INTERVIEW!! पहली बार शहरी युवक का किरदार निभाया है.. – रणवीर सिंह

1 min


‘बैड बाजा बारात’ से लेकर अब तक रणवीर सिंह की लोकप्रियता का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा है. संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘रामलीला‘ में रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण की जोड़ी को काफी पसंद किया गया.इन दिनों वह एक बार फिर संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘बाजीराव मस्तानी’ में दीपिका पादुकोण व प्रियंका चोपड़ा के साथ काम कर रहे हैं तो दूसरी तरफ उनकी चर्चाएं जोया अख्तर निर्देशित फिल्म ‘दिल धड़कने दो’ को लेकर भी हो रही है, जिसमें रणवीर सिंह और प्रियंका चोपड़ा भाई बहन बने हैं।

बाॅलीवुड में आपकी गिनती उन कलाकारों में होने लगी है, जिनकी शोहरत का ग्राफ निरंतर बढ़ता ही रहता है?

यह मेरी खुशकिस्मती है कि मेरी शोहरत हमेशा बढ़ती रही है. मेरी फिल्में भी निर्माताओं को कमा कर देती आ रही हैं. इस वजह से मेरी स्टार वैल्यू भी बढ़ी है. मैं इस स्थिति में पहुंचा हूं कि अपने मनमाफिक फिल्मों का चयन कर सकूं. पर मुझे लगता है कि अभी मुझे बहुत आगे जाना है. अभी मुझे बहुत कुछ पाना है. मेरे नाम राशि रणबीर कपूर भी ‘राॅक स्टार’, ‘बर्फी’ और ‘बाॅम्बे वेलवेट’ जैसी फिल्मों में काम कर अच्छी उड़ान भर रहे हैं.मैं तो उनका प्रशंसक भी हूं. फिलहाल मैं ‘दिल धड़कने दो’ तथा ‘बाजीराव मस्तानी’ फिल्मों को लेकर काफी उत्साहित हूं।

ranveer-ram-read (1)

फिल्म ‘दिल धड़कने दो’ के किरदार को लेकर क्या कहेंगे?

जोया अख्तर निर्देशित फिल्म ‘दिल धड़कने दो’ मैं मैंने कबीर मेहरा का किरदार निभाया है. जो कि एक अमीर परिवार उका युवक है. इस फिल्म में कबीर के पास एक हवाई जहाज है, जिससे कबीर को बहुत प्यार है. कबीर मेहरा के माता पिता की शादी की तीसवीं वर्षगांठ के मौके पर तमाम रिश्तेदार वगैरह इकट्ठे होते हैं और कबीर के पिता उसके सामने शर्त रखते हैं कि यदि कबीर वह जहाज अपने साथ रखना चाहता है तो उसे पिता की पसंद की लड़की से शादी करनी पड़ेगी.इस शर्त की वजह से कबीर की जिंदगी नर्क बन जाती है. पहली बार मैंने इस फिल्म में एक शहरी युवक का किरदार निभाया है।

Dil-Dhadakne-Do-cast-Priyanka-Chopra-Anil-Kapoor-Anushka-Sharma-Ranveer-Singh-Shefali-Shah-on-Comedy-Nights-With-Kapil-9

फिल्म ‘गुंडे’ में प्रियंका चोपड़ा आपकी प्रेमिका थी. जबकि जोया अख्तर की फिल्म ‘दिल धड़कने दो’ में वह आपकी बहन बनी हैं. पर फिल्म ‘बाजीराव मस्तानी’ में वह एक बार फिर प्रेमिका हैं?

जी हाँ! प्रियंका चोपड़ा मेरी बहन, प्रेमिका व पत्नी के किरदार निभा रही हैं. वह एक सशक्त कलाकार हैं. यह उनकी खूबी है कि वह एक ही कलाकार के साथ अलग अलग किरदारों को बाखूबी निभा लेती हैं. वह किरदार के अनुरूप खुद को ढाल लेती हैं।
चर्चाएं हैं कि फिल्म ‘दिल धड़कने दो’ के गीत ‘पहली बार’ में आपने अनुष्का शर्मा के साथ ना सिर्फ डांस किया है, बल्कि इस डांस का नृत्य निर्देशन भी किया है?

यह एक रोमांटिक गाना है. मैं और अनुष्का दोनों ही अच्छे डांसर हैं. जब सेट पर निर्देशक जोया अख्तर ने हमें इस गाने के बारे में बताया, तो हमें गाना बहुत पसंद आया. उस वक्त नृत्य निर्देशक बाॅस्को सीजर ने भी बताया कि वह इस गाने को किस तरह से फिल्माना चाहते हैं. उनकी बातें सुनने के बाद मैं और अनुष्का सोचने लगे कि क्या किया जाए? करीबन एक घंटे के बाद हमने बाॅस्को से कहा कि मैं और अनुष्का खुद ही इस गाने के लिए कदम ताल तय करेंगे और फिर हम दोनो ने खुद इस गाने पर अपने हिसाब से डांस किया,जो कि बाॅस्को सीजर और जोया अख्तर दोनों को बहुत पसंद आया।

ranveersingh_650_071514043119

‘दिल धड़कने दो’ में अनिल कपूर के साथ काम करने के बाद क्या कहना चाहेंगे?

अनिल कपूर जी के साथ मेरे बहुत अच्छे संबंध हैं.‘दिल धड़कने दो’ में अभिनय करने से पहले भी घरेलू और फिल्मी पार्टियों में हमारी मुलाकातें होती रही हैं.पर उनके साथ काम करने के बाद उनके प्रति मेरे मन में सम्मान बढ़ गया है।

‘रामलीला’ के बाद संजय लीला भंसाली के साथ अब ‘बाजीराव मस्तानी’ कर रहे हैं?

यह एक ऐसी फिल्म है, जिसे मैं करना चाहता था.बाजीराव बहुत ही महत्वपूर्ण व कीमती किरदार है. मेरे लिए तो इस फिल्म से जुड़ना एक बड़ी उपलब्धि है। भारत के चंद बेहतरीन निर्देशको में से एक हैं संजय लीला भंसाली. उनके साथ दूसरी फिल्म करने का अवसर पाना मेेरे लिए सम्मान की बात है. इसीलिए मैं इस फिल्म के लिए काफी मेहनत कर रहा हूँ. अपना खून व पसीना बहा रहा हूं।

ranveer-singh-new-look-in-bajirao-mastani

सुना है कि पहले संजय लीला भंसाली अपनी इस फिल्म के साथ सलमान खान व ऐश्वर्या बच्चन  को लेना चाहते थे?

मेरे लिए यह बात मायने रखती है कि संजय लीला भंसाली ने मुझे इस फिल्म से जुड़ने का आफर दिया.मुझसे पहले इस फिल्म के लिए किस कलाकार के नाम पर विचार किया गया, यह बात मेरे लिए मायने नहीं रखती है.मैं इस बात से खुश हूं कि संजय लीला भंसाली ने अपनी इस महंगी व कीमती फिल्म के साथ मुझे जोड़ा।

आप ‘बाजीराव मस्तानी’ में अपने स्टंट खुद कर रहे हैं?

जी हाॅ! इस फिल्म के ज्यादातर स्टंट मैं खुद ही कर रहा हॅूं. एक स्टंट करते समय मैं घोडे़ से गिर पड़ा और मुझे चोट लग गयी।

Rabir-04

बाजीराव को लेकर क्या कहेंगे?

यह एक ऐतिहासिक फिल्म है.यह कहानी 18 वीं सदी की है. बाजीराव पेशवा मराठा सेनापति थे. बाजीराव पेशवा कोंकणी महाराष्ट्रिन ब्राम्हण थे. इस किरदार को निभाने के लिए मैने अपना पूरा लुक बदला है. मैंने अपने सिर के बाल मुंडवाएं. आॅंखों को रंगा है. कंटेंट लेंस पहन रहा हॅूं।

आप अपने रोमांस की वजह से चर्चा में ज्यादा रहते हैं?

मैं कभी कोई खबर नहीं फैलाता. सारी खबरें मीडिया गढ़ती है.मीडिया मेरी जिंदगी को लेकर बहुत कुछ लिखती व कहती रहती है. पर मैं चुप रहता हूं. यदि इस तरह कि चीजों के लिखे जाने से मुझे शोहरत मिलती है, तो ठीक हैं. पर मैं बहुत ज्यादा परवाह नहीं करता.हां! मेरी कोशिश रहती है कि मैं अपनी निजी जिंदगी की सुरक्षा खुद कर सकूं. अब उसमें मुझे कितनी सफलता मिलती है, यह तो मैं दावा नहीं कर सकता।

ranveer-singh_640x480_71432282580

दीपिका पादुकोण के साथ आपके रिश्ते..?

आप लोग जिस तरह की चर्चा करना चाहें,कर सकते हैं.मैंने कभी किसी को रोका नहीं है.जब मैं अस्पताल में था, तो दीपिका पादुकोण मुझे देखने आ गयी. मीडिया ने इसका हौव्वा खड़ा कर दिया. आप खुद बताएं कि यदि आप बीमार हों या मुसीबत में हों, तो क्या आपके दोस्त आपसे मिलने नहीं आएंगे. वह आपकी मदद के लिए हाथ नहीं बढ़ाएंगे. हां! मैं इतना जरूर कहूंगा कि मेरी जिंदगी में दीपिका का खास स्थान है।

कुछ लोगों का मानना है कि आपके परदे की जिंदगी और निजी जिंदगी को देखते हुए लोग कंफ्यूज होते रहते हैं?

इसमें बुराई क्या है, दर्शक और मेरे प्रशंसक इस बात को लेकर खुष हैं कि मैं उन्हें हर फिल्म में एक अलग अंदाज में नजर आता हूं।

Ranveer-Singh-Wants-To-Work-With-The-Best-Directors

कहा जा रहा है कि भविष्य में आप बाॅलीवुड में ‘स्टार’ बनकर उभरने वाले हैं?

मैं निजी स्तर पर अपने आपको सिर्फ एक अच्छा कलाकार साबित करना चाहता हूं. मैं अपने अभिनय कैरियर में आगे बढ़ना चाहता हूं. स्टार या सुपर स्टार के रूप में अपनी पहचान बनाने की मेरी कोई इच्छा नहीं है. मैं कलाकार के तौर पर अपने आपको कई डायमेशंस में विकसित करना चाहता हूं. मैं नहीं चाहता कि लोगों को लगे कि मैं सिर्फ एक ही तरह के किरदार निभा सकता हूं. मैंने भी फिल्म‘लुटेरा’ इसीलिए की थी कि लोगों को पता चले कि मैं दूसरे डायमेंशन के भी किरदार निभा सकता हूं. मैं मानता हूं कि ‘लुटेरा’ एक अच्छी फिल्म थी.मगर जिस तरह की फिल्म का उसे दर्जा दिया जाना चाहिए था, वह नहीं मिला.पर ‘लुटेरा’ एक ऐसी फिल्म है, जिसे लोग बीस साल बाद भी याद करेंगे। मेरा मानना है कि ‘लुटेरा’ एक अंडररेटेड फिल्म रही. मेरी परफार्मेंस भी अंडररेटेड रही. पर फिल्मकारों की समझ में आ गया कि हमेशा हाई एनर्जी कलरफुल किरदार निभाने के अलावा भी दूसरे तरह के किरदार रणवीर निभा सकता है. मैंने संजीदा, शांत और ठहराव वाला किरदार निभा कर फिल्मकारों को सोचने पर मजबूर कर दिया है. मेरी कोशिश हमेशा रहेगी कि मैं ऐसी फिल्म करूं, जो हमेशा याद रहे. इससे दर्शकों में भी एक उत्सुकता बनी रहेगी।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये