रील से रियल तक अधूरी ही रही बॉलीवुड की ये अधूरी प्रेम कहानियां

1 min


Incomplete Real love stories of Bollywood

किस्सों में आज भी याद आती हैं बॉलीवुड की ये अधूरी प्रेम कहानियां

फ़रिश्ते ही होंगे जिनका हुआ इश्क मुकम्मल, इंसानों को तो हमने सिर्फ बर्बाद होते देखा है…

काव्य शास्त्र के सभी रसों में से एक है श्रृंगार रस। और इस श्रृंगार रस का एक अटूट हिस्सा है प्रेम। जिस पर पूरी कायनात कायम है। इस रस से हमारी फिल्म इंडस्ट्री भी अछूती नहीं रही है। प्रेम जैसा विषय तो हमेशा ही निर्देशकों को सबसे प्यारा रहा। इसीलिए दिलों को छू लेने वाली कई प्रेम कहानियां बड़े पर्दे पर फिल्माई गई। लेकिन कई ऐसे मौके भी आए जब रील के सामने आंखों ही आंखों में होने वाली ताकाझाकी ने रीयल लाइफ में भी दिलों में घंटियां बजा दीं। लेकिन हमेशा की तरह कुछ प्रेम कहानियां तो मुकम्मल हुई लेकिन कुछ आज भी अधूरी प्रेम कहानियों के रूप में मशहूर हैं। और किस्सों में आज भी याद आती हैं बॉलीवुड की ये अधूरी प्रेम कहानियां।

बरसों से कायम है इश्क़ अपने उसूलों पर,
ये कल भी तकलीफ देता था ये आज भी तकलीफ देता है

कहते हैं इश्क में जो ना हो सो थोड़ा…बॉलीवुड में अधूरे प्यार के कई ऐसे किस्से आज भी गूंजते हैं जो किसी फिल्म की पटकथा तक बन सकते हैं। आज हम आपको बॉलीवुड की अधूरी प्रेम कहानियां सुनाने जा रहे हैं। जो शायद शुरू ही हुई थीं कभी पूरी ना होने के लिए।

ये हैं असल ज़िंदगी की की अधूरी प्रेम कहानियां

1. दिलीप कुमार – मधुबाला

Incomplete love stories of Bollywood

Source – DT Next

मोहब्बत कितनी खूबसूरत हो सकती है ये मधुबाला को देखकर पता चलता है। और इसी खूबसूरत मोहब्बत की कैद में थे दिलीप कुमार। हैरानी की बात तो ये थी कि जितना दिलीप मधुबाला को चाहते थे मधुबाला भी दिलीप साहब के प्यार में उसी तरह गिरफ्त थीं। मुगल – ए- आज़म के ऐलान के साथ ही दोनों प्यार की बेड़ियों में जकड़े गए लेकिन फिल्म खत्म होने तक दोनों की राहें जुदा हो चुकी थीं। दोनों के प्यार के बीच विलेन बने मधुबाला के पिता अताउल्ला खान। जिन्होने दो प्यार करने वालों को पूरी तरह से जुदा कर दिया और इस गम से मधुबाला कभी उबर ही नहीं पाई।

2. गुरूदत्त – वहीदा रहमान

Gurudutt and Waheeda Rehmaan

Source – Pinterest

अगर बॉलीवुड की अधूरी प्रेम कहानियां सुनाई जाए तो गुरूदत्त और वहीदा रहमान का नाम लेना लाज़िमी हो जाता है। कागज़ के फूल, प्यासा, साहिब बीबी और गुलाम व चौदहवीं का चांद जैसी फिल्मों में साथ नज़र आने वाले ये दो नाम कब एक दूसरे को दिल दे बैठे पता ही नहीं चला। एक वक्त ऐसा भी आया जब गुरूदत्त का ज़िक्र वहीदा के बिना और वहीदा का ज़िक्र गुरूदत्त के बिना अधूरा सा लगता था। लेकिन समय बदला और समय का रूख भी। वहीदा और गुरूदत्त के बीच ना जाने ऐसा क्या हुआ कि दोनों एक दूसरे से जुदा हो गए लेकिन वहीदा से दूरी का दुख गुरूदत्त अपने अंतिम समय तक भुला नहीं पाए।

3. मिथुन चक्रवर्ती – श्रीदेवी

Love Story in Bollywood

Source – FilmiBeat

80 के दशक में अगर किसी प्रेम कहानी का ज़िक्र हुआ तो वो थी मिथुन और श्रीदेवी की लव स्टोरी। लेकिन इनकी कहानी में भी एक विलेन था। मिथुन पहले से शादीशुदा थे और वो अपनी पत्नी से किसी भी हालत में दूर नहीं रहना चाहते थे। लिहाज़ा श्रीदेवी ने इस रिश्ते को खत्म करने में ही अपनी भलाई समझी। कहा तो ये भी जाता है कि मिथुन और श्रीदेवी ने सभी से छिपकर शादी भी कर ली थी लेकिन जब श्रीदेवी को इस रिश्ते का कोई भविष्य नज़र नहीं आया तो वो मिथुन से दूर हो गई।

4. अमिताभ बच्चन – रेखा

Rekha and Amitabh

Source – Free Press Journal

कौन कहता है मोहब्बत आंखों से बयां होती है, ये सिलसिता तो आंखों से बयां होता है

जुबां से भले ही कभी कुछ ना निकला लेकिन अमिताभ और रेखा की आंखों ने इनके फसाने खूब बयां किए। कहते हैं जब कोई पहली ही मुलाकात में दिल हार बैठे तो फिर मिलने मिलाने की भला क्या ज़रूरत। कुछ ऐसा ही इन दोनों के साथ भी हुआ। रेखा और अमिताभ ने केवल 5 से 6 फिल्मों में साथ काम किया। लेकिन इतने में ही इनकी प्रेम कहानी मशहूर हो गई। फिल्म दो अनजाने के सेट से एक दूसरे की आंखों में खो गए और फिर देखते ही देखते ये सिलसिला आंखों से आगे बढ़कर दिल तक जा पहुंचा। लेकिन अमिताभ बच्चन उस वक्त शादीशुदा थे और जभिनेत्री जया बच्चन उनकी पत्नी थीं। इसीलिए इस प्रेम कहानी को यहीं खत्म होना पड़ा। सिलसिला वो आखिरी फिल्म थी जिसमें रेखा -अमिताभ साथ नज़र आए थे।

5. महेश भट्ट- परवीन बॉबी

Mahesh Bhatt and parveen Babi

Source – Amar Ujala

एक अभिनेत्री और एक निर्देशक के बीच अधूरी मोहब्बत का किस्सा आज भी बॉलीवुड के गलियारों में गूंजता है। महेश भट्ट और परवीन बॉबी एक दूसरे को बेइंतहा मोहब्बत करते थे। कहा जाता है कि परवीन बॉबी के लिए महेश भट्ट ने अपनी पहली पत्नी तक को तलाक दे दिया था। लेकिन दोनों की कहानी अधूरी ही रह गई। दोनों अलग हो गए और ये सदमा परवीन बॉबी बर्दाश्त नहीं कर सकीं। वो बॉलीवुड छोड़ गुमनामी में गम हो गई और अचानक दुनिया को बिना कुछ अलविदा कह गईं। बॉलीवुड की अधूरी प्रेम कहानियां इनकी कहानी का ज़िक्र किए बिना वाकई ज़रूरी है।

6. राज कपूर – नरगिस

Raj kapoor and Nargis

Source – Pinterest

राज कपूर की पहली नज़र का प्यार थीं नरगिस। राज कपूर नरगिस से बेइंतहा प्यार करते थे। लेकिन वो पहले से शादीशुदा थे। लिहाज़ा इन दोनों का प्यार भी कभी मुकम्मल ना हो सका। कहते हैं जब राज कपूर ने नरगिस को पहली बार देखा तो वो उनके हाथों में बेसन लगा था और कई सालों बाद यही सीन राज कपूर ने अपनी फिल्म बॉबी में दर्शाया। जिसमें डिम्पल कपाड़िया ने डेब्यू किया। था। वहीं नरगिस ने सुनील दत्त को अपना हमसफर चुना।

बॉलीवुड की ये अधूरी प्रेम कहानियां सुनने के बाद बस यही कहा जा सकता है

खत्म हो गई कहानी, बस कुछ अलफाज़ बाकी हैं,
एक अधूरे इश्क की एक मुकम्मल सी याद बाकी है।

और पढ़ेंः इस वजह से अमिताभ बच्चन ने छुपाया अपना और रेखा का रिश्ता

SHARE