‘गेम ऑफ अयोध्या’ से BAN हटने पर बवाल

1 min


करीब आठ महीने पहले सेंसर बोर्ड ने फिल्म ‘गेम ऑफ अयोध्या’ को ये कहते हुये बैन कर दिया था कि इस फिल्म के रिलीज होने के बाद सांप्रदायिक दंगे हो सकते हैं । इसके बाद फिल्म के निर्माता ने ट्रिब्युनल का दरवाजा खटखटाया । करीब आठ महीने की जद्दोजहद के बाद ट्रिब्युनल का रिजल्ट हाल ही में फिल्म को बरी कर देने का आया है यानी फिल्म सर्टीफिकेशन एपिलेट ट्रिब्युनल के रिटायर्ड जस्टिस मनमोहन सरीन की अध्यक्षता में फिल्म को बरी करते हुये उसे ए/यू सर्टीफिकेट के साथ उसके रिलीज होने का रास्ता साफ कर दिया है।

इन दिनों गुजरात में चुनाव का माहौल है। कहा जा रहा है कि बीजेपी ने राम मंदिर का मुद्दा भुनाने के लिये ट्रिब्युनल पर दबाव डाल फिल्म को बरी करवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। जबकि  फिल्म के निर्माता इस बात को सरासर गलत  बताते हुये कहते हैं फिल्म आठ महीने तक  सेंसर बोर्ड के बीच फंसी रही है ये इत्तेफाक है कि फिल्म को ऐसे समय में पास कर उसे यूए सर्टीफिकेट दिया है जब गुजरात में चुनावी माहौल है, लेकिन फिल्म से न तो बीजेपी और न ही उसका चुनाव से कोई लेना देना है। फिल्म में ऐसा कुछ भी नहीं था इसीलिये ट्रिब्युनल ने उसे बिना कोई कट् दिये पास करार दिया । फिल्म चौबीस नवबंर को रिलीज होने जा रही है।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये