INTERVIEW!! मैं पैदा यहीं हुआ हूं और मैं मरूंगा भी यहीं – आमिर खान

1 min


पिछले दिनों आमिर खान द्वारा देश छोड़ने के मुद्दे को लेकर उनके खिलाफ राजनेताओं से लेकर आम आदमी द्वारा पूरे देश में विरोध जताया गया। हालांकि बाद में आमिर ने एक प्रैस कॉन्फ्रेंस कर इस बात को गलत बताया कि उन्होंने ऐसा कुछ कहा। उस वक्त उनका कहना था कि मीडिया ने मेरी बात को गलत तरीके से पेश किया। बावजूद इसके लोगों और नेताओं के आमिर के खिलाफ बयान जारी रहे। हाल ही में फिल्म ‘रंग दे बंसती’ के दस साल पूरे होने के उपलक्ष्य में हुये समारोह के दौरान एक बार फिर आमिर को प्रेस से दो चार होना पड़ा लेकिन इस बार वे अपने आपको देश भक्त बताते हुये कई बार भावुक भी हुये।

आमिर का कहना था कि मैंने पहले भी कहा और आज भी कह रहा हूं कि मैं एक ऐसे देश भक्त खानदान से हूं जहां मेरे परदादा मौलाना अब्दुल कलाम ने देश की आजादी के लिये जंग लड़ी थी।

Aamir khan
Aamir khan

दूसरे आप मेरे यहां गुजरे करीब छब्बीस सत्ताईस साल के करियर पर नजर ड़ालें तो आपको मेरा एक एक भी एक्शन ऐसा नहीं दिखाई देगा जहां मैंने कुछ गलत किया हो। लेकिन पिछले कुछ दिनों से कहा जा रहा है कि आमिर ने अपनी पत्नी किरण राव के साथ देश छोड़ने की बात कही। इस बात में कोई सच्चाई नहीं। मैं हिन्दुस्तान के लोगों को बता देना चाहता हूं कि मैं यहीं पैदा हुआ हूं और यहीं मरूंगा। न तो मैंने कभी देश छोड़ने के बारे में सोचा और न ही किरण जी ने ऐसा सोचा, बल्कि मैं तो शूटिंग के दौरान भी दो सप्ताह से ज्यादा बाहर नहीं रह पाता। मुझे दो सप्ताह से ज्यादा बाहर रहने में दिक्कत महसूस होने लगती है। इसे आप मेरी होमसिक बीमारी कह सकते हैं।

इस बीच आमिर खान की बात को बीच में रोकते हुये फिल्म से जुड़े प्रसुन्न जोशी ने कहा कि मैं ये बात एक इंसान के नाते और एक कवि के नाते कहना चाहूंगा कि अगर आप आमिर द्वारा किये गये कामों पर एक नजर ड़ाले तो ये आरोप अपने आप ही बेमानी लगने लगता हैं। अगर हम उनके काम को नजरअंदाज करते हैं तो उनके साथ बहुत नाइंसाफी करते हैं। आगे आमिर का कहना था कि मेरे करियर पर अगर आप नजर डालें तो आपको सरफरोश, लगान, पीके, रंग दे बंसती, थ्री इडियट्स या सत्यमेव जयते जैसे प्रोग्राम या फिल्में नजर आयेंगी। मैंने ये सब फिल्में या सीरियल इसलिये किये क्योंकि मैं भी इस देश का नागरिक हूं और मेरा भी फर्ज बनता है कि मैं देश के लिये या वहां रहने वालों को जागृत करने के लिये ऐसी फिल्में करूं जिससे उनकी सोच में इजाफा हो।

big_382702_1442113369

आमिर ने कहा दरअसल यहां मीडिया भी कम कसूरवार नहीं है क्योंकि उन्होंने मेरी बात को तोड़मरोड़ कर या उसका मर्म समझे बिना सीधे लिख दिया कि आमिर और उनकी पत्नी किरण राव देश छोड़ने की बात कर रहे हैं। लिहाजा इस खबर को पढ़कर कुछ लोग मुझसे नाराज हुये और उनकी नाराजगी जायज है अगर मैं भी उनकी जगह होता तो उनसे कहीं ज्यादा नाराज होता। लेकिन ये सही नहीं है। मेरा मानना है कि समाज में दो तरह के लोग होते हैं एक नेगेटिविटी फैलाना पसंद करते हैं दूसरे साकारात्मक सोच के लोग होते हैं वे पॉजीटिव बातें ही करते हैं। हमारा देश इतना विशाल है इसमें इतनी सारी जुबानें, जाति और कल्चर हैं बावजूद इसके हम सभी मिलकर रहते हैं यहीं हमारी ताकत भी है अगर कोई देश को बांटने की कोशिश करता है वहां मुझे बहुत दुख होता है क्योंकि हम जिस प्रकार एक होकर रहते हैं। ऐसा विश्व में शायद ही कहीं होता दिखाई दे। मैंने हर बार इसे लेकर आवाज उठाई है और आगे भी उठाता रहूंगा कि कृप्या देश को कमजोर करने की कोशिश न करें, देश को बांटने की कोशिश न करें। मेरा ख्याल है कि हमारे प्रधानमंत्री ने भी यही सब बातें कहीं है।

आमिर का आगे कहना था कि मुझे गर्व है कि मैं एक देश भक्त हूं और मैं दूसरों को भी हाथ जोड़ कर कहना चाहता हूं वे देश को बांटने की कोशिश न करें, लोगों को अलग करने की बात न करें। मैं यहीं बात कन्वे करने की कोशिश कर रहा था लेकिन लोगों को लगा कि आमिर देश छोड़ने की बात कर रहा है वो इंस्टॉयलमेन्ट की बात कर रहा है। न जाने क्यों कुछ लोगों और कुछ राजनैतिक लोगों ने मेरे खिलाफ ये भ्रम फैलाया। मेरा उनसे भी कहना है कि प्लीज वे ऐसा न करें। क्योंकि मुझे बहुत बुरा लग रहा है कि मुझे अपने ही घर में साबित करना पड़ रहा हैं कि मैं इसी घर का हूं और मुझे इस घर से प्यार है।

dangal-story_650_031515111326

आमिर कहते हैं कि बेशक आप इस बात पर यकीन न करें कि मैं देश प्रेमी हूं या मुझे अपने देश से प्यार है लेकिन मेरे अभी तक के एक्शन पर एक नजर डाल लीजिये। मैंने जिस तरह की फिल्में की, पिछले चार साल से मैं जो सीरीज सत्यमेव जयते कर रहा हूं, क्या जरूरत है मुझे ये सब करने की, मैं भी औरों की तरह साल में तीन या चार फिल्में कर ढ़ेर सारा पैसा बटोर सकता हूं। मुझे अपने देश से प्रेम है इसीलिये मैं ये सब कर रहा हूं। मैं अपना वक्त निकाल इसलिये भी ये कर रहा हूं क्योंकि कहीं न कहीं देश की प्रगति में मेरा भी कुछ योगदान होना चाहिये। मैं मौलाना अब्दुल आजाद के परिवार से हूं जो देश की आजादी के लिये लडे़। जहां तक मेरे हर्ट होने की बात है।

तो हर्ट तो मैं हुआ हूं लेकिन मुझे लेकर कुछ और लोग भी हर्ट हुये हैं जब उन्होंने सुना कि आमिर देश छोड़ने का बात कर रहा है। जहां तक लोगों को मेरे बारे में जो भी गलत बातें फैलायी गई हैं उनके लिये थोड़ी बहुत जिम्मेदारी मीडिया की भी बनती है क्योंकि उन्होंने बड़ी बेरहमी से मुझे गलत आदमी साबित करने की मुहिम चलाई। मैं तो इस बात को लेकर भी शर्म महसूस कर रहा हूं कि मुझे अपने देश में ही साबित करना पड़ रहा हैं कि मैं देश भक्त हूं। लिहाजा मैं एक बार फिर साफ कर देना चाहता हूं कि आप लागों की तरह मैं भी इस देश में पैदा हुआ हूं, मुझे भी इस देश से बहुत प्यार हैं। मेरी मीडिया से हाथ जोड़कर प्रार्थना है कि वे मुझे मेरी पहली जगह पर ही रहने दे। मुझे गलत साबित न करें।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये