INTERVIEW!! “मैडम,बस बात घड़ी तक ही रहने दीजिये ,वर्ना मामला हल्का हो जायेगा” – अमिताभ बच्चन

1 min


Mumbai : Bollywood actor Amitabh Bachchan during launch first look of the film Wazir in Mumbai on Wednesday. Photo Girish Srivastav/ 03.06.2015

अमिताभ बच्चन का स्टाइल स्टेटमेंट आज भी युथ को टक्कर देता है !!

सदी के महानायक श्री अमिताभ बच्चन जी ना केवल अपनी अभिनय क्षमता के लिए जाने जाते है किन्तु उनका स्टाइल स्टेटमेंट भी बड़ा ही अनूठा रहा है। हाल ही में फिल्म,” वज़ीर” के फर्स्ट लुक प्रेस मीट के दौरान वह सफ़ेद पायजामा पहने हुए और एक बहुत ही खूबसूरत हरे नीले रंग का दुप्पट्टा ओढ़े ,साथ में दायें हाथ में हरी पट्टी लगी हुई घडी पहने जब ऑडिटोरियम में प्रवेश हुए तो उनकी यह स्टाइल स्टेटमेंट आज के युथ को भी नतमस्तक कर गई !!

आपको यह बता दें यह दुप्पट्टा उन्हें किस ने दिया ,”यह दुप्पट्टा मुझे मेरी पत्नी जाया बच्चन ने गिफ्ट दिया था जब में फिल्म,” पिक्कू ” के लिए कोलकत्ता में शूटिंग कर रहा था। और यह दुप्पट्टा खास तौर से बंगाल में ही बनाया जाता है। ”
अपनी घडी का राज़ न खोलते हुए बस यही कहा अमित जी ने,” मैडम,बस बात घड़ी तक ही रहने दीजिये ,वार्ना मामला हल्का हो जायेगा। ”

अमिताभ बच्चन, विधू विनोद चोपड़ा
अमिताभ बच्चन, विधू विनोद चोपड़ा

आज भी अमित जी में इतनी ऊर्जा है कि पर्दे पर कोई भी चरित्र चित्रण साकार करना हो तो हूबहू उसे जीवंत करने में कोई कसर नहीं छोड़ते है। उम्र के इस पड़ाव पर अपनी उम्र से कम अभिनेताओं को खासा टक्कर देते है आप ,यह सब कैसे कर पाते है ?
“यह मेरी खुशकिस्मति है कि आज भी मुझे काम मिल रहा है। और नई पीढ़ी के साथ काम करना मेरा सौभाग्य ही तो है। आज के अभिनेताओं की औसत उम्र लगभग 24 से 30 वर्ष के अंदर की होती है. और आज की जनरेशन बहुत ही टैलेंटेड है। आश्चर्य तो होता है मुझे यह सोच कर कि यह मेरी जगह है या नहीं? किन्तु मुझे बहुत ही अच्छा लगता है इन सब के साथ काम करना। .”

तो क्या यह आप मानते है की भगवान ने बड़ी फुर्सत से कुंडली बनायीं है आपकी ?
“इस बारे मै क्या कहू हू? जिन्होंने मेरी कुंडली बनाई है उनसे ही यह सवाल पूछना उचित होगा . ”

वज़ीर का भी एक अनूठा लुक है आपका और यह एक शारीरिक रूप से विकलांग दिख पड़ता है प्रोमोज में ,”कहानी में एक ऐसा मौड़ आता है जब में अपनी टांग गवां बैठता हू। तत्पश्चात मुझे पूरी फिल्म में “व्हील चेयर ” पर ही बैठना होता है। मैंने पहले भी विधू विनोद चोपड़ा के साथ काम किया है वह कहानी की हर बारीकियों पे काम करते है यही इनकी खासियत है। 3 महीने पहले से यह मेरे पास अलग अलग “व्हील चेयर” लेकर आये।

अमिताभ बच्चन, विधू विनोद चोपड़ा
अमिताभ बच्चन, विधू विनोद चोपड़ा

अन्ततः उन्होंने एक व्हील चेयर को चूना। फिल्म में काफी सारे दृश्य प्रभाव विसुअल इफेक्ट्स भी है। मुझे शूट के दौरान काले मोज़े जिसमें सफेद चिन्ह है पहनने पड़ते थे, मेरी पैंट को घुटनो तक एक गाँठ में बांध दिया जाता ,ताकि मैं अपने पैर हिला न सकू और यही सब तकनीक दृश्य को बहुत ही रियल महसूस करवाते है। कई मर्तबा मुझे बिस्तर पर लेट कर सीन करने होते ,बेड के नीचे एक बड़ा गड्डा कर दिया जाता ताकि मैं अपनी टाँगे नीचे लॉग लू और ऊपर से कंबल डाल दिया जाता। ”

यह कहना ज्यादा नहीं होगा अमित जी पहले से ही बहुत अलग अलग लुक्स अपनाते रहे है और फिल्म,”वज़ीर” में भी कश्मीरी पंडित में वह सारी कायनात को लुभाने एक बार फिर यह साबित कर देंगे कि उनका स्टाइल स्टेटमेंट आज भी अनूठा ही है !!
पेश है अमिताभ बच्चन ने अपनी फिल्मो द्वारा कब कब स्टाइल स्टेटमंट अलग अपनाया ।

1. पहली बार उन्होंने एक अनूठा फैशन ट्रेंड फिल्म दीवार में अपनाया -उनकी कमीज़ के नीचले हिस्से में एक गांठ बंधी होती थी। हालांकि यह गांठ किसी कारण वश की गई थी। वो भी एक स्टाइल स्टेटमेंट बन गयी

amitabh-1

2. फिल्म,” कभी कभी” में उनकी ऊँची गले वाली स्वेटर, सिलसिला, कालिया और शक्ति में भी एक अलग बेहतरीन लुक रहा अमित जी का।

amitabh_bachchan_tracing_the_legend_silsila

3. 70 के दशक में चमड़े की जैकेट जिसमें अदभुत जेब भी लगी हुई थी फिल्म ,”शक्ति” में एक हेप स्टाइल रहा अमित जी का

दिलीप कुमार अमिताभ बच्चन फिल्म शक्ति में
दिलीप कुमार अमिताभ बच्चन फिल्म शक्ति में

4. कुर्ता पायजामा और चूड़ीदार पायजामा भी पहन कर उन्होंने अपने फैंस को बहुत लुभाया है। और गम्छा जो की उत्तर के लोगो का एक खास पह्नावा है उसे भी फिल्मो मैं एक अच्छा खासा स्थान दिलवाया अमित जी ने।

tumblr_inline_mgmvszh5Jx1rr19uk

5. अब फिल्म ,” वज़ीर ” में कश्मीरी पंडित के रूप में सबको लुभाने बहुत जल्द पहुँच रहे है बिग बी।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये