फिरंगी हो या भारतीय, मर्द को औरत साड़ी में ही अच्छी लगती है- इलियाना डिक्रूज 

1 min


इलियाना डीक्रूज़ भारतीय बड़े परदे की फिर चाहे वो -बॉलीवुड एवं टॉलीवुड हो, इलियाना एक जानी मानी फिल्मी हस्ती है। 2016 में तेलुगु फिल्म ‘देवदासु’ के लिए फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला उन्हें। और फिर कुछ साउथ की फिल्में करने के बाद उन्होंने निर्देशक अनुराग बासु की फिल्म ‘बर्फी’ में अपना मंत्रमुग्ध कर देने वाला अभिनय दिखाया फिल्मफेयर अवॉर्ड – बेस्ट डेब्यू की श्रेणी में जीत, यहाँ भी सब फिल्मकारों ने इलियाना को अपना ही लिया। इस फिल्म के बाद उन्हें हिंदी फिल्मी दुनिया ने मानो दोनों हाथों से स्वागत किया और काफी फिल्में भी कर इलियाना ने यहाँ बॉलीवुड में अपने पैर जमा ही लिये। हाल ही में इलियाना अपने जोड़ीदार एंडरेव के साथ ढेर सारी इंस्टाग्राम फोटोज डाल रही है सो हमने उनके और उनके जोड़ीदार एंडरेव के रिश्ते के बारे में ढेर सारे सवाल किये। पहली बारी इलियाना ने खुल कर हमारे सवालों के जवाब भी दिए –

इलियाना डीक्रूज़ के साथ लिपिका वर्मा की पेशकश

फिल्म ‘रेड‘ में अपने किरदार के बारे में कुछ बताये ?

देखिये जब मैं अजय देवगण के साथ फिल्म ‘बादशाहो’ के लिए शूट करने पहुंची, पहले ही दिन मुझे अजय ने इस फिल्म के बारे में बताया था। यह कहना ज्यादा नहीं होगा कि इस फिल्म में अजय देवगण का बहुत ही बढ़िया किरदार है। पूरी फिल्म उन पर ही है। अजय ने बड़े ही सलीके से मुझे कहा था कि यह फिल्म ‘रेड’ तुम एक बार जा कर नरेशन सुन लो। अच्छी लगे कहानी तो कर लेना और पसंद न आए तो तुम्हारी इच्छा पर निर्भर करता है। नरेशन सुना तो मुझे इस फिल्म की कहानी बेहद पसंद आयी। और हालांकि मेरा किरदार बहुत महत्वपूर्ण है किन्तु बहुत बड़ा भी नहीं है। किन्तु 80 के दशक की महिलाये इतनी फॉरवर्ड और इतनी फ्री स्पिरीटेड हो सकती है ?  सोच कर मुझे यह किरदार बहुत अच्छा लगा और मैंने इस फिल्म को करने के लिए हामी भर दी।

इंस्टाग्राम पर अपनी और एंडरेव की फोटोज डालती रहती है – जुबान से भी दीजिये न ?

इस समय मैं अपने जीवन से, जो दौर चल रहा है मेरे जीवन में। ..उस दौर से मैं बेहद ही प्रसन्न हूँ। जो कुछ मुझे बोलना होता है वह मैं इंस्टग्राम में फोटोज डाल कर जता देती हूँ। जुबान से क्यों बोलू? बस मेरी खुशी का कारण एंडरेव है। बेशक, जीवन का यह दौर मेरे लिए बहुत अच्छा है। जिन्दगी बहुत ही बढ़िया चल रही है।

अपने नए प्यार, परिवार एवं प्रोफेशन में कैसे बैलेंस संतुलन, करती है आप ?

बहुत मुश्किल होता है दोनों में संतुलन बनाये रखना। किन्तु यदि इच्छा शक्ति सुदृढ़ हो तो क्या कुछ नहीं कर सकते हैं हम बतौर इंसान। जब कभी दोनों में से किसी एक का चयन करना होता है तो सही मायने में बड़ी कठिनाई होती है। कहती है मैं अपने परिवार से भी बहुत प्रेम करती हूँ और अपने प्रोफेशन के प्रति भी उत्साहित रहती हूँ सो कुछ दिनों के लिए यदि मुझे परिवार का साथ पाने के लिए कुछ थोड़ी बहुत फिल्में मिस करना पड़े तो मुझे कोई परहेज नहीं होता है। हालांकि मुझे काफी लोगों ने यह भी कहा है कि यदि तुम छुट्टी पर यूं जाती रही तो बहुत कुछ मिस भी कर सकती हो। किन्तु मेरा यह मानना है कि आज से 20 वर्ष पश्चात् मुझे ऐसा न लगे कि मैंने वह जो मुझे करना था नहीं किया। कम से कम अपने हिसाब से जीवन बिता रही हूँ तो आगे चल कर मुझे पछताने वाली भावना नहीं सतायेगी न? बस इसीलिए जो जो जब जब करना होता है मैं कर ही लेती हूँ।

आज जब कि आप रियल रिश्ते में है क्या कहना चाहेंगी ? इस रियल रिश्ते की वजह से रील रिश्ते अच्छी तरह पेश कर पाती होंगी ?

जी नहीं ऐसा नहीं है। दरअसल में, हर कोई अपने रिश्ते अपने बनाये हुए रूल्स के हिसाब से ही निभाते हैं। आज जब पलट कर देखती हूँ तो मुझे ताज्जुब होता है मेरे माता-पिता के रिश्ते के बारे में सोच कर। वाकई उन्होंने अपना रिश्ता बहुत ही बेहतरीन ढंग से जमाये रखा है। हर किसी का रिश्ता अलग अलग समीकरण से चलता है। अब इस फिल्म ‘रेड’ में -मैं 80 की दशक की खुले विचारों वाली पत्नी का किरदार निभा रही हूँ। जब कि ‘मुबारकां’ में रील पर मैं उन्हें थप्पड़ मारती रहती हूँ। रियल लाइफ में ऐसा नहीं कर पाऊँगी – कोई और तरीका होगा मेरा उन्हें रिश्ते में बांधे रखने का – वह मैं आप को नहीं बताऊँगी। मैं अपने जोड़ीदार को कभी थप्पड़ नहीं मार पाऊँगी।

एंडरेव को आपकी कौन-सी बातें पसंद है और कौन-सी नापसंद ? और आप उनमें क्या पसंद-नापसंद करती है ?

मेरी क्या चीज उन्हें पसंद है यह आप कभी उनसे मिलियेगा तो जरूर पूछियेगा। लाल पीली हो रही इलियाना खुशी से बोली, ‘‘दरअसल में वह बहुत अच्छी और रोमांटिक लव लेटर्स लिखते थे मुझे। और बहुत कमिटेड भी है इस रिश्ते में। मुझे विश्वास है वह मुझे कही दुखी नहीं करना चाहेंगे। और वो मुझे  यही कहते हैं कि -तुम्हारी हजारों चीज मुझे तुम्हारी तरफ आकर्षित करती है और खुशी भी देती है।

आप उन्हें पहली बारी कैसे मिली ?

मुझे उन्होंने पहली बारी जब फोन किया तब उनकी मंत्रमुग्ध कर देने वाली बातें सुन कर ही मुझे एक अजीब और अच्छी सी फीलिंग हुई। बस उसी दिन मुझे लग गया यह मेरे लिए कोई स्पेशल बंदा है।

क्या वो यहाँ इंडिया में आकर कुछ प्रोफेशन कर सकते हैं ?

– क्यों नहीं कर सकते? एंडरेव फोटोग्राफी में बहुत अच्छे हैं। शायद यह एक प्रोफेशन उनके लिए अच्छा रहेगा। वह अलग अलग आदमी एवं महिलाओं की बेहतरीन तस्वीरें खींच सकते हैं, सिर्फ फोटोशॉप करना उन्हें नहीं आता है।

महिलाओं की तस्वीरें खींचते हैं आप को जलन नहीं होती ?

हंस कर बोली -जलन क्यों होगी वह मेरी भी सबसे बेस्ट तस्वीरें खींचते हैं।

वो कहते हैं न आदमी के दिल में उतरना हो तो उसके पेट के जरिये उतरो। क्या आप स्वादिष्ट पकवान बनाती हैं एंडरेव के लिए ?

जी बिल्कुल। उन्हें हरी मूंग की दाल बेहद पसंद है और मेरे हाथ की बनाई हुई यह हरी दाल उन्हें नॉन वेज से भी स्वादिष्ट लगती है। और भी कई सारी खाने की स्वादिष्ट चीजें बनाकर उन्हें खिलाती हूँ।

आप सबसे सुंदर उन्हें कौन से वस्त्र में लगती है?

आपको यह बता दूँ चाहे फिरंगी हो या भारतीय मर्दों को हर औरत साड़ी में सबसे खूबसूरत लगती है। जब उन्होंने मुझे बादशाहो और मुबारकां में साड़ी पहने हुए देखा तो बोले-हे ! यू लुक हॉट इन ए साड़ी !

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए  www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज Facebook, Twitter और Instagram परa जा सकते हैं.


Like it? Share with your friends!

Lipika Varma

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये