मैं हर दिन बेस्ट देता हॅूं: सागर पारेख

1 min


मशहूर मॉडल और 2016 में सीरियल “गुमराह” से अभिनय में कदम रखने वाले सागर पारेख अब तक ‘इंटरनेट वाला लव’, ‘राजा बेटा’, ‘मेरी गुड़िया’,’सावधान इंडिया’ जैसे सीरियलों में अभिनय कर चुके हैं। तो वहीं वह सब टीवी के सफल सीरियल “तेरा यार हॅूं मैं” में लक्ष्य का किरदार निभाने के अलावा इन दिनों ‘कलर्स ‘टीवी के “बालिका वधु 2” में भी नजर आ रहे हैं।

सीरियल “तेरा यार हॅूं मैं” के 250 एपीसोड पूरे होने से सागर पारेख काफी उत्साहित हैं। इस उत्साह की दो अन्य वजह भी हैं। पहली वजह इस सीरियल के सफल पचास एपीसोड में उनके किरदार का पचास एपीसोड में नजर आना और दूसरी वजह उनका अच्छे नंबरों से  स्नातक की षिक्षा पास करना भी है।

एक साथ इन तीन उपलब्धियों की चर्चा करते हुए सागर पारेख कहते हैं- “यह निश्चित रूप से मेरे लिए तेहरी उपलब्धि है और इसके बारे में खुश और आभारी होने के अलावा मुझे लगता है कि इन सभी वर्षों में मैं जिस पूरी प्रक्रिया से गुजरा वह अपने आप में एक उत्सव था। हालांकि यह यात्रा मेरे लिए बिल्कुल भी आसान नहीं थी। पर मैंने इस प्रक्रिया का भरपूर आनंद लिया।  मुझे चुनौतियां पसंद हैं और अभिनय के क्षेत्र में एक स्थिर करियर बनाते हुए खुद को शिक्षित करना मेरे लिए एक चुनौती थी। लेकिन मैंने इसके हर पल का जश्न मनाया।”

वह आगे कहते हैं- “सिर्फ मेरे पेशे में ही शिक्षा बहुत महत्वपूर्ण नहीं है, बल्कि हर पेशे के लिए षिक्षा बहुत मायने रखती है। क्योंकि शिक्षा आपको बॉक्स से बाहर खड़ा करती है। यह आपको उन चीजों से अवगत कराती है, जिनके बारे में आप नहीं जानते थे। यह जीवन में हर चुनौतियों और परिस्थितियों का सामना करने व सभी चीजों को संभालने में मदद करती है। मुझे तो स्नातक होना बहुत अच्छा लगता है। मेरे पास सीमित समय, सीमित संसाधन थे, और मेरे दिमाग में केवल एक ही बात थी कि मुझे उनका अधिकतम उपयोग करना है। मैं आंखें बंद कर अपने लक्ष्य की तरफ बढ़ता रहा। आखिरकार अब मैं स्नातक हूं और अभिनय के क्षेत्र में भी अच्छा काम कर रहा हूं।”

सीरियल “तेरा यार हॅूं” के 250 एपीसोड पूरे होने का जिक्र छिड़ने पर सागर पारेख ने कहा – “इस सीरियल के 200 एपीसोड पूरे होने के बाद मैं इस सीरियल में लक्ष्य के किरदार के रूप में जुड़ा। उस वक्त इसे काफी पसंद किया जा रहा था। यह एक ऐसा सीरियल था, जिसका हिस्सा बन मैं अपनी छाप छोड़ना चाहता था। क्योंकि इससे जुड़ा हर षख्स, चाहे वह स्पॉट बॉय हो या अभिनेता या निर्देशक या निर्माता हो,सभी वास्तव में ईमानदार है। 200 एपिसोड के बाद भी मैंने उनमें अपने काम के जीवन के हर पल में अच्छा करने की भूख देखी।”

‘तेरा यार हॅूं मैं “में अभिनय करने को चुनौती बताते हुए सागर पारेख कहते हैं” यह मेरे लिए एक बड़ी चुनौती थी, क्योंकि हर कोई अपने काम में इतना अच्छा था कि 200 एपिसोड के बाद मेरे मन में एक सवाल था कि क्या मैं इस सीरियल में अपनी पहचान बना पाउंगा? लेकिन मैंने अपनी तरफ से बेहतरीन परफार्मेंस देने की पूरी कोषिष की।अब मैने 50 एपीसोड पूरे कर लिए हैं। मुझे खुशी है कि लोगों ने मेरे चरित्र को पसंद किया और अब भी इसे प्यार कर रहे हैं। और यह न केवल दर्शकों बल्कि यहां तक कि निर्माताओं और टीम के साथ काम कर रहा है, जिन्होंने मेरे काम की सराहना की है। और इसके कारण हर कोई जिस दिन मैं काम से घर वापस जाता हूं, मुझे अच्छी नींद आती है।’’

पहले राष्ट्रव्यापी ‘कोविड -19’ लॉकडाउन के दौरान शूटिंग प्रतिबंध हटाए जाने के लगभग दो माह बाद 31 अगस्त, 2020 को ‘‘तेरा यार हूं मैं’’ ऑन-एयर हुआ। कुछ अन्य सीरियल भी थे,जो उसी समय ऑन-एयर हुए थे,लेकिन कम दर्शकों के कारण उन्हें बंद कर दिया गया था। इससे सफलता की भावना आती है। लेकिन यह प्रशंसा की भावना की तरह है। क्योंकि हम सभी वास्तव में कठिन समय से गुजर रहे हैं। जिन सीरियलों का प्रसारण बंद हुआ,वह बुरे नहीं थे, लेकिन यह समय की नियति थी जिससे हर कोई गुजर रहा था।’’

सागर ने निष्कर्ष निकाला, ‘‘यह मेरे पास कृतज्ञता की भावना से अधिक है। क्योंकि दुनिया आपको इस समय बदले में कुछ दे रही है, भले ही हर कोई वास्तव में कठिन समय से गुजर रहा हो।’’

SHARE

Mayapuri