“रहिये चुस्त, दुरुस्त और तंदुरुस्त”, कहते हैं एण्डटीवी के कलाकार

1 min


मौजूदा समय में ज्यादातर लोगों को फिट रहने और एक अच्छी और हेल्दी लाइफस्टाइल जीने के महत्व का अहसास हो गया है। इससे पूरी तरह से शारीरिक और मानसिक तंदुरुस्ती मिलती है। ‘नेशनल फिटनेस डे‘ के मौके पर एण्डटीवी के कई सारे कलाकारों ने फिटनेस की अपनी दिनचर्या के बारे में बताया। उन कलाकारों में ‘हप्पू की उलटन पलटन‘ से दबंग राजेश (कामना पाठक) और कैट सिंह (आशना किशोर), ‘संतोषी मां सुनाये व्रत कथायें‘ से इंद्रेश (आशीष कादियान) और) ‘और भई क्या चल रहा है?’ से शांति मिश्रा (फरहाना फातिमा शामिल हैं। कामना पाठक उर्फ दबंग राजेश का कहना है, ‘‘महामारी की वजह से हमें यह बात समझ आ गयी है कि फिट और हेल्दी रहना कितना महत्वपूर्ण है। ‘नेशनल फिटनेस डे‘ के मौके पर मैं सभी लोगों से गुजारिश करती हूं कि एक्टिव और अच्छा खाने की हेल्दी आदत डालें। जान है तो जहान है! मैं इस बात का पूरा ध्यान रखती हूं कि घर का बना खाना खाऊं और उसे समय पर खाऊं।

अपनी प्लेट को एक बार में ही बहुत ज्यादा ना भरें और एक बार में ही बहुत सारा ना खायें, बल्कि थोड़ी-थोड़ी देर में संतुलित खाने से पेट भरें। मैंने जंक फूड खाना छोड़ दिया है और मैंने सबसे अच्छा कदम उठाया है सब्जी-फल वाली डाइट लेने का। साथ ही मैं आष्टांग योगा का भी अभ्यास करती हूं और मुझे अपने गुरु सुवीर बाल्वी के सेशन में काफी अच्छा लगता है।‘‘आशना किशोर उर्फ कैट सिंह कहती हैं, ‘‘फिजिकली फिट रहने से आपके शरीर पर अच्छा प्रभाव पड़ता है और मेंटली भी। खासकर जबकि कोविड के मामले इतने तेजी से बढ़ रहे हैं, ऐसे में अपनी इम्युनिटी हमेशा ही बेहतर बनाये रखना जरूरी है। यदि कोई अपनी हेल्थ का ख्याल रखता है और बैलेंस डाइट लेता है तो उसके बीमार पड़ने का खतरा कम हो जाता है। लाॅकडाउन की वजह से मेरे जिम का समय बदल गया है, लेकिन मैंने इसे पूरी तरह से नहीं छोड़ा है, क्योंकि मैं घर पर भी एक्सरसाइज जरूर करती हूं। डिनर के बाद मैं वाॅक के दौरान अपने स्टेप्स गिनती हूं और मुझे सुबह जल्दी उठकर वाॅक करना अच्छा लगता है।

मैं अपनी लाइफस्टाइल में बदलाव करते हुए काफी समय से लिफ्ट की जगह सीढ़ियों का इस्तेमाल कर रही हूं। यह कार्डियो के लिये अच्छा माना जाता है।‘‘ आशीष कादियान उर्फ इंद्रेश कहते हैं, ‘‘हमारी सेहत और तंदुरुस्ती का असर सिर्फ हम पर ही नहीं, बल्कि हमारे अपनों पर भी पड़ता है। उनकी खराब सेहत उनके लिये चिंता का कारण हो सकता है और यह जागने का समय है। मुझे हमेशा ही अपनी मां के हेल्थ की चिंता रहती है, खासकर इस महामारी के दौरान और ऐसा ही उनके साथ भी है। हेल्दी और फिट रहने के लिये हम हब्र्स मिला हुआ काढ़ा हर सुबह पीते हैं ताकि हमारी इम्युनिटी अच्छी बनी रहे। हम हर दिन योगा करते हैं, क्योंकि मैं अनुशासन में रहना चाहता हूं! भगवान शिव ने अपनी भक्ति के दौरान जिस तरह की लगन और समर्पण दिखाया है वह मुझे बहुत पसंद है। ‘नेशनल फिटनेस डे‘ के मौके पर अपनों को एक सेहतमंद जिंदगी जीने के लिये प्रेरित और प्रोत्साहित करें। रहिये, चुस्त, दुरुस्त और तंदुरुस्त”

फरहाना फातिमा उर्फ शांति मिश्रा कहती हैं, ‘‘काम और समय की कमी का बहाना करके हम अक्सर अपनी सेहत को नजरअंदाज कर देते हैं। एक हेल्दी माइंड, बाॅडी और सोल ही एक लंबी, खुशहाल जिंदगी का उपाय है। सही भोजन और सही एक्सरसाइज आपको फिट रखता है और लंबी उम्र देता है! मैं हर दिन अपनी कैलोरी पर पूरी नजर रखती हूं। आप जो खाते हैं आप वैसे ही होते हैं और मैंने हेल्दी खाने को चुना है। फिट रहने को सजा से ज्यादा सुविधा के तौर पर देखना चाहिये। अपने रूटीन को मजेदार बनाने के लिये मैंने एक्सरसाइज से ब्रेक के रूप में डांस को शामिल कर रखा है। ऐसी एक्टिविटी करें जो आपके लिये सही हो और आपके शरीर को आराम भी मिले। ‘नेशनल फिटनेस डे‘ के मौके पर, मैं सबको अच्छी सेहत की शुभकामनाएं देती हूं। सुरक्षित रहें और सेहतमंद रहें!”

 

SHARE

Mayapuri