INTERVIEW!! “मुझे टीवी क्वीन कहना अतिश्योक्ति ही होगा- टी वी अपने आप में ही एक क्वीन है – एकता कपूर

1 min


0

लिपिका वर्मा

एकता कपूर टेलीविजन की क्वीन मानी जाती हैं। एकता ने टेलीविजन और फिल्म प्रोड्यूस करने से पहले एक गर्राज का बिज़नेस शुरु किया था। छोटी सी उम्र में बिज़नेस करके बिज़नेस के ढ़ेर सारे गुण सीख लिए एकता ने। एकता का सफर मेहनत से शुरू हुआ और आज भी वह मेहनत के बलबूते पर हीं टेलीविजन क्वीन मानी जाती हैं।

कुछ प्रश्नों के जवाब एकता ने लिपिका वर्मा को दिए

एकता जैसे ही कमरे में दाखिल हुई एक टेरोट रीडर से मुखातिब हुई – सो हमने एकता से पुछा -आपका सवाल क्या होगा टेरोट रीडर से ?

मैं भला आपको अपने सवाल क्यों बताने चली ! सपाट सा जवाब दिया एकता ने। मैं तो यूं ही कुछ कार्ड खींच रही हूँ, देखती हूँ मेरे हिस्से में क्या आता है?

आप के सब के सब शोज अच्छी खासी टी आर पी बटोर ले जाते हैं, हाल ही में, “नागिन” भी नंबर वन पर है, क्या कहना चाहेंगी आप ?

सही बतलाऊँ तो मेरे लिए प्रोड्यूस करना, “कोशिश एक आशा ही है। मैं जब भी किसी शो की कहानी पर काम कर रही होती हूँ तो बतौर निर्माता यही सोचती हूँ कि मेरे दर्शकों को क्या अच्छा लगेगा ? और मेरी यही कोशिश होती  है कि कहानी ऐसी हो जो सबके मन को लुभाये।

कुछ सोच कर एकता ने कहा, “टेलीविज़न एक ऐसा माध्यम है जो घर घर के लोगों तक पहुँचता है। सो हमें खासकर औरतों के मनोविज्ञान को जहन में रखना होता है, मैं ऐसा कुछ भी लेख पसंद नहीं करती हूँ जिससे हमारी नारी शक्ति को ठेस पहुंचे। घर – घर तक कहानी को ले जाना कोई आसान काम नहीं होता है। वहाँ बड़े बुजुर्ग, जवान बच्चे और हर तरह की ऑडियंस होती है सो यह सब दिमाग में रखकर कहानी बनानी होती है। नागिन नंबर वन शो होगा और उसकी टी आर पी, सबसे ज्यादा हो गयी है, बनाते समय इस बात का एहसास नहीं था हमको। आज भी जब हम, “कसम तेरे प्यार की” शो लांच कर रहे हैं मैं कुछ भी नहीं कह सकती हूँ कि यह शो कैसा जायेगा ?  बस मेरी यही कोशिश होती है कि घर घर में हमारा शो जाये और सबको मंदरमुग्ध करदे।

54F_ekta

इस शो के बारे में कुछ बतलायें ?

इस शो की कहानी प्यार के हर पहलु को एक नयी परिभाषा देगी। ऋषि और तनुश्री की आत्माओं के बीच एक पड़ताल होगी और उन्हें बेहतरीन तौर से जोड़ा जायेगा। बचपन से जुडी आत्माएं एक दूसरे से कब और कैसे अलग हो जाती है इन सब पहलुओं पर आपको एक बेहतरीन कहानी परोसी जाएगी। ताजा तरीन हादसों से युक्त यह प्रेम कहानी अब कितना हमारे दर्शकों को लुभाती है यह तो समय ही बतलायेगा। शादी के बाद का प्यार बहुत परोस चुके हम, अब देखना यह होगा कि युथ के लिए किस तरह से प्यार परोसते हैं हमारे लेखक।

348148-ekta-2 (1)

आपको टीवी क्वीन कहा जाये तो अतिश्योक्ति नहीं होगा ना?

हंस कर बोली एकता, “जी नहीं टीवी खुद क्वीन है अपने आप में। जब जी में आता है हमें ढ़ेर सारी टी आर पी दे दिया करती है और जब चाहे हमारे हिस्से में कुछ भी नहीं आता। मुझे टीवी क्वीन कहना अतिशयोक्ति ही होगा न? क्योंकि कुछ साल पहले भी मुझे यही कहा गया था !!

आप का सक्सेस मंत्र क्या होगा ?

सरल सी बात है आप के अंदर जब तक चाह है काम करने की, तब तक आप कुछ न कुछ बेहतरीन ही करना पसंद करोगे। दरअसल में यदि मैं एक अच्छी कहानी देख पाती हूँ एक दिन में तो मुझे उस दिन बहुत ही संतुष्टि मिलती है और ख़ुशी भी बहुत मिलती है। काम में लग्न घट जाये तो वह काम कभी भी अच्छा नहीं बन पड़ता है। मेरा कोई भी सक्सेस मंत्र नहीं है भाई ! मैं तो बस हर दिन कुछ अच्छा काम करना चाहती हूँ और इसी लग्न के साथ हमेशा आगे को बढ़ती हूँ।

ekta-kapoor-4

अवॉर्ड आपके लिए क्या मायने रखता है ?

मैं बहिर्मुर्खी नहीं हूँ। मुझे बस अपने आप में रहना और काम में लिप्त रहना ही पसंद है। अवॉर्ड कौन दे रहा है और उसकी साख क्या है ? यह बहुत मायने रखता है हम सबके लिए अवॉर्ड मिलना तो सबको अच्छा ही लगता है। सीधी सी बात है मेरे लिए मेरा अवॉर्ड हर दिन ही होता है और वह है बेहतरीन काम कर पाना शिद्दत से और लग्न से जिस दिन ऐसा होता है मुझे लगता है कि अवॉर्ड मिल गया है मुझे।

“कसम तेरे प्यार की” 7 मार्च से अपना जलवा बिखेरने कलर्स चैनल पर जल्द आने वाला है सो आप सब टी वी के सामने बैठने के लिए तैयार हो जाएँ!!” अब देखना यह होगा कि, ” नागिन” की तरह “कसम” भी एकता के लिए टी आर पी लेकर आता या नहीं??

 


Mayapuri