जिमी शेरगिल के खिलाफ फतवा जारी

1 min


फिल्म एक्टर जिमी शेरगिल के खिलाफ हाल ही में फतवा जारी किया गया है। फिल्म ‘शोरगुल’ में काम करने के विरोध में एक्टर जिमी शेरगिल के खिलाफ फतवा जारी किया गया है। जिमी शेरगिल के खिलाफ फतवे के अलावा यह फिल्म उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर, कानपुर और लखनऊ में बैन की जा चुकी है। अब फिल्म के निर्माता इस बैन को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से बातचीत करने की प्लानिंग कर रहे हैं। बता दें कि ‘शोरगुल’ एक पॉलिटिकल ड्रामा है। जिसमें मुजफ्फरनगर हिंसा, बाबरी मस्जिद और गोधरा जैसे संवेदनशील मुद्दों को उठाया गया है। इतने विवादों के बीच अब जिमी भी फंसते नजर आ रहे हैं। खम्मन बाबा पीर कमिटी ने जिमी और फिल्म मेकर्स के खिलाफ फतवा जारी किया है। जारी फतवे में कहा गया है कि जिमी ने इस तरह की फिल्म में काम करके लोगों की भावनाओं को आहत किया है। उनके डायलॉग्स समाज में तनाव भड़का सकते हैं।

इसके साथ ही कहा गया है कि अब जिमी शेरगिल को उत्तर प्रदेश में शूटिंग करने की इजाजत नहीं दी जाएगी और फिल्म ‘शोरगुल’ को भी उत्तर प्रदेश में ग्रीन सिग्नल नहीं दिया जाएगा। इससे पहले विश्व हिंदू परिषद के नेता मिलन सोम ने फिल्म के खिलाफ एक जनहित याचिका दायर की थी। लेकिन इलाहाबाद हाईकोर्ट की बेंच ने इसे खारिज कर दिया था। यह फिल्म 24 जून को रिलीज होनी है। ‘शोरगुल’ के प्रड्यूसर्स में से एक स्वतंत्र विजय सिंह कहते हैं, हमें पीआईएल और फतवा मिले हैं। लेकिन जैसा कि हम पहले बता चुके हैं कि फिल्म केवल घटनाओं का एक सिनेमैटिक रीक्रिएशन है। हमें विश्वास है कि अगर जनता हमारी फिल्म को पसंद करती है तो इसे कोई बैन नहीं कर सकता।

SHARE

Mayapuri