हर्षदीप कौर

1 min


सूफी सुल्तान हर्षदीप कौर को जन्मदिन मुबारक हो

संगीत की दुनिया में बहुत ही छोटी सी  उम्र में कदम रखने वाली सूफी सुल्तान व पार्श्व गायिका हर्षदीप कौर ने अपने छोटे से बॉलीवुड करियर में अपनी गायिकी से खुद को लीडिंग सिंगर्स में शुमार कर लिया है। हर्षदीप का जन्म 16 दिसंबर 1986 को एक सिख परिवार में दिल्ली में हुआ था। हर्षदीप कौर ने अपनी प्रारंभिक पढ़ाई स्प्रिंग डेल्स स्कूल, पूसा रोड दिल्ली से की है व  20 मार्च 2015 को हर्षदीप कौर की शादी उनके बचपन के साथी मंकित सिंह से हुई।

हर्षदीप को बचपन से ही संगीत में दिलचस्पी थी,व यूँ कहे तो हर्षदीप को संगीत विरासत में मिला था क्योकि  उनके पिता सविंदर सिंह की संगीत वादयंत्रों की फैक्ट्री थी।  उन्होंने महज छ साल की उम्र में संगीत की तालीम हासिल करना शुरू कर दी थी। उन्होंने भारतीत शास्त्रीय संगीत की शिक्षा दिल्ली संगीत रंगमंच के लोकप्रिय सिंह ब्रदर्स उर्फ़ श्री तेजपाल सिंह से हासिल की है। हर्षदीप संगीत की दुनिया में आगे जाना चाहतीं थीं जिस कारण उन्होंने दिल्ली स्कूल ऑफ़ म्यूजिक में दाखिला ले लिया।

हर्षदीप कौर एक ऐसी अकेली बॉलीवुड सिंगर हैं जो दो रियलिटी शोज़ की विनर रह चुकीं हैं।  कौर ने साल 2008 में एनडीटीवी इमेजिन के शो जूनून-कुछ कर दिखाने का में हिस्सा लिया था। यह एक ऐसा सिंगिंग बेस्ड रियलिटी शो था, जिसमे हिंदुस्तानी और पाकिस्तानी कंटेस्टेंट थे।इस शो में कौर ने कई सुफ़िआना परफॉरमेंस दी, उनकी परफॉरमेंस से प्रभावित होकर बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने उन्हें ‘सूफी की सुल्तान’ का टाइटल तक दे डाला था। हर्षदीप  कौर बॉलीवुड में सूफी गानों के लिए जानीं जातीं हैं। हर्षदीप बॉलीवुड में सभी बड़े संगीत निर्देशकों के साथ काम कर चुकीं हैं।  हर्षदीप कौर बॉलीवुड में काफी पहले से सक्रीय थीं।  लेकिन उन्हें पहचान रॉकस्टार के गाने ‘कतिया करूँ’ से मिली थी।  इसके बाद उन्होंने यश चोपड़ा निर्देशित जब तक है जान का ‘हीर’ गाना गाया जो लोगों के बीच काफी लोकप्रिय हुआ।  हर्षदीप बॉलीवुड में अब तक कई गानों में अपनी आवाज दे चुकीं हैं व हर्षदीप कौर एमटीवी वीडियो गागा 2001 की भी विजेता रह चुकीं हैं। इनका लास्ट सांग 2016 में ‘आई फिल्म हैप्पी भाग जाएगी’ और ‘बार बार देखो’ मूवी का “हैप्पी ओए” और ‘नच्दे  ने सारे’ था व इनके अपकमिंग प्रोजेक्ट्स में “जोबन मधुबन” एक मराठी शो है।

SHARE

Mayapuri