INTERVIEW!! “ईमानदारी मेरी ताकत है” – अनुष्का शर्मा

1 min


अनुष्का शर्मा अपने जीवन के सबसे बेहतरीन फेज़ से गुजर रहीं है। जहां उनकी फिल्म पी.के. ने बॉक्स ऑफिस पर झंडे गाड़े हैं वही उनके बैनर तले बनी एन  एच 10 ने भी उन्हें बतौर निर्मात्री बॉलीवुड में अच्छा खासा स्थान दिलवाया है। अनुष्का ब्रांड्स के मामले में भी अपने आप को  खुशकिस्मत समझती है।

एक छोटी सी प्रेस कांफ्रेंस में अनुष्का ने सवालों के जवाब बहुत ही अच्छी तरह से दिए -पेश है हमारी संवाददाता लिपिका वर्मा द्वारा

अनुष्का के  अंदर कब आत्मविश्वास पैदा होता  है ?

“मुझे अपने बालों को हमेशा सही ढंग से रखना होता है तभी मेरे अंदर एक तरह की अनूठी शक्ति आती है। यदि मेरे बाल अच्छी तरह बने होते है तो मुझ में एक आत्मविश्वास पैदा होता है।”

क्या आपके लिए यह आपका सबसे बेहतरीन समय है ?

जी हाँ मेरे हिसाब से यह समय मेरी कामकाज़ी दुनिया का सबसे बेहतरीन समय है क्योंकि मैंने इस समय फिल्मों का निर्माण भी शुरू कर दिया है। यह मेरी जिंदगी का सबसे अच्छा  समय है, मैं यह कहूँ तो ज्यादा नहीं होगा।  बस मैं यही चाहती हूं कि यह समय हमेशा इसी तरह से चलता रहे।

2012090513468228402094267500

आपके अंदर वह कौन सी शक्ति है जो आपको सबसे बलवान बनाती  है? 

ईमानदारी ! मेरे हिसाब से ईमानदार होना सबसे अच्छी क्वालिटी है मुझ मैं ईमानदारी की भावना होने की वजह से मैं कभी भी किसी  चीज़ से डरती  नहीं हूं, सिर्फ इसलिए क्यूंकि मै हमेशा सच  बोलती हूं। सच्चाई का अपने अंदर होना एक बहुत ही अच्छी बात है, और इसी वजह से मैं खुश भी रहती हूं यही  मेरी ताकत है।

आप किसी भी ब्रांड का समर्थन करने से  पहले किन कारणों  का ध्यान रखती है ?

मैं कोई भी ब्रांड एंडोर्स करने से पहले सवाल पूछती हूं –

1 क्या यह किसी जातिवाद को बढ़ावा तो नहीं दे रहा है ?

2  या किसी तरह से सेक्सिस्ट का प्रचार तो नहीं कर रहा है?

3 या फिर किसी सामाजिक तबके से तो जुड़ा नहीं है ?

4  मैंने कभी फेयरनेस क्रीम इत्यादि का भी समर्थन कभी नहीं किया है और ना ही कभी करुँगी।

यह मेरा सौभाग्य है कि मुझे हमेशा से अच्छे ब्रांड्स के साथ जुड़ने का मौका मिला है।

Anushka Sharma_YE

आप अपने ट्विटर की वजह से हाल  ही में चर्चा में रही  है ,क्या कहना है ?

देखिये गलती किस से नहीं होती है? और मेरा बिल्कुल साफ मत था जो भी मैंने लिखा उसे यदि कोई उल्टा मतलब निकाल  कर कुछ बोले तो मुझे एतराज़ जरूर होगा ना? कई बार लोग फेक नाम के साथ कुछ भी लिख देते हैं बस इसी चीज़ से मुझे एतराज़ है। और फिर मैंने उन्हें ब्लॉक कर देना ठीक समझा।

आज़ादी आपके लिए क्या मायने रखती  है ?

आज़ादी मेरे लिए सब कुछ है। आज़ादी से ही हमें अपनी बात रखने की इजाजत मिली है और आज़ादी की वजह से हम जो कुछ भी विचार रखते है उन्हें जग जाहिर कर सकते है। मुझे किसी  भी तरह से अपने विचार प्रकट करने की आज़ादी ना मिले तो यह बात मुझे कतई पसंद नहीं आएगी। अपनी आज़ादी को मैं गलत ढंग से कभी भी इस्तेमाल नहीं करती हूं।

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये