शोले नहीं चली, यह सुनते ही घबरा गयी थीं हेमा मालिनी

1 min


16 अक्टूबर को बॉलीवुड की ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी का जन्मदिन होता है। हेमा मालिनी के नाम यूँ तो दर्जनों हिट फिल्म्स हैं। बहुत सी ब्लाकबस्टर्स हैं लेकिन जितनी तारीफ लोग उनके ‘बसंती’ करैक्टर की करते हैं, उतनी किसी एक्ट्रेस के किसी भी करैक्टर की तारीफ नहीं होती।

बसंती यानी शोले, रमेश सिप्पी की मेगा-बजट फिल्म जिसे बनने में क़रीब दो साल लगे थे। अगस्त में जब शोले रिलीज़ हुई और शुक्रवार का पहला शो खत्म हुआ तो फिल्ममेकर रमेश सिप्पी की साँसे ही अटक गयीं। भला क्यों? क्योंकि उन्हें ख़बर मिली की लोगों को फिल्म पसंद नहीं आई।

अमिताभ बच्चन के मशहूर रियलिटी शो कौन बनेगा करोड़पति हेमा मालिनी बताती हैं कि रमेश सिप्पी उनके पास आए, तब वह एक फिल्म की शूटिंग कर रही थीं। फिर रमेश सिप्पी को देखकर हेमा जी ने पूछा कि क्या हुआ फिल्म का? कैसी रही?

तब वह गर्दन हिलाते हुए बोले “दर्शकों को समझ नहीं आई। उन्हें मज़ा नहीं आया” इतना सुनकर हेमा मालिनी बहुत परेशान हो गयी थीं.

आगे की कहानी अमिताभ बच्चन बताते हैं कि उसी शाम अमिताभ बच्चन के घर एक मीटिंग बैठाई गयी जिसमें फिल्म के लेखक सलीम खान, रमेश सिप्पी, धर्मेंद्र और अमिताभ मौजूद थे। इस दौरान यह तय हुआ कि फिल्म में जय की मौत को बदल दिया जाए और उसे जिन्दा कर दिया जाए, क्योंकि शायद राधा (जया बच्चन) के फिर से विधवा हो जाने की बात दर्शक पचा नहीं पा रहे हैं।

लेकिन फिर रमेश सिप्पी ने कहा कि मंडे तक देख लेते हैं, वर्ना कुछ चेंजेस कर लेंगे।

पर सोमवार आते-आते तो इतिहास ही बन गया और शोले लोगों को हाथों-हाथ पसंद आने लगी।

केबीसी में अमिताभ यह भी बताते हैं कि शोले के दौरान जया बच्चन गर्भवती थीं, उनकी बिटिया श्वेता उनके पेट में थी।

SHARE