जब मैं खुद डर जाऊंगा तभी शॉट ओके होगा: विक्रम भट्ट  

1 min


निर्देशक विक्रम भट्ट आपको डराने के हुनर और प्रतिभा से लैस है. लेकिन एक फिल्म बनाते समय वो ऐसा क्या करते है, जो आपको हिला कर रख दे? हॉरर फ़िल्में बनाते समय निर्देशक से उनके विज़न के बारे में पूछने पर, उन्होंने बताया ज़कि वे तब तक शॉट के ओके होने इंतजार करते हैं जब तक कि वे उस शॉट से खुद डर नहीं जाते. अब यह तो बिल्कुल हैरान कर देने वाली बात हो गई! सनाया ईरानी और शिवम भार्गव अभिनीत घोस्ट नामक एक नई फिल्म को ले कर विक्रम भट्ट ने पहले कहा था कि यह निश्चित रूप से उनके करियर की सबसे डरावनी फिल्म है. हॉरर जोनर के उस्ताद की इस फिल्म का अब हम और अधिक इंतजार नहीं कर सकते!

विक्रम भट्ट कहते हैं, “एक हॉरर फिल्म बनाने वाले के रूप में मैं एक अलग तरह का दृष्टिकोण अपनाता हूं ताकि हम दर्शकों में भय पैदा करने में सक्षम हो सके.  मैं दूसरे तरीके से काम करता हूं. मैं पहले खुद में डर पैदा करता हूं. मुझे एक शॉट को ओके करने के लिए खुद डरना होगा. एक दृश्य में सनाया को डरना था, हमने उसे तब तक शूट किया, जब तक कि मैं खुद नहीं डर गया. इस तरीके ने मेरे लिए पहले भी काम किया है क्योंकि अगर मैं इस पल को जी रहा हूँ तो दर्शक भी उस पल को जियेंगे. मुझे उम्मीद है कि घोस्ट दर्शकों की उम्मीदों पर खरा उतरेगा.”

घोस्ट आपको करण खन्ना की यात्रा पर ले जाती है, जिस पर उसकी पत्नी की हत्या का आरोप है, लेकिन उसका मानना है कि उसकी हत्या किसी आत्मा ने की है. आगे, एक शैतान की ऐसी भयावह कहानी है, जो आपको सदमे और भय से भर देगी. विक्रम भट्ट ने बताया कि घोस्ट का विचार उन्हें तब आया जब उन्होंने एक अखबार में पढ़ा कि कैसे एक ब्रिटिश अदालत ने एक मामले में एक आत्मा के ट्रायल की अनुमति दी. उन्हें इस फिल्म में अपनी ऊर्जा लगाने का फैसला किया. वाशु भगनानी प्रोडक्शन की घोस्ट का निर्देशन विक्रम भट्ट ने किया है. ये फिल्म 18 अक्टूबर को सिनेमाघरों में रिलीज होगी.

➡ मायापुरी की लेटेस्ट ख़बरों को इंग्लिश में पढ़ने के लिए www.bollyy.com पर क्लिक करें.
➡ अगर आप विडियो देखना ज्यादा पसंद करते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल Mayapuri Cut पर जा सकते हैं.
➡ आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज FacebookTwitter और Instagram पर जा सकते हैं.

SHARE

Mayapuri