बाॅलीवुड में आने का सपना पूरा हुआ – काव्या किरण

1 min


बाॅलीवुड में हर क्षेत्र के कलाकार हैं, हैरानी वाली बात है कि उड़ीसा से यहां तकनीशियन तो हैं लेकिन अदाकार उंगलियों पर भी नहीं गिने जा सकते । इस क्षेत्र की कोई तारिका किसी हिन्दी फिल्म से बाॅलीवुड में कदम रखती है तो मीडिया के लिये तो वह विशेष हो ही जाती है । फिल्म ‘ रंग ए इश्क ’ से बतौर नायिका हिन्दी में डेब्यु कर रही काव्या किरण से एक विशेष मुलाकात ।

kavya kiran 4

इस फिल्म से पहले

काव्या अपने बारे में बताते हुये कहती है कि मुझे बचपन से ही एक्टिंग का शौक रहा है । मैने शुरूआत ओडीसी डांस से की । जब मैने पहली दफा अपने स्कूल में डांस किया तो वहां सभी टीचर्स का कहना था कि इतनी कम उम्र में इतना बढि़या डांस तुम कैसे कर सकती हो । तब मैने कहा था कि मुझे बडी होकर हिन्दी फिल्मों में काम करना है । इसके बाद मैने करीब छह साल तक ओडिसी डांस सीखा । इस डांस की खासियत यह है कि इसमें अभिनय की मात्रा ज्यादा होती है जो मेरे आगे बहुत काम आया । अभिनय के तहत मेरी शुरूआत हुई उडि़या फिल्म ‘ काउंड़ी कन्या’ से, जिसका हिन्दी अर्थ होता है ‘जादुई कन्या’ । यह उडि़या की पहली थ्रीडी फिल्म थी जो बहुत बड़ी हिट साबित हुई । उसके बाद ‘आगे आगे तू पाछे पाछे मूं’ मेरी दूसरी उडि़या फिल्म हैं जो रिलीज होने वाली है । इसके बाद में मुबंई आ गई।

kavya kiran 3

बाॅलीवुड में उडि़या कलाकार

यह खोज का विशय हो सकता है कि हिन्दी में उडि़या तकनीशियन बहुत है लेकिन अदाकार न के बराबर हैं। जहां तक मुझे याद है एक उडि़या एक्ट्रेस का नाम है सुलगना पाणीग्रह, जिसने मर्डर टू में काम किया है तथा संघाई के अलावा ढेर सारी फिल्मों में बीतोबाष काम कर चुके हैं। इसके अलावा प्रषांत नंदा ने भी कुछ फिल्मों में काम किया है लेकिन किसी हिन्दी फिल्म में नायिका बनने का श्रेय मुझे ही जाता है।

किरदार की रूपरेखा

मेरा किरदार दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के गांव कस्बे की लड़की का है, वैसी लड़की बनने के लिये मुझे कुछ तैयारियां भी करनी पड़ी जैसे मुझे हिन्दी मूवी देखने के लिये कहा । मैने काफी मूवी देखी तथा काफी कुछ वर्कशाॅप में सीखाया गया । यह फिल्म मुझे मेरे कोएक्टर की बदौलत मिली । दरअसल कहानी की डिमांड एक ऐसी सिंपल सी लड़की थी जो यू पी के गांव कस्बे की लगती हो । फिल्म में नगेटिव किरदार निभा रहे दीपक कुमार मुझे पहले से जानते थे , उन्होंने मुझे डायरेक्टर श्रीनिवास से मिलवाया । उन्होंने मेरा सलवार कमीज में आॅडिशन लिया। बाद में मुझे सलेक्ट कर लिया गया ।

kavya kiran 2

फिल्म की कहानी

यह एक ट्राएंगल लव स्टोरी है । इसमें मेरे और हीरो के बीच एक तीसरा बंदा आ जाता है क्योंकि वह भी मुझे पसंद करता है । दरअसल वह एक लैंडलार्ड का ऐसा बेलगाम भाई है, जिसे जो पसंद आ जाये, उस पर वह अपना हक समझने लगता है । बाद में क्या होता है इसके लिये तो आपको फिल्म देखनी पड़ेगी ।

टी वी

डेफिनेटली आज टीवी की रीच बहुत ज्यादा है । जहां तक मेरी बात है तो मैं तो यहां एक्टिंग करने आई हूं । इसलिये मुझे टीवी करने से भी कोई परहेज नहीं । अब चूंकि मेरी शुरूआत फिल्म से हो रही है तो पहली प्राथमिकता तो मैं फिल्मों को ही देना चाहूंगीं ।
———————


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये