रेप केस के आरोपी करीम मोरानी की जमानत हुई ज़ब्त

1 min


बॉलीवुड में हर कोई हीरो नहीं होता और जो बड़े बड़े सामाजिक मुद्दों पर एक्टिंग करते देखे या फिल्म बनाते दिखे तो इसका मतलब ये नहीं की वो उन बातों को अपनी असल ज़िन्दगी में भी मानता हो। और ज़्यादातर लोग इनकी इसी रील लाइफ इमेज से से इम्प्रेस होकर उन्हें रियल लाइफ हीरो समझने लग जाते हैं। लेकिन उनकी इन्ही गलतफहमियों को दूर करते कई बॉलीवुड स्टार्स हैं जो अपनी पैसे और रुतबे के चलते क्राइम करते हुए भी नहीं झिझकते और फिर उन्हें देश के कड़े कानून का सामना करना होता है। जिसका उदहारण है बॉलीवुड निर्माता करीम मोरानी जिनपर रैप केस का आरोप है और उनकी जमानत तक जपत हो चुकी है।

करीम मोरानी पर इस साल जनवरी में एक 25 वर्षीय युवती ने शिकायत दर्ज कराई थी कि मोरानी ने वर्ष 2015 में मुंबई और हैदराबाद के एक फिल्म स्टूडियो में कई बार उसके साथ बलात्कार किया और चुप करवाने के लिए मोरानी ने उसके साथ शादी करने का झूठा वादा भी किया था। आरोप लगाने वाली युवती मोरानी की बेटी की दोस्त है। शिकायत के आधार पर मोरानी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। इसके बाद, मोरानी को 30 जनवरी को एक स्थानीय अदालत से अग्रिम जमानत मिल गई थी लेकिन अब सुनने में आ रहा है की हैदराबाद की एक स्थानीय अदालत ने दिल्ली की इस महिला के साथ कथित तौर पर बलात्कार करने के मामले में आरोपी बॉलीवुड निर्माता करीम मोरानी की अग्रिम जमानत रद्द कर दी है। शहर की अतिरिक्त मेट्रोपोलिटन सत्र अदालत ने मोरानी को 22 मार्च या उससे पहले हैदराबाद के हयातनगर पुलिस थाने में आत्मसमर्पण करने के निर्देश दिए हैं।

हालांकि, उसके बाद पुलिस ने मोरानी की अग्रिम जमानत रद्द करने की मांग करते हुये अदालत में एक याचिका दायर की थी। हयातनगर पुलिस थाने के निरीक्षक जे नरेंद्र गौड़ ने बताया। ‘‘अदालत द्वारा मोरानी को अग्रिम जमानत दिए जाने के बाद हमने जमानत को रद्द करने की मांग करते हुए एक याचिका दायर की और अदालत में सबूत पेश किए। ’’ गौड़ ने कहा, ‘‘अदालत ने अभियोजन पक्ष के तर्कों पर विचार करते हुए मोरानी की अग्रिम जमानत रद्द कर दी और उसे 22 मार्च को या इससे पहले पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण करने का निर्देश दिया ’’।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये