औरत की कहानी बयान करती फिल्म‘ मैट्रो मिरर’

1 min


औरत कहीं सुरक्षित नहीं । या तो उसे रेप कर अहसाय छोड़ दिया जाता है या शादी कर घर ग्रहस्ती की आड़ में उसे शोशित किया जाता है लेकिन सबसे बड़र दरिदंगी उसके साथ उस वक्त होती हैं जब उसका पति ही उसका दलाल बन उसे बेचना शुरू कर दे तो औरत फिर चंडी का रूप धारण कर उसका संहार करने से पीछे नहीं हटती ।

film matro murar 3

अमृता प्रीतम के साथ शादी कर नये सपनों के साथ नये घर में आई । लेकिन अगले ही दिन जब उसके पति द्धारा भूजे गये तन के सौदागरों ने उसके शरीर को नोच खसोटना शुरू कर दिया उसके भीतर की औरत जाग गई और उसने पति के रूप में एक राक्षस का संहार कर दिया । और फिर वा चल दी एक ऐसी राह पर जिसका कोई छोर नहीं था । फिल्म के निर्माता ओमप्रकाश खजोटिया का कहना है कि अगर फिल्म मनोरजंन के संदेशात्मक भी हो तो दर्शक के लिये इससे अच्छी बात और क्या हो सकती है ।

SHARE

Mayapuri