-सी बड़ी बन जाती है। दिल्ली की सांझ मुंहफट है, किसी से नहीं डरती लेकिन अपनी मम्मी की आगे मैं चुहिया बन जाती हूं। मैं अपनी रियल मम्मी से आज भी डरती हूं। ये मेरा उनके प्रति सम्मान है। आपने अपनी मदर से अब तक क्या सीखना? पूछने पर सोनाली कहती हैं कि मम्मी अमेज़िंग पर्सन हैं। इंसान अच्छा है तो उसके साथ एसोसिएशन में मज़ा आता है। वो मेरे काम को इज़ी बना देती हैं। पूनम ढिल्लन और सुप्रिया पाठक के साथ काम करने का एक्सपीरिएंस क्या रहा, जिन्होंने मम्मी का कैरेक्टर प्ले किया है? इस सवाल पर सोनाली कहती हैं कि उन्हें मेकअप से लेकर ड्रेस तक हर चीज़ की अच्छी तरह जानकारी है। कई बार मेकअप में कुछ कमी आ जाती, तो वो मुझे तुरंत बता देती थीं कि क्या कमी रह गई है। रही बात सुप्रिया जी की, तो एक्टिंग उनके खून में है। उन्हें शोज़ देखने का काफी शौक है। मेरा उनके साथ फार्मल रिलेशन रहा। उनसे कुछ न कुछ सीखती रही। सनी सिंह के बारे में क्या कहना चाहेंगी जिनके साथ आप दूसरी बार आ रही हैं? इस सवाल पर सनी कहती हैं कि रोमांटिक सीन में हमारी कैमिस्ट्री काफी अच्छी रही है। काॅमेेडी में उनका कम्फर्ट लेवल है। उनकी पंजाबी काफी अच्छी है। 2014 से हम साथ में काम कर रहे हैं इसलिये उनके साथ रिलेशन कापफी हेल्दी हैं। मेरी मम्मी उन्हें बहुत पसंद करती हैं। वेब सीरीज़ में काम करने के सवाल पर सोनाली कहती हैं कि मुझे आॅफर तो मिले, जरूर करूंगी लेकिन कैरेक्टर और काॅन्टेंट अच्छा होना चाहिये ।सोनाली ने कहा कि अब जब ग्लैमरस किरदार निभाने का मौका चला गया है तो मैं उम्मीद कर रहीं हूं कि मुझे ऐसा किरदार निभाने का मौका मिले जिसमें मैं अपने अभिनय की क्षमताएं दिखा सकूं। उन्होंने बताया कि उनके पास कई दिलचस्प कहानियों के ऑफर हैं लेकिन ऐसे समय में वह सोच-समझकर ही कदम आगे बढ़ा रही हैं।

और पढ़े: बिकिनी पहन सेंटा बनी सोनाली सहगल, लोगों ने पूछा ठंड नही लग रही

The post ‘अच्छे कंटेंट और कैरेक्टर की जरूरत है’- सोनाली सहगल appeared first on Mayapuri.

]]>
https://mayapuri.com/sonnalli-seygall-talks-about-her-upcoming-film-jai-mummy-di/feed/ 0 224563
‘एक्शन-कॉमेडी करना चाहता हूं’- सनी सिंह https://mayapuri.com/sunny-singh-talks-about-his-upcoming-film-jai-mummy-di/ https://mayapuri.com/sunny-singh-talks-about-his-upcoming-film-jai-mummy-di/#respond Mon, 06 Jan 2020 06:02:47 +0000 https://mayapuri.com/?p=224559 सनी सिंह

मनोरंजन जगत में एकता कपूर की खोज माने जाने वाले अभिनेता सनी सिंह अपने कॅरियर की पहली लीड रोल वाली फिल्म उजड़ा चमन के साथ दर्शकों की प्रशंसा बटोर रहे हैं। ‘प्यार का पंचनामा’ और ‘सोनू के टीटू की स्वीटी’ जैसी हिट फिल्मों का हिस्सा रहे सनी सिंह अब अगली फिल्म जय मम्मी दी के […]

The post ‘एक्शन-कॉमेडी करना चाहता हूं’- सनी सिंह appeared first on Mayapuri.

]]>
सनी सिंह

मनोरंजन जगत में एकता कपूर की खोज माने जाने वाले अभिनेता सनी सिंह अपने कॅरियर की पहली लीड रोल वाली फिल्म उजड़ा चमन के साथ दर्शकों की प्रशंसा बटोर रहे हैं। ‘प्यार का पंचनामा’ और ‘सोनू के टीटू की स्वीटी’ जैसी हिट फिल्मों का हिस्सा रहे सनी सिंह अब अगली फिल्म जय मम्मी दी के प्रमोशन में व्यस्त हैं। उनसे जुड़े कुछ सवालः

पिछली फिल्म में आपका मुकाबला आयुष्मान खुराना के साथ था। कैसा अनुभव रहा इस मुकाबले का?

मुकाबला बन गया, हमने तो नहीं बनाया। पहली बार ऐसा हुआ है कि एक ही सब्जेक्ट पर दो फिल्में बनी हों लेकिन मुझे खुशी है कि दर्शकों ने मेरे काम की तारीफ की। सोहेल खान ने तो यह भी कहा कि इसमें आपने रियल रोल किया है। रही बात फिल्मों के बीच मुकाबले की, तो एक फिल्म सौ करोड़ क्रॉस कर लेती है और दूसरी इतना आगे नहीं बढ़ पाती। जब मुझे पता चला कि बाला का सब्जेक्ट भी लगभग एक जैसा ही है। शुरू में लगा कि ऐसा कैसे हो गया, लेकिन बाद में सब ठीक लगने लगा। आयुष्मान अपना रोल कर रहे हैं और मैं अपना. हम दोनों एक्टर हैं और अपना काम कर रहे हैं. मुझे आयुष्मान पसंद हैं और मैं उनकी एक्टिंग का फैन हूं। एक एक्टर के तौर पर भी मेरा आयुष्मान खुराना के साथ कोई मुकाबला नहीं है। आयुष्मान की अलग कैटेगिरी है और मेरी अलग। मैंने भी लगातार ग्रो किया है और आयुष्मान ने भी।

पंचनामा से स्वीटी… तक आपने कॉमेडी फिल्में की हैं लेकिन आपके किरदार को स्थिर ही रखा गया। ऐसा क्यों?

यही अच्छी बात है कि मुझे कूदने-फांदने वाले रोल नहीं मिले। मैंने अब तक रियल कॉमेडी ही की है। यहां ऐसा होता है कि अगर आप एक्शन फिल्म कर लो, तो आपको एक्शन फिल्में मिलने लगेंगी। रोमांटिक फिल्म हिट हो गई तो आप रोमांस के दायरे में कैद हो जाओगे लेकिन मेरे साथ ऐसा नहीं हुआ है। हर इंसान की डिफिकल्ट जर्नी होती है। लव जी की फिल्में करने के बाद मुझे ऐसे ऑफर आते चले गये कि मैंने तय कर लिया कि मुझे यह करना है।

किस तरह की फिल्में करना चाहते हैं?

मैं एक्शन-कॉमेडी फिल्म करना चाहता हूं जो फिल्म खिलाड़ी जैसी हो। थ्रिलर भी मज़ेदार है जो कनेक्ट नहीं हो पा रहा है। डर में जिस तरह का किरदार शाहरूख खान ने निभाया था, वो जबरदस्त था। मैं इंटेंस रोल भी करना चाहता हूं जैसे कार्तिक की फिल्म पति, पत्नी और वो में मेरा था। इसमें मेरा गेस्ट रोल था।

जय मम्मी दी क्या दिखाना चाहती है?

अपनी इस फिल्म के बारे में की ये खास बातचीत कि इसमें दो मम्मियों की कहानी और उनके बीच की नोकझोंक को दिलचस्प अंदाज़ में दिखाया गया है। ऐसे सीन्स फिल्म को मजेदार बनाते हैं। हमारे खुद के घरों में भी कई बार ऐसा होता है कि दो मम्मियां किसी भी मुद्दे पर लड़ने लगती हैं। शादियों में ऐसे दृष्य आम होते हैं। अब तक दर्शक कॉमेडी तो देखते आयेहैं लेकिन कॉमेडी का ये फैक्टर पहली बार देखेंगे।

आपके पापा भी फिल्मों से जुड़े रहे हैं। पापा की किन फिल्मों के शूट पर गये हैं?

मैं शर्मीला इंसान हूँ तो ज्यादा नहीं गया। मेरे दोस्त मुझे कहते हैं की मैं काफी सीधा हूँ। मैं विजयपथ की फिल्म की शूटिंग पर गया था। वहाँ सेट पर मैंने एक शेर के साथ फोटो भी खिंचाई थी। मेरे पापा एक्शन कहते थे जो मुझे याद है।

अजय देवगन के परिवार के साथ भी आपके अच्छे संबंध हैं। अजय देवगन के बारे में क्या कहना चाहेंगे?

मैं उन्हें भैया कहकर बुलाता हूँ। उनसे सीखने को बहुत कुछ मिलता है। उनके साथ मेरा पारिवारिक रिश्ता रहा है। वे मेरे लिए प्रेरणा भी हैं। घर आना-जाना है। वे बहुत ही अच्छे इंसान हैं।

लव रंजन की फिल्मों में आपने खुद को साबित किया। उनके बारे में क्या कहना चाहेंगे?

वो परफेक्ट और करेक्ट निर्माता-निर्देशक हैं। उनकी एक-एक बात इतनी परफेक्ट होती है कि पूछो मत। अपनी टीम के लिये वो मेहनत करते हैं।

आपने फिल्म ‘पति, पत्नी और वो’ में कैमियो करना क्यों स्वीकार किया?

कार्तिक के साथ दोस्ती की वजह से मैंने ऐसा किया। जब उन्होंने फोन किया और मुझसे पूछा कि क्या मैं एक विशेष उपस्थिति कर सकता हूं, तो मैं न नहीं कह सका।

और पढ़े: अब एयरफोर्स ऑफिसर का रोल निभाएंगे अजय देवगन, फर्स्ट लुक हुआ रिलीज

The post ‘एक्शन-कॉमेडी करना चाहता हूं’- सनी सिंह appeared first on Mayapuri.

]]>
https://mayapuri.com/sunny-singh-talks-about-his-upcoming-film-jai-mummy-di/feed/ 0 224559
अब कुछ फनी स्क्रिप्ट का हिस्सा बनूँगी – काजोल https://mayapuri.com/kajol-talks-about-her-upcoming-film-tanhaji-the-unsung-warrior/ https://mayapuri.com/kajol-talks-about-her-upcoming-film-tanhaji-the-unsung-warrior/#respond Wed, 01 Jan 2020 07:28:18 +0000 https://mayapuri.com/?p=223996 काजोल

काजोल एवं अजय देवगन कई वर्षों बाद पीरियड बायोग्राफिकल एक्शन फिल्म,’ तान्हाजी द अनसंग वॉरियर  ‘ में एक साथ नजर आने वाले हैं। काजोल सावित्री बाई मालसुरे के किरदार में नजर आएंगी। रियल और रील पत्नी बनी काजोल को केवल एक ही बार अजय ने यह रोल करने की पेशकश की और उन्होंने  तुरंत  हामी भर दी। इस […]

The post अब कुछ फनी स्क्रिप्ट का हिस्सा बनूँगी – काजोल appeared first on Mayapuri.

]]>
काजोल

काजोल एवं अजय देवगन कई वर्षों बाद पीरियड बायोग्राफिकल एक्शन फिल्म,’ तान्हाजी द अनसंग वॉरियर  ‘ में एक साथ नजर आने वाले हैं। काजोल सावित्री बाई मालसुरे के किरदार में नजर आएंगी। रियल और रील पत्नी बनी काजोल को केवल एक ही बार अजय ने यह रोल करने की पेशकश की और उन्होंने  तुरंत  हामी भर दी। इस फिल्म के निर्देशक ओम राउत हैं।

“नववर्ष (2020) के इस हफ्ते में मैं यही  आशा करती हूँ कि  यह वर्ष हम सभी के लिए अद्भुत ,रोचक एवं लाभदायक रहे। बस इस वर्ष सभी मानव -मानवता को आगे बढ़ाये , चाहे वह किसी भी रंग का, धर्म का व्यक्ति हो बस मानवता को ही ऊपर रख सभी  से प्यार  करते हुए आगे बढ़े। यदि मानव, मानव को सपोर्ट  नहीं करेगा तो कौन आएगा एक दूसरे को आगे बढ़ाने। ” काजोल का नववर्ष के लिए सभी को मैसेज

पेश है काजोल के साथ लिपिका वर्मा की छोटी सी मुलाकात  

अजय के साथ वापस काम कर रही हैं क्या कहना चाहेंगी आप?

हम दोनों ने लगभग 19 फिल्मों में साथ काम किया है। काफी समय के बाद इस फिल्म ,”तान्हाजी द अनसंग वॉरियर   ‘में हम दोनों साथ नजर आएंगे. अच्छा लग रहा है। घर पर भी हमदोनों काम ही करते है। जब मैं अपना सीन करती हूँ तब वो मुझे कई बारी कहते हैं, ‘तुम को एक बार और यह सीन कर लेना चाहिए  ,क्योंकि तुम और अपना 50 % दे पाओगी।‘ ऐसे अच्छे  और बेहतरीन कलाकार के साथ  काम करके बेहद  मजा आया। दरअसल में आधे समय तो अजय निर्देशक  ही बने रहते हैं, और बाकि आधे समय अभिनेता।

बच्चों ने क्या कहां है इस फिल्म के बारे में?

बच्चे तो दोनों बेहद खुश है कि-हम दोनों [पति-पत्नी]  साथ में एक ही फिल्म में काम कर रहे हैं। उत्सुक भी है- फिल्म की रिलीज़ को लेकर। फिल्म देखने का इंतजार भी कर रहे  हैं। खेर वैसे भी मेरे बच्चे हमेशा मुझ  से यही  शिकायत करते हैं कि – मैं हमेशा रोने धोने का किरदार ही क्यों करती हूँ। चाहे वो फनी फिल्म ही क्यों न हो आखिर में मुझे रोना ही क्यों होता है ।  सो मैंने उन्हें ऐसा न करने का प्रॉमिस भी किया है। और यह भी कहा है कि अब कुछ फनी स्क्रिप्ट  का हिस्सा बनूँगी । 

सावित्री मालुसरे का किरदार कर रही हो  आप, इस बारे में क्या कहना है ?

सावित्री का पूरा सहयोग अपने पति तान्हाजी को  मिलता है। बतौर पत्नी वो बहुत क्लियर  है। उसे जो कुछ भी अपने पति के  लिए  करना है वो उस बात को लेकर अटल है। और उसके सपोर्ट के बिना वो कुछ कर नहीं पाते  हैं। 

फिल्म,”तान्हाजीमें आपने नऊवारी साड़ी पहनी  है और प्रोमोशन्स में भी ?

वैसे भी मुझे नऊवारी साड़ी बहुत सालों  बाद में पहनने  मिली है। यह साड़ी मैंने अपनी शादी पर पहनी थी। वह नथ वग़ैरा पहन कर बहुत अच्छा लगा। और हम सभी  महिलायें साड़ी में चाहे वो-जिस भी साइज या कलर की महिला हो, सभी साडी में खूबसूरत ही लगती है । मेरी माँ [तनूजा] ने जब पहली बार इस फिल्म के लिए मुझे नऊवारी साड़ी में देखा तो उन्होंने यही  कहा -” नऊवारी साड़ी में तुम बहुत खूबसूरत लग रही  हो.बिलकुल अपनी नानी  की तरह ही लग रही  हो। 

 काजोल के लिए स्टारडम के क्या मायने हैं ?

दरअसल में , मेरे  लिए स्टारडम एक जिम्मेदारी है। कभी कभी ओवररेटेड सा लगता है यह स्टारडम तो मुझे  .आज के इस मीडिया के युग में सेलिब्रिटी हर किसी के टच में हैं. उस समय से आज के समय में स्टारडम की परिभाषा  ही अलग हो गयी है। उस समय कोई भी  जिस हीरो या हीरोइन को पसंद करता और उसकी जो भी उम्र की छवि  उसके मस्तिष्क  में बैठ जाती ,वो हीरोइन उसे उतनी उम्र की ही लगती। लेकिन आज ऐसा नहीं  है। सब बदल गया है।

वह मिस्ट्री (जादू) भी नहीं रहा स्टारडम का ?

हाँ मुझे लगता है स्टारडम के जादू को बरकरार रखना चाहिए। पर आजकल ऑफस्क्रीन आपके फैंस  आपको कैसे देखते है ?आप उनके  कितने करीब है ? यह सब भी बहुत  मायने रखता है। पर हाँ ,बॉक्स ऑफिस पर भी आपकी हर फिल्म आपके दर्शकों से आपको कनेक्ट रखती है। सो उसके लिए आपको अपनी फिल्मों का बॉक्स ऑफिस  पर जादू  भी बरकरार रखना होगा ।

और पढ़े: देखिए अमीषा पटेल की बाथरुम में नहातेे हुए फोटो 

The post अब कुछ फनी स्क्रिप्ट का हिस्सा बनूँगी – काजोल appeared first on Mayapuri.

]]>
https://mayapuri.com/kajol-talks-about-her-upcoming-film-tanhaji-the-unsung-warrior/feed/ 0 223996
बॉलीवुड में डेब्यू के लिए मुझे ज्यादा स्ट्रगल नहीं करना पड़ा- रीवा किशन https://mayapuri.com/riva-kishan-talks-about-her-debut-film-sab-kushal-mangal/ https://mayapuri.com/riva-kishan-talks-about-her-debut-film-sab-kushal-mangal/#respond Tue, 31 Dec 2019 08:10:35 +0000 https://mayapuri.com/?p=223856 रीवा किशन

रीवा किशन के साथ लिपिका वर्मा की पेशकश   अभिनेता और नए नये बने राजनेता रवि किशन की बिटिया रीवा किशन   की फिल्म “सब कुशल मंगल ” जल्द ही नव-वर्षके आगमन पर सिनेमा घरो में प्रदर्शित होने को है।   नए कलाकार है -प्रियांक शर्मा और रीवा किशन।   रीवा किशन के साथ  लिपिका वर्मा की पेशकश  फिल्मों में आने […]

The post बॉलीवुड में डेब्यू के लिए मुझे ज्यादा स्ट्रगल नहीं करना पड़ा- रीवा किशन appeared first on Mayapuri.

]]>
रीवा किशन

रीवा किशन के साथ लिपिका वर्मा की पेशकश   अभिनेता और नए नये बने राजनेता रवि किशन की बिटिया रीवा किशन   की फिल्म “सब कुशल मंगल ” जल्द ही नव-वर्षके आगमन पर सिनेमा घरो में प्रदर्शित होने को है।   नए कलाकार है -प्रियांक शर्मा और रीवा किशन।  

रीवा किशन के साथ  लिपिका वर्मा की पेशकश 

फिल्मों में आने से पहले अभिनय सीखा है क्या आपने?

मैंने रंगमंच पर बैकस्टेज भी काम किया है। और मैंने  एक्टिंग का -एक शॉर्ट कोर्स लॉस एंजेलेस एवं लंदन  से भी पूर्ण किया है। मैंने हीबा शाह के साथ ,’ परिंदो की महफ़िल” नामक प्ले भी किया है। जब मुझे ,’ सब कुशल मंगल ” का ऑफर मिला तो मैं वापस मुंबई आ गयी।मैंने डांस भी सीखा है। जैसे ,” कत्थक डांस,,” भरतनाट्यम डांस” सालसा  डांस”  क्लासिकल हिप-हॉप इत्यादि

‘ सब कुशल मंगल आपको कैसे प्राप्त हुई?

मेरे  पिताश्री ने मुझे कॉल किया और यह सूचना दी कि उनके किसी मित्र -जिसने मेरी फोटोस निर्देशक  करन विश्वनाथ कश्यप जी को दिखलाई इस फिल्म के लिए,उन्हें मेरी फोटोस पसंद आ गई है.। मै तुरंत फ्लाइट पकड़ कर  फिल्म की तैयारियों के लिए मुंबई पहुँच गयी। अभिनय मेरा पहला शौक है। बचपन से मुझे एक्टिंग करना था।  मैंने और प्रियांक शर्मा दोनों ने ढेर सारी वर्क शॉप भी की है इस फिल्म के शरू होने से पहले। हम दोनों अपना फिल्मी सफर साथ में शुरु कर रहे है।

अभिनय शुरू से करना चाहती  थी ,आपका अभिनय स्त्रोत कौन रहा ?

जी जैसा कि मैंने कहा है मैं एक्टिंग हमेशा से करना चाहती थी। मैंने हमेशा से अपने पितश्री[रवि किशन] को हार्ड वर्क करते हुए देखा है।  मैं हमेशा से यही सोचती कि मेरे पिताजी ,हमेशा अपने काम के  प्रति कितने उत्साहित रहते है। अब जब कि मैंने फिल्मों में पदार्पण किया है,तब जाकर अब यह बात अच्छी तरह से  समझी हूँ कि अपने काम को लेकर –  कितना स्ट्रगल करना होता है.

अपने किरदार के  बारे में थोड़ा कुछ बतायें?

में इस फिल्म में माहिरा शर्मा नामक किरदार प्ले कर रहे हूँ। उसे सच्चे प्यार पर विश्वास होता। है। वह अपनी जिंदगी अपने हिसाब से निर्वाह करना चाहती  है। किंतु पारिवारिक एवं नैतिक मूल्यों से अनभिज्ञ नहीं है। इन मूल्यों को हमेशा साथ  लेकर चलती है वो.

फिल्मों में आने हेतु आपको कितना स्ट्रगल करना पड़ा?

हालांकि ,फिल्मों में पदार्पण करने हेतु ,मुझे ज्यादा स्ट्रगल नहीं करना पड़ा। पर हाँ अपने आप को मुझे साबित  जरूर करना होगा । यही  सबसे बड़ी चुनौती है मेरे लिए। पर मुझे यह बात मालूम है -आप सच्चाई से काम करते है तो आगे ही बढ़ते है। बस मैं अपने पितश्री की तरह हार्ड वॉर्क करती रहूंगी एक दिन तो सफलता मिलेगी ही?/

आगे कुछ सोच कर रीवा बोली,‘ मेरी  माँ का भी बहुत सहयोग रहा मुझे। दरअसल में मेरे दोनों माता-पिता के सपोर्ट से ही मैं यहाँ तक पहुँच पायी हूँ।

और पढ़े: क्या अथिया शेट्टी के लिए सुनील शेट्टी को पसंद है केएल राहुल ?

The post बॉलीवुड में डेब्यू के लिए मुझे ज्यादा स्ट्रगल नहीं करना पड़ा- रीवा किशन appeared first on Mayapuri.

]]>
https://mayapuri.com/riva-kishan-talks-about-her-debut-film-sab-kushal-mangal/feed/ 0 223856
पुरानी गैंग के साथ काम करके उत्साहित हूं- श्रद्धा कपूर https://mayapuri.com/shraddha-kapoor-talks-about-her-upcoming-film-street-dancer-3d/ https://mayapuri.com/shraddha-kapoor-talks-about-her-upcoming-film-street-dancer-3d/#respond Wed, 25 Dec 2019 07:01:54 +0000 https://mayapuri.com/?p=223056 श्रद्धा कपूर

श्रद्धा कपूर का करियर इस समय बुलंदी पर हैं। उनकी दो फिल्में साहो और छिछोरे बॉक्स ऑफिस पर काफी अच्छी रही हैं और श्रद्धा इनकी सफलता का मज़ा ले रही हैं। उनकी फिल्म स्त्री भी लोगों को काफी पसंद आई और फैंस ने उनकी एक्टिंग की काफी तारीफ भी की। इसमें कोई दोराय नहीं कि […]

The post पुरानी गैंग के साथ काम करके उत्साहित हूं- श्रद्धा कपूर appeared first on Mayapuri.

]]>
श्रद्धा कपूर

श्रद्धा कपूर का करियर इस समय बुलंदी पर हैं। उनकी दो फिल्में साहो और छिछोरे बॉक्स ऑफिस पर काफी अच्छी रही हैं और श्रद्धा इनकी सफलता का मज़ा ले रही हैं। उनकी फिल्म स्त्री भी लोगों को काफी पसंद आई और फैंस ने उनकी एक्टिंग की काफी तारीफ भी की। इसमें कोई दोराय नहीं कि श्रद्धा की लगातार हर फिल्म काफी अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं। बॉलीवुड में श्रद्धा कपूर काफी पॉपुलर स्टार भी बन चुकी हैं।

अगर हम बात करें स्ट्रीट डांसर 3 डी में श्रद्धा कपूर के लुक की, तो सामने आये इसके पोस्टर में श्रद्धा एक जालीदार नेट स्टॉकिंग्स और काले शॉर्ट्स के साथ हरे रंग के टॉप में काफी सेक्सी लग रहीं है। वो इस पोस्टर में हूप इयररिंग्स और ब्लैक कलर के बूट पहने नजर आ रही हैं। साथ ही श्रद्धा ने अपने बालों को मल्टीकोल हाईलाइट्स के साथ स्टाइल किया है। इस फिल्म में श्रद्धा कपूर शानदार तरीके से प्रस्तुत हो रही हैं। हालांकि उनसे पहले ऐसी चर्चा थी कि मेकर्स श्रद्धा की बजाय कैटरीना कैफ को ले रहे हैं, लेकिन अचानक हालात बदल गये और श्रद्धा ने कैटरीना की जगह ले ली। फिल्म के प्रमोशन के दौरान जब श्रद्धा कपूर से पूछा गया कि कैटरीना कैफ को रिप्लेस करने को लेकर आपके मन में किस तरह के विचार हैं क्योंकि आप इस फिल्म की ओरिजिनल चॉइस नहीं थी? जवाब में श्रद्धा कहती हैं कि नहीं ऐसा बिलकुल नहीं। इसके पीछे बहुत सारे कारण हो सकते हैं कि कैटरीना इस फिल्म में नहीं है। जैसे कि में खुद साइना नेहवाल की बायोपिक कई कारणों की वजह से नहीं कर पाई। आखिरकार, बाद में आपको यही लगता है कि इसी में आपकी खुशी है। मैं फिल्म स्ट्रीट डांसर 3डी को लेकर काफी उत्साहित हूं। मुझे डांस करना पसंद है। स्ट्रीट डांसर में पुरानी गैंग के साथ कम करके मैं काफी एक्साइटेड हूं। मैं इस फिल्म के लिये चुनी गई इसलिये मैं बहुत खुश हूं चाहे इसके पीछे कोई भी कारण रहा हो।

श्रद्धा ने इस बात का खुलासा भी किया कि जब वो साइना नेहवाल की बायोपिक के लिये ट्रेंनिंग कर रही थीं। तब उनके पास स्ट्रीट डांसर 3डी का ऑफर आया था। श्रद्धा ने कहा कि रेमो डिसूजा उनके गुरु हैं और वो उन्हें निराश नहीं करना चाहती थीं और इसी कारण उन्हें बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल की बायोपिक से हाथ पीछे खींचने पड़े। श्रद्धा कपूर हाल ही में साहो में एक्टर प्रभास के साथ और सुशांत सिंह राजपूत के साथ फिल्म छिछोरे में दिखाई दी थीं। श्रद्धा की इन हालिया रिलीज हुई दोनों ही फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर 100 करोड़ रुपये ज्यादा की कमाई की है और अब इंतज़ार है स्ट्रीट डांसर 3डी का।

अब खबर आ रही है कि लंबे इंतजार के बाद आखिरकार लव रंजन ने अपनी अलगी फिल्म की घोषणा कर ही दी। इसी के साथ ही लव रंजन ने इस फिल्म की स्टारकास्ट को भी फाइनल कर दिया है। लव रंजन ने सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी इस फिल्म के बारे में जानकारी दी है। इस फिल्म में रणबीर कपूर के साथ श्रद्धा कपूर की जोड़ी पहली बार बड़े परदे पर दिखाई देगी।

और पढ़े: 45 साल के इस एक्टर के साथ जोड़ा गया नाम, अब बचपन के दोस्त संग करेंगी शादी

The post पुरानी गैंग के साथ काम करके उत्साहित हूं- श्रद्धा कपूर appeared first on Mayapuri.

]]>
https://mayapuri.com/shraddha-kapoor-talks-about-her-upcoming-film-street-dancer-3d/feed/ 0 223056
मेरे लिए स्पेशल फिल्म हैं तान्हाजी- द अनसंग वॉरियर- अजय देवगन https://mayapuri.com/tanaji-the-unsung-warrior-is-a-special-film-to-me-ajay-devgn/ https://mayapuri.com/tanaji-the-unsung-warrior-is-a-special-film-to-me-ajay-devgn/#respond Tue, 17 Dec 2019 05:26:28 +0000 https://mayapuri.com/?p=222107 अजय देवगन

तान्हाजी- द अनसंग वॉरियर में आपका क्या किरदार है? ‌मैं इसमें छत्रपति शिवाजी के सेनापति तान्हाजी मालुसरे का किरदार निभा रहा हूं। इस फिल्म में अपनी पत्नी काजोल के साथ काम करने का अनुभव कैसा रहा? काजोल के साथ एक बार फिर से काम करना ऐसा लग रहा था जैसे मैं घर पर ही हूं […]

The post मेरे लिए स्पेशल फिल्म हैं तान्हाजी- द अनसंग वॉरियर- अजय देवगन appeared first on Mayapuri.

]]>
अजय देवगन

तान्हाजी- द अनसंग वॉरियर में आपका क्या किरदार है?

‌मैं इसमें छत्रपति शिवाजी के सेनापति तान्हाजी मालुसरे का किरदार निभा रहा हूं।

इस फिल्म में अपनी पत्नी काजोल के साथ काम करने का अनुभव कैसा रहा?

काजोल के साथ एक बार फिर से काम करना ऐसा लग रहा था जैसे मैं घर पर ही हूं । तान्हाजी मेरी 100वीं  फिल्म हैं। हम सबके सामने भी एक दूसरे से वैसे ही व्यवहार करते थे जैसे हम घर पर करते हैं तो मेरे लिए कुछ अलग नहीं था.

आपने और काजोल ने साथ में कई फिल्मों में काम किया है इस बार साथ काम करने का अनुभव अलग कैसे था?

मैंने और काजोल ने प्यार तो होना ही था, दिल क्या करें और यू मी और हम में साथ काम किया है । तान्हाजी में मैं एक साहसी मराठा मिलिट्री लीडर तानाजी मलूसरे का किरदार निभा रहा हूं वहीं काजोल ने मेरी पत्नी सावित्रीबाई मालुसरे का किरदार निभाया है। तो घर पर और सेट पर ऐसा कोई अंतर ही नहीं था (हंसते हुए) .

अजय देवगन

तान्हाजी आप की 100वीं फिल्म है, इसके बारे में आप क्या कहेंगे?

100वीं फिल्म के साथ-साथ यह मेरे लिए इसलिए भी स्पेशल है क्योंकि इसमें मैं एक ऐतिहासिक किरदार निभा रहा हूं । जब आप किसी ऐतिहासिक किरदार को निभाते हैं तो  आपकी ये जिम्मेदारी होती है कि आप उस किरदार को गलत तरीके से ना दिखाएं।

कैसा यह सच है कि फिल्म में बहुत  भारी  स्टंट्स दिखाई गई है?

इस फिल्म की शूटिंग के दौरान मुझे बहुत बार चोट लगी है। अभी भी मेरे पैर में चोट है।

तान्हाजी में सैफ अली खान भी हैं, आप क्या कहना चाहेंगे इसके बारे में?

सैफ फिल्में उदय भान का किरदार निभा रहे हैं मैंने उन्हें 1999 में सैफ के साथ ‘कच्चे धागे’ किए थे । फिर हमने 2006 में ओमकारा किया। दुर्भाग्यवश हमें जितना काम करना चाहिए साथ में उतना काम नहीं किया है। तानाजी में सैफ के जैसे ही पर्सनैलिटी के इंसान की जरूरत थी। मुझे लगता है सैफ इस किरदार के लिए परफेक्ट है। मैं अपने को एक्टर्स के साथ काम करके बहुत एंजॉय करता हूं। मैं बस तान्हाजी के रिलीज होने का इंतजार कर रहा हूं।

अजय देवगन

तान्हाजी – द अनसंग वॉरियर आपकी 100वीं फिल्म है। एक अभिनेता के तौर पर इस इंडस्ट्री में आप का एक्सपीरियंस कैसा रहा?

सच कहूं तो मुझे ऐसा लग रहा था कि तान्हाजी मेरी पहली फिल्म है,  बस इसमें दो जीरो और जुड़ गए हैं। मैं अब भी उतना ही नर्वस हूं, जितना अपनी पहली फिल्म ‘फूल और कांटे’ के रिलीज के वक्त था। आपको पता होगा क्योंकि आप वहीं पर थे सन एंड सैंड में जहां मेरी पहली फिल्म की उद्घोषणा की पार्टी रखी गई थी। एक अभिनेता के तौर पर मैं हर फिल्म में बराबर मेहनत करता हूं। यह नर्वसनेस सब में एक ही जैसा होता है चाहे वो आपकी कोई भी फिल्म क्यों ना हो। अगर मुझे अपनी फिल्मों की यात्रा को एक शब्द में बयां करना होगा तो मैं कहूंगा संतुष्टि। जब मैं अपनी पहली फिल्म कर रहा था तो मुझे यह भी नहीं लग रहा था कि वो पूरी होगी पर अब तो 99 फिल्में और बन गए हैं।

अजय देवगन

जब आप अपने करियर में पीछे मुड़कर देखते हैं तो कैसा महसूस होता है?

जब आप काम करते हैं तो आप प्रतिदिन कुछ ना कुछ सीखते हैं, आप अपनी गलतियों से सीखते हैं, दूसरों की गलतियों से सीखते हैं। आप हर फिल्म, हर किरदार से कुछ न कुछ सीखते हैं और मैंने इतने दिनों में जो सीखा है वह यह है कि अपने काम के प्रति ईमानदार रहो और सबसे महत्वपूर्ण बात अपने काम से मतलब रखो। अपने काम से प्यार करना बहुत जरूरी है।

भावी एक्टर्स को आप क्या कहना चाहेंगे?

सबसे पहले उनको यह निर्णय लेना होगा कि उन्हें स्टार बनना है या एक्टर बनना है। अगर आपको एक्टर बनना है तो आपका डेडीकेशन और आपकी प्रतिभा काफी है। पर यदि स्टार बनना है तो आपको पब्लिक रिलेशन पर ध्यान देना होगा, पार्टीज में जाना होगा सही समय पर सही वक्त पर दिखना बहुत जरूरी होता है इसके लिए। एक एक्टर स्टार बन सकता है पर यदि आप सिर्फ स्टार बनने पर ध्यान देंगे तो शायद आप एक्टर ना बन पाएं।

अजय देवगन

जब फिल्म के निर्देशक ओम राउत ने आपको स्क्रिप्ट सुनाई तो आपका पहले रिएक्शन क्या था?

जब डायरेक्टर ने मुझे यह स्क्रिप्ट सुनाई तो मुझे लगा कि तान्हाजी के बलिदान के बारे में पूरी दुनिया को बताना जरूरी है। ऐसे कई हिरोस हैं जिनके बारे में सबको नहीं पता। मुझे लगता है कि स्कूल में जो हमने उनके बारे में दो पैराग्राफ पढ़ा है सिर्फ वही पढ लेने से उनके साथ न्याय नहीं होगा। वो अच्छे से जानने के योग्य है। तान्हाजी जी की तरह बहुत से ऐसे हीरोस है जिनके बारे में हम नहीं जानते हैं। इस फिल्म से हम ऐसे ही हीरोज की कहानियों को दिखाने की शुरुआत कर रहे हैं।

आप पर यह इल्जाम लगाया जा रहा है कि आपने तान्हा जी में इतिहास को गलत दिखाया है इसके बारे में आप क्या कहना चाहेंगे?

देश में ऐसे बहुत से लोग हैं  जिन्होंने बस ट्रेलर देखा और निर्णय पर पहुंच गए। हमने ट्रेलर में बहुत कुछ नहीं दिखाया है और सिर्फ ट्रेलर देखकर फिल्म के बारे में कुछ भी सोच लेना गलत है। हमने जो कुछ भी फिल्म में दिखाया है वह औथेंटिक है, इतिहासकारों से विचार-विमर्श करके दिखाया गया है। फिल्म को मनोरंजक बनाने के लिए सिनेमैटिक लिबर्टिस का प्रयोग किया है,  पर उससे किसी के भाव को ठेस नहीं पहुंचेगा।

अजय देवगन

आपने बोनी कपूर की फिल्म ‘मैदान’ की शूटिंग की  कोलकाता में। शूटिंग का एक्सपीरियंस कैसा रहा?

मैंने रेनकोट और युवा की शूटिंग भी कोलकाता में  की थी और मैं एक लंबे समय बाद अब मैदान की शूटिंग कहां कर रहा हूं। मैं काफी लंबे वक्त से कोलकाता में शूटिंग करने का इंतजार कर रहा था। मैं यह जरूर कहूंगा कि 10 दिन जो मैंने मैदान की शूटिंग की है कोलकाता में , इस दौरान मैंने इतनी मिठाईयां खाई है  कि मेरा 4 किलो वजन बढ़ चुका है।

अजय देवगन

‘मैदान’ में सैयद अब्दुल रहीम का किरदार निभाना कैसा रहा?

तान्हा जी की तरह मुझे लगता है सैयद अब्दुल रहीम भी एक हीरो हैं जिनके बारे में लोग ज्यादा नहीं जानते। सैयद अब्दुल रहीम आधुनिक भारतीय फुटबॉल के आर्किटेक्ट है। जब वो भारतीय फुटबॉल टीम के मैनेजर और कोच थे तब हमारी टीम को ‘ब्राजील ऑफ एशिया’ का जाता था। आज के जनरेशन को इस बारे में कुछ नहीं पता। जब फिल्म के मेकर्स ने मुझे बताया था तो मुझे भी यह सारी बातें झूठी लग रही थी पर फ़िर मैंने उनके बारे में गूगल किया, पढ़ा और तब मैंने महसूस किया कि एक-एक शब्द उनके बारे में सच है।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

The post मेरे लिए स्पेशल फिल्म हैं तान्हाजी- द अनसंग वॉरियर- अजय देवगन appeared first on Mayapuri.

]]>
https://mayapuri.com/tanaji-the-unsung-warrior-is-a-special-film-to-me-ajay-devgn/feed/ 0 222107
बचपन से बच्चन सर के साथ काम करने की ख्वाहिश थी- इमरान हाशमी https://mayapuri.com/emraan-hashmi-vedika-singh-talks-about-his-film-the-body/ https://mayapuri.com/emraan-hashmi-vedika-singh-talks-about-his-film-the-body/#respond Thu, 12 Dec 2019 10:42:55 +0000 https://mayapuri.com/?p=221204 इमरान हाशमी

इस मूवी का टाइटल ‘द बॉडी’ क्यों रखा गया? क्योंकि हमें कोई दूसरा नाम नहीं मिला इसलिए ( हंसते हुए). क्योंकि फिल्म की कहानी यहीं से शुरू होती है। बॉडी शवगृह से गायब हो जाती है। फिर इन्वेस्टिगेशन शुरू होता है। तो इससे बेहतर नाम हमें नहीं मिला। इस फिल्म की यूएसपी क्या है? मुझे लगता है […]

The post बचपन से बच्चन सर के साथ काम करने की ख्वाहिश थी- इमरान हाशमी appeared first on Mayapuri.

]]>
इमरान हाशमी

इस मूवी का टाइटल ‘द बॉडी’ क्यों रखा गया?

क्योंकि हमें कोई दूसरा नाम नहीं मिला इसलिए ( हंसते हुए). क्योंकि फिल्म की कहानी यहीं से शुरू होती है। बॉडी शवगृह से गायब हो जाती है। फिर इन्वेस्टिगेशन शुरू होता है। तो इससे बेहतर नाम हमें नहीं मिला।

इस फिल्म की यूएसपी क्या है?

मुझे लगता है जो इस फिल्म का थ्रीलर और सस्पेंस एलिमेंट है, वो काफी बढ़िया है। ये एक  स्पानिश फिल्म की एडापटेशन है। ये एक मास्टरपीस थी। इस फिल्म में हर मोड़ पर कुछ नया खुलासा होगा और आपने जो गेस किया होगा वो अंत में गलत निकलेगा। इस फिल्म में 4 गाने हैं जो काफी बेहतरीन है। सबकी परफॉर्मेंसेस बहुत अच्छी है तो मुझे लगता है कि यही इस फिल्म की यूएसपी है।

आपका कोई ऐसा ड्रीम प्रोजेक्ट जो आपकी बकेट लिस्ट में हो कि आपको करना है?

इमरान हाशमी –  एयरफोर्स पायलट का किरदार निभाना था जो मैं अपनी आने वाली फिल्म में निभा रहा हूं ।  बचपन से बच्चन सर के साथ काम करने की ख्वाहिश थी तो यह भी ख्वाहिश पूरी हो गई मेरी । मेरा कुछ ऐसा नहीं होता कि मैं अब यही किरदार निभाऊंगा या इसी जौनर की फिल्म करूंगा। मैं डायरेक्टर और राइटर का काम के प्रति पैशन देखकर काम करता हूं।

वेदिका – डबल रोल करना मेरा सपना है क्योंकि बहुत चुनौतीपूर्ण होता है ये करना। अंदर ये एक इच्छा है और कहते हैं कि अगर सच्चे दिल से चाहो तो आपके सपने पूरे होते तो, एक दिन जरूर करूंगी डबल रोल वाले किरदार।

फिल्म में इतने इंटेंस रोल किए हैं आपने,  तो उसके लिए क्या प्रिपरेशंस की?

इमरान हाशमी – मैं तो डायलॉग याद करके इफेक्ट पर चला जाता था और डायरेक्टर किशन को समझ कर उसे हिसाब से काम करता था इतना कोई कॉम्प्लिकेटेड प्रोसेस नहीं रहा है मेरा पर हां फिल्मी शुरू हुई कुछ ऐसे थे जैसे एक सीने में राजा मैं पूरी रात चकरी में फंसा रहता हूं सारी दुनिया से कांटेक्ट पर कोलकाता रहता है और पूरी राधिका के कैरेक्टर से बात होती है तो यह थोड़ा मुश्किल सेंटर डायरेक्टर की मदद से हो गया।

वेदिका –  मैं पहली बार कोई ऐसा किरदार निभा रही हूं। इसमें मैं कॉलेज गर्ल बनी हूं जिसे अपने प्रोफेसर से प्यार हो जाता है। तो यह बहुत ही  कॉम्प्लिकेटेड लव सिचुएशन है। इमोशनली बहुत चैलेंजिंग किरदार था

फिजिकली और मेंटली बहुत डिमांडिंग किरदार था ये। फिल्म में अच्छे गाने है, मेरे लुक्स अच्छे हैं। तो मैंने फिल्म में  इंटेंस और  गर्ल नेक्स्ट डोर दोनों किरदार निभाया है।

‘द ग्रेट ऋषि कपूर’ के साथ काम करने का आपका एक्सपीरियंस कैसा रहा?

बहुत अच्छा रहा। मैं स्कूल के दिनों से उनका फैन रहा हूं और उनकी बहुत सी फिल्में देखी है। उनकी एक फिल्म थी जो ज्यादा सफल नहीं थी पर मुझे बहुत पसंद थी। फिल्म का नाम है ‘खोज’। ये एक थ्रिलर फिल्म थी। इसके अलावा ‘अमर अकबर एंथोनी’, ‘कर्ज’ मुझे बहुत पसंद रही है। ऋषि जी बहुत ही नेचुरल एक्टर है। जिस लगन के के साथ वो 4 दशक के बाद भी काम करते हैं, वो काफी प्रशंसनीय है। अभी भी वही पैशन है। काम में जुटे रहते हैं कि अच्छा काम हो। काफी जिंदादिल है वो। जो दिल में है वही जुबान पर है और मैं इसकी इज्जत करता हूं। वो फेक नहीं रिअल है। तो बहुत अच्छा रहा उनके साथ काम करना।

अपने फैंस को अपने अपकमिंग प्रोजेक्ट के बारे में बताएं के बारे अपकमिंग प्रोजेक्ट के बारे में बताएं के बारे में बताएं?

इमरान हाशमी – ‘चेहरे’ आने वाली है 24 अप्रैल को जिसमें मैं अमिताभ बच्चन अमिताभ बच्चन जी के साथ काम कर रहा हूं। और भी बहुत से मनोनीत कलाकार है इसमें जैसे रघुवीर यादव, अनु कपूर । एक एक्साइटिंग फिल्म है वायु सेना जो की बायोपिक है ,एयर फोर्स पर बेस्ड बेस्ड पर बेस्ड बेस्ड है। और एक और फिल्म कर रहा हूं मैं जो हॉरर फिल्म है ‘इजरा’ । तो फिलहाल मैं यही तीनों फिल्में कर रहा हूं।

वेदिका – मैं दो-तीन साउथ की फिल्में कर रही हूं। एक कन्नड़  में, एक के.एस.रवि कुमार के साथ तेलुगु में और एक हॉरर फिल्म तमिल और तेलुगु दोनों दोनों में।

अपने फैंस को क्या मैसेज देना चाहेंगे?

इमरान हाशमी –  यही कि हमारी फिल्म 13 दिसंबर को रिलीज होने वाली है तो प्लीज जाए देखें। बहुत ही अलग सी फिल्म है। मैं जब खुद कॉलेज में था तो ऐसी सस्पेंस वाली मुझे बहुत अच्छी लगती थी। तो मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि ऑडियंस को यह फिल्म बहुत पसंद आएगी।

वेदिका – हिंदी में ये  मेरी डेब्यू  फिल्म है। मैं फिल्म की  ज्यादा तारीफ नहीं करूंगी। मैं इस स्क्रिप्ट में बहुत यकीन करती हूं और इस फिल्म की प्लॉट बहुत अच्छी  हैं। फिल्म में बहुत लेयर्स हैं। लोग दो-तीन बार देखेंगे ये फिल्म। दर्शकों के लिए रोलर कोस्टर राइड की तरह होगी ये फिल्म। इसलिए थिएटर में अपनी पूरी फैमिली के साथ जाकर देखें ‘द बॉडी’।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

The post बचपन से बच्चन सर के साथ काम करने की ख्वाहिश थी- इमरान हाशमी appeared first on Mayapuri.

]]>
https://mayapuri.com/emraan-hashmi-vedika-singh-talks-about-his-film-the-body/feed/ 0 221204
सक्सेस से इंसान का दिमाग खराब नहीं होना चाहिए और फेलियर से डिप्रेशन नहीं आना चाहिए- सलमान खान https://mayapuri.com/success-se-insaan-ka-dimaag-kharab-nahi-hona-chahiye-aur-failure-se-depression-nahi-aana-chahiye-salman-khan-%e0%a4%b8%e0%a4%b2%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%a8-%e0%a4%96%e0%a4%be%e0%a4%a8/ https://mayapuri.com/success-se-insaan-ka-dimaag-kharab-nahi-hona-chahiye-aur-failure-se-depression-nahi-aana-chahiye-salman-khan-%e0%a4%b8%e0%a4%b2%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%a8-%e0%a4%96%e0%a4%be%e0%a4%a8/#respond Wed, 11 Dec 2019 11:03:10 +0000 https://mayapuri.com/?p=220933 सलमान खान

प्रभुदेवा द्वारा निर्देशित, सलमान खान, सोनाक्षी सिन्हा साउथ के सुपरस्टार सुदीप और डेब्युटेंट सईं मांजरेकर अभिनीत फिल्म ‘दबंग 3’ 20 दिसंबर 2019 को रिलीज होने वाली है। पेश है ‘दबंग 3’ के बारे में सलमान खान से खास बातचीत सलमान खान दबंग 3 फ्रेंचाइजी की तीसरी फिल्म लेकर आ रहे हैं तो आपने इसको किसी […]

The post सक्सेस से इंसान का दिमाग खराब नहीं होना चाहिए और फेलियर से डिप्रेशन नहीं आना चाहिए- सलमान खान appeared first on Mayapuri.

]]>
सलमान खान

प्रभुदेवा द्वारा निर्देशित, सलमान खान, सोनाक्षी सिन्हा साउथ के सुपरस्टार सुदीप और डेब्युटेंट सईं मांजरेकर अभिनीत फिल्म ‘दबंग 3’ 20 दिसंबर 2019 को रिलीज होने वाली है। पेश है ‘दबंग 3’ के बारे में सलमान खान से खास बातचीत

सलमान खान दबंग 3 फ्रेंचाइजी की तीसरी फिल्म लेकर आ रहे हैं तो आपने इसको किसी बड़े स्तर पर प्रमोट करने की योजना क्यों नहीं बनाई ?

मैं सोशल मीडिया पर फिल्म को प्रमोट कर रहा हूं।  मैं अपनी अगली फिल्म राधे की शूटिंग में बहुत व्यस्त हूं। मैं इस फिल्म की शूटिंग और मेरी रियलिटी शो बिग बॉस की शूटिंग से समय निकालकर इसका प्रमोशन भी कर रहा हूं। मेरी टीम का मानना हैं कि हम जितना कम फिल्म को प्रमोट करेंगे उतना ही लोगों के बीच फिल्म को लेकर जिज्ञासा बढ़ेगी।

क्या यह सच है कि आपके पिता और अनुभवी स्क्रीन राइटर सलीम खान ने जो आपकी हर काम की आलोचना करते हैं? उन्होंने आपको दबंग 3 के लिए चिंतित होने से मना किया है?

मेरे पिता मेरे फिल्मों को लेकर काफी क्रिटिकल रहते हैं। वो बहुत बार सीधा कह देते हैं कि फिल्म के बारे में भूल जाओ ,यह फिल्म अच्छी नहीं है। उन्होंने यही बात दबंग 3  के लिए भी कही पर सकारात्मक तरीके से।  उन्होंने कहा इस फिल्म को भूल जाओ,  स्ट्रेस मत लो । इस फिल्म की सफलता को अपने सर पर मत चढ़ने देना । अपनी अगली फिल्म के लिए हार्ड वर्क करना शुरू कर दो। यह मेरे और अरबाज के लिए बहुत ही बड़ा कॉम्पलीमेंट है.

क्या ये सच है कि आपने ‘दबंग 3’  को तमिल में भी डब किया है?

मैंने इस फिल्म के ट्रेलर को तमिल में डब किया था । मैंने वो डायरेक्टर प्रभुदेवा को दिखाया तो उन्होंने कहा कि, सर आप ये किस लैंग्वेज में बोल रहे हैं। उन्होंने कहा कि,  वो इसके लिए एक अच्छे  डबिंग आर्टिस्ट को हायर कर सकते हैं। तो मैंने कहा कि वो मुझे एक मौका दें, तो प्रभु ने कहा सर आप हिंदी के डबिंग पर ध्यान दें (हंसते हुए) । पर हां हिंदी के अलावा दबंग 3 तमिल, तेलुगु और कन्नड़ भाषा में भी रिलीज हो रही है।

‘दबंग 3’ से आप अपने मशहूर पुलिस अवतार चुलबुल पांडे में वापसी कर रहे हैं। इस फिल्म के गाने ‘हुड़ हुड़ दबंग’ पर जो कंट्रोवर्सी हो रही है, उसके बारे में क्या कहना चाहेंगे?

मुझे खुशी होती है जब लोग दबंग 3 को एक बड़ी फिल्म कहते हैं। जब मैंने बजरंगी भाईजान की थी उस वक्त इस फिल्म के टाइटल को लेकर कॉन्ट्रोवर्सी हुई थी, तो इस तरह की कॉन्ट्रोवर्सी हमारे इंडस्ट्री का हिस्सा है ।  मुझे नहीं लगता कि दबंग 3 में कुछ ऐसा है जिससे किसी को कोई दिक्कत हो या जिसकी वजह से कोई कॉन्ट्रोवर्सी बने।

सलमान खान
सलमान खान

क्या आप दूसरे प्रोड्यूसर्स के लिए भी आइटम बॉय के रूप में काम करेंगे क्योंकि आपने प्रभुदेवा के साथ ‘मुन्ना बदनाम’ आइटम नंबर किया है?

यह थोड़ा संदेहपूर्ण है। यह तभी होगा जब मैं फ्री में काम करना शुरू करूंगा (हंसते हुए ) ।हमने इस गाने को बर्बाद करने की कोशिश की थी असल में। हमने इसे इसके पहले वाले वर्जन से खराब बनाने की कोशिश की थी पर यह गलती से अच्छा बन गया। भगवान हमारे साथ हैं। दरअसल हम मुन्नी बदनाम हुई की कुछ कॉपी बनाना चाहते थे और अचानक 1:30 बजे रात में मैंने अरबाज खान को कॉल किया और कहा कि मेरे पास एक ‘तोड़’ है। वो बहुत एक्साइटेड होकर घर आया। मेरे साथ 1 घंटे बिताया उसने, मैंने उससे मुन्ना बदनाम हुआ की आईडीया दी। तो उसने मुझे गालियां दी और वापस घर चला गया।

क्या ये सच है कि आपने ‘दबंग 3’ का गाना ‘यू करके’ खुद गाया है?

‘यू करके’ गाना मेरे और सोनाक्षी सिन्हा पर पिक्चराइज किया गया है और यह हमारे आज के लव स्टोरी को दर्शाता है ।  यू करके बहुत ही स्पेशल है मेरे लिए क्योंकि मैंने ही इस गाने को गाया है और मेरे साथ पायल देव ने अपनी आवाज दी है। जब मैंने इस गाने को इंस्टाग्राम पर शेयर किया था तो मैंने लिखा था, ‘दबंग 3 का नया गाना यू करके सुनो हमारे यानी कि आप सभी के फेवरेट चुलबुल पांडे की आवाज में # यू करके सॉन्ग ‘।

क्या महेश मांजरेकर की बेटी सईं मांझरेकर भी इस फिल्म में आपके साथ रोमांटिक किरदार में दिखेंगी?

‘आवारा’ गाना पहले प्यार को दर्शाने वाला गाना है, जो चुलबुल पांडे की फ्लैशबैक स्टोरी का हिस्सा है। गाने को प्रभुदेवा ने पिक्चराइज किया है जिसमें युवा चुलबुल और उसके पहले प्यार खुशी यानी कि सईं मांजरेकर को दिखाया गया है।

यह सच है कि ‘दबंग 3 ‘के बाद आपकी अगली फिल्म होगी राधे – द मोस्ट वांटेड कॉप?

हांमुझे लगता है कि दबंग 3 के बाद मेरी अगली फिल्म राधे द मोस्ट वांटेड कॉप होगी जो अगले साल मेरे लकी त्योहार ईद पर रिलीज होगी।

अगला क्या ?क्या राधे के अलावा आप किक पर भी काम कर रहे हैं?

दबंग 3 की रिलीज के बाद मैं राधे द मोस्ट वांटेड कॉप पर अपना ध्यान केंद्रित करूंगा औरजब येब खत्म हो जाएगी तब मैं साजिद नाडियाडवाला की किक 2 पर काम करना शुरू करूंगा।

2015 में दिवाली पर आपकी फिल्म प्रेम रतन धन पायो रिलीज हुई थी, जो सूरज बड़जात्या की फिल्म थी तो अब आपकी अगली दिवाली रिलीज कौन सी फिल्म है?

जिस दिन सूरज बड़जात्या अगली फिल्म बनाएंगे वो दिवाली रिलीज होगी।

सलमान खान
सलमान खान

अपने दबंग 3 में हर डिपार्टमेंट संभाला है तो आप  दबंग 3 में एक ऑल राउंडर की तरह दिख रहे हैं, क्या यह सच है?

मैंने इस फिल्म की स्क्रिप्ट पर काम किया है इसलिए मैं चाहता हूं कि सभी क्रिटिक्स इसकी आलोचना करें। क्रिटिक्स के लिए ही ये फिल्म बनी है (हंसते हुए) . फिल्म की बुराई होगी तो सिर्फ मुंबई में नहीं बेंगलुरु, चेन्नई और पूरे देश में होगी,  पर यदी इसकी तारीफ होगी तो वो भी पूरे देश में होगी।

क्या ये आपकी कोई स्ट्रेटजी है कि आप साउथ की हिट फिल्में वांटेड, रेडी ,बॉडीगार्ड और किक की रीमेक में काम करते हैं?

यह बस एक खुशनुमा संयोग है कि मेरी तीन फिल्में साउथ की रीमेक रही है- वांटेड, रेडी और बॉडीगार्ड। एक था टाइगर और दबंग साउथ की रीमेक फिल्में नहीं है। इसमें मेरी कोई स्ट्रेटजी नहीं है।

हिट और फ्लॉप के बारे में आप क्या सोचते हैं?

एक इंसान के तौर पर मैं नहीं बदलता फिर चाहे फिल्म बॉक्स ऑफिस पर हिट हो या फ्लॉप। मुझे लोग लकी मैस्कॉट कहते हैं क्योंकि मेरी फिल्में एक के बाद एक अच्छी कमाई कर रही है। पर एक ऐसा समय भी था जब मेरी फिल्में नहीं चलती थी, पर मैं उस वक्त परेशान नहीं हुआ और मैंने सिर्फ अच्छे समय का इंतजार किया। मेरा हमेशा से यह मानना है कि सक्सेस से  इंसान का दिमाग खराब नहीं होना चाहिए और फेलर से डिप्रेशन नहीं आना चाहिए।

एक अभिनेता के तौर पर सबसे बड़ी चुनौती आपको क्या फेस करनी पड़ी?

जब मैंने ‘मैंने प्यार किया’ से डेब्यू किया था तो मुझे हर तेरी तरफ से प्रशंसा मिली थी। मैंने 30 साल पहले ‘बीवी हो तो ऐसी’ में छोटा सा कैमियो रोल किया था। आज जब मैं 53 साल का हूं तो आज मुझे उस वक्त से 10 गुना ज्यादा बेहतर काम करना है, जो मैं 22 साल पहले करता था। जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है आपको उतना ही बेहतर काम करना होता है, चाहे आप एक्टर हो या डायरेक्टर।

सलमान खान
सलमान खान

आपके दोनों भाई सोहेल खान और अरबाज खान ने डायरेक्शन की कमान संभाली है। आप कब डायरेक्टर बनने वाला हैं?

यह सच है कि मुझे फिल्म के सभी विभाग में इंटरेस्ट है एक्टिंग हो म्यूजिक हो या एक्शन सीक्वेंस पर मुझे लगता है कि मैं अभी शीप का कैप्टन बनने के लिए पूरी तरह से तैयार नहीं हूं। मैं अभी डायरेक्शन में हाथ नहीं आजमाना चाहता। मेरे बहुत से कलीग्स जैसे सनी देओल, अजय देवगन, आमिर खान ने यह कमान संभाली है पर फिर मेरे में अभी थोड़ा वक्त है ।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

The post सक्सेस से इंसान का दिमाग खराब नहीं होना चाहिए और फेलियर से डिप्रेशन नहीं आना चाहिए- सलमान खान appeared first on Mayapuri.

]]>
https://mayapuri.com/success-se-insaan-ka-dimaag-kharab-nahi-hona-chahiye-aur-failure-se-depression-nahi-aana-chahiye-salman-khan-%e0%a4%b8%e0%a4%b2%e0%a4%ae%e0%a4%be%e0%a4%a8-%e0%a4%96%e0%a4%be%e0%a4%a8/feed/ 0 220933
संतानहीन दंपतियों के लिए वरदान है आईवीएफ तकनीक- अक्षय कुमार https://mayapuri.com/akshay-kumar-talks-about-his-upcoming-film-good-newwz/ https://mayapuri.com/akshay-kumar-talks-about-his-upcoming-film-good-newwz/#respond Mon, 09 Dec 2019 12:31:26 +0000 https://mayapuri.com/?p=220113 अक्षय कुमार

अक्षय कुमार इन दिनों अपनी फिल्म गुड न्यूज के प्रमोशन में व्यस्त हैं। आईवीएफ ट्रीटमेंट और उसी दौरान हुई कन्फ्यूजन को लेकर हल्की-फुल्की कॉमेडी के साथ यह फिल्म बनाई गई है। अक्षय कहते हैं कि यह बहुत ही सीरियस सब्जेक्ट है और हमने इसे बहुत ही ध्यान से निभाया है. जो केस हमने बत्रा फैमिली […]

The post संतानहीन दंपतियों के लिए वरदान है आईवीएफ तकनीक- अक्षय कुमार appeared first on Mayapuri.

]]>
अक्षय कुमार

अक्षय कुमार इन दिनों अपनी फिल्म गुड न्यूज के प्रमोशन में व्यस्त हैं। आईवीएफ ट्रीटमेंट और उसी दौरान हुई कन्फ्यूजन को लेकर हल्की-फुल्की कॉमेडी के साथ यह फिल्म बनाई गई है। अक्षय कहते हैं कि यह बहुत ही सीरियस सब्जेक्ट है और हमने इसे बहुत ही ध्यान से निभाया है. जो केस हमने बत्रा फैमिली के साथ दिखाया, वो 4-5 जगहों पर हुआ है. फिल्म देखने के बाद बहुत सारे लोगों को यह लग सकता है कि ऐसा हादसा कहीं उनके साथ न हो जाए, इस तरह के बहुत से केस हैं। हमने इस मामले की संवेदनशीलता का पूरा ख्याल रखा है। अक्षय कुमार इस फिल्म में भी राज मेहता नाम के एक नए निर्देशक के साथ काम कर रहे हैं। कारण पूछने पर वह कहते हैं कि मैं अच्छे विषयों को लेकर नए डायरेक्टर्स के साथ फिल्में बनाता हूं। राज मेरे 21वें नए डायरेक्टर है। मुझे नहीं पता कि सारे बड़े डायरेक्टर्स मेरे लिए क्यों नहीं हैं। मुझे लगता है कि शायद मैं उस चीज के काबिल नहीं था इसलिए वे मुझे छोड़कर किसी और के पास गए।

फिल्म के बजट से जुड़े हुए सवाल पर अक्षय ने कहा कि हमारी फिल्मों का बजट काफी कम होता है। इसका बजट भी करीबन 36 करोड़ है जो आधा म्यूजिक से मिलता है और आधा ओवरसीज से। इस फिल्म से जो भी कमाई होगी वो मेरे, धर्मा प्रोडक्शन और करण में बंटेगी।

फिल्म ‘गुड न्यूज’ के ट्रेलर को मिल रही सराहना पर अक्षय कहते हैं कि मुझे खुशी है कि दर्शक भी इसे बहुत पसंद कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर यह ट्रेलर बहुत अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। हम जानते हैं कि हमारे हाथ में एक शानदार फिल्म है। यह एक साधारण फिल्म है, जिसे देखते हुए आप भावुक तो होते हैं, पर साथ ही आप अपनी हंसी पर भी नियंत्रण नहीं रख पाते। इस फिल्म की कहानी जबरदस्त है और बजट बेहद कम। यह फिल्म कॉमेडी, रोमांस और ड्रामा का एक ऐसा मिला-जुला रूप है, जो सबको लुभाएगा। क्रिसमस और नए साल जैसे मौकों पर इस किस्म की फिल्में सब पसंद करेंगे। इस फिल्म के बारे में जो चीज मुझे सबसे ज्यादा अच्छी लगी, वह है इसका संदेश। प्यार बांटिए, सकारात्मकता का प्रचार कीजिए।

आइवीएफ जैसे सब्जेक्ट पर फिल्म बनाने के पीछे किसका आइडिया था? इस सवाल पर अक्षय कहते हैं कि यह निर्देशक राज मेहता का आइडिया था। वह इस फिल्म की कहानी लेकर मेरे पास आए थे। उस वक्त मैं हिमालय में फिल्म ‘केसरी’ की शूटिंग कर रहा था। दिन भर युद्ध के दृश्यों की शूटिंग करना और फिर वापस आकर इस फिल्म की कहानी सुनना-यह काफी सुकून देने वाला अनुभव होता था। तभी मुझे लगा कि इस कहानी को सुनकर जितनी खुशी मुझे मिल रही है, उतनी ही खुशी दर्शकों को भी मिलेगी।

 अक्षय कुमार

अक्षय कुमार का मानना है कि संतानहीन दंपतियों के लिए आईवीएफ तकनीक एक वरदान है। आजकल ऐसे कई विकल्प आ गए हैं। मैं उम्मीद करता हूं कि जो लोग सचमुच बच्चा न होने की वजह से निराश हैं, यह फिल्म उनके लिए उम्मीद की किरण साबित होगी। महिलाओं ने कार्यस्थल में अपने अधिकारों के लिए लंबी लड़ाई लड़ी है। अच्छी बात यह है कि अब तकनीकी विकास के चलते उन्हें यह हड़बड़ी बरतने की जरूरत नहीं है कि शादी के तुरंत बाद ही उन्हें बच्चा पैदा करना होगा। हां, आदर्श स्थिति सही उम्र में ही गर्भधारण करना है, पर यह भी सच है कि आज महिलाएं बेफिक्र होकर अपने करियर पर ध्यान दे सकती हैं। जब वह गर्भधारण के लिए मानसिक रूप से तैयार होंगी, तो विज्ञान भी उनकी मदद करेगा। इसलिए मैं कह सकता हूं कि मेरी यह फिल्म आईवीएपफ को लेकर जागरूक करने के बारे में है।

अक्षय कुमार

आगे चलकर किस तरह के किरदार निभाना चाहते हैं? पूछने पर अक्षय कहते हैं कि बतौर एक्टर मैं सभी तरह के किरदार निभाना चाहता हूं। एक किरदार, किरदार होता है। चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक। अगर मुझे किसी फिल्म में कोई दिलचस्प नकारात्मक किरदार निभाने का मौका मिलता है, तो मैं उसे जरूर निभाऊंगा। आखिर वह सिर्फ एक किरदार है। साथ ही, मैं ‘जिम्मेदार फिल्मों’ में भी काम कर रहा हूं। पर अगर आप किसी एक्टर से सिर्फ और सिर्फ ‘जिम्मेदार फिल्मों’ में काम करने की उम्मीद रखेंगे, तो आप एक तरह से उसके पर काट रहे हैं।

आईवीएफ जैसे विषय पर क्या रिसर्च भी करनी पड़ीं? जवाब में अक्षय कहते हैं कि ‘पैडमैन’, ‘मिशन मंगल’ और ‘गुड न्यूज’ जैसी अलग हटकर विषयों पर बनने वाली फिल्मों में काम करने से पहले उनके बारे में जानकारियां जुटाना जरूरी होता है। हमारी फिल्म भले ही इस विषय को हल्के-फुल्के अंदाज में उठाती हो, पर बहुत सारे लोगों की तरह मेरा भी मानना है कि जागरूकता की शुरुआत हास्य से होती है। यही वजह है कि व्यंग्य इतना पसंद किया जाता है। दुनिया भर में आईवीएफ तकनीक के जरिये अब तक तकरीबन 8 मिलियन बच्चों का जन्म हो चुका है और यह संख्या लगातार बढ़ रही है।

अक्षय कुमार

अपकमिंग प्रोजेक्ट्स की बात करें तो अक्षय करीना कपूर के साथ वह गब्बर फिल्म में काम कर रहे हैं, वह उनके साथ काम करके बहुत खुश हैं। अक्षय ने बताया कि मैंने करीना को बचपन से देखा है, मुझे उनके साथ बहुत सारे किरदार करने हैं। अक्षय कुमार भूमि पेडनेकर के साथ दुर्गावती में भी नजर आएंगे। इसे लेकर अक्षय कहते हैं कि भूमि अपना किरदार अच्छे से निभा लेंगी, इसलिए हमने दुर्गावती के लिए भूमि को चुना। इसी तरह अक्षय रोहित शेट्टी की फिल्म सूर्यवंशी मे भी बिजी हैं, जिसमें उनके साथ कैटरीना कैफ भी दिखाई देंगी।

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

The post संतानहीन दंपतियों के लिए वरदान है आईवीएफ तकनीक- अक्षय कुमार appeared first on Mayapuri.

]]>
https://mayapuri.com/akshay-kumar-talks-about-his-upcoming-film-good-newwz/feed/ 0 220113