कल्कि को चाहिये सदाबहार जवानी और हुस्न

1 min


kalki-koechlin.gif?fit=650%2C450&ssl=1

जिस इंडस्ट्री मे सौंदर्य की पूजा की जाती है वहाँ की सुंदरियां अगर बुढ़ापे की कल्पना से ही काँप जाये तो इसमें आश्चर्य की क्या बात है ? हमारे बॉलीवुड की जवान, गौरी, नीली आँखों और सुनहरे बालों वाली कल्कि कोचलिन को भी बुढ़ापे से लगता है डर, वे कहती हैं, “हिंदी फ़िल्म इंडस्ट्री में चालीस के पार की नायिकाओं को काम मिलना मुश्किल होता है। क्या लव स्टोरी सिर्फ जवान नायिकाओं की बपौती है, क्या उम्रदराज हिरोइंस के लिये कोई लव स्टोरी वाली फ़िल्म नहीं बन सकती?” शायद नहीं बन सकती, इसलिए कल्कि को बूढ़ी होने से लगता है डर।

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये