INTERVIEW!! ‘‘शाहिद कपूर को मैं पहले से ही पंसद करती हूं’’ – आलिया भट्ट

1 min


बहुत कम अरसे में अपने आपको बेहतरीन अभिनेत्री साबित कर सफल अदाकारों में शामिल आलिया भट्ट की अगली फिल्म का नाम हैं ‘शानदार’। इस बार वो शाहिद कपूर और उनके पिता पंकज कपूर के साथ हैं। इस फिल्म को लेकर आलिया से हुई बातचीत ।

फिल्म को एक लाइन में बताना हो तो ?
फिल्म का तानाबाना एक शादी को लेकर बुना गया है। बेशक ये एक शादी है लेकिन यहां आपको सब कुछ अलग और नया होता दिखाई देगा ।

शाहिद को लेकर क्या कहना है ?

शाहिद को मैं पहले से ही पसंद करती रही हूं। मुझे उनकी मासूमियत बहुत अच्छी लगती है। लिहाजा मैं उनके साथ कोई फिल्म करने का इंतजार ही कर रही थी। इस फिल्म को लेकर तो मैं वैसे भी काफी एक्साइटिड हूं क्योंकि इसमें शाहिद और उनके पिता पंकज कपूर के साथ काम करने का अवसर मिला है। इसके अलावा विकास बहल जैसे उम्दा डायरेक्टर के साथ काम करने का अलग ही अनुभव था।

shahid-alia-gulaabo-7592

यह भूमिका आपके कितने करीब है ?

फिल्म में मेरे किरदार का नाम भी आलिया है। वह मुझसे काफी मिलती जुलती है क्योंकि वह भी मेरी तरह ही चुलबुली और दिन में सपने देखने वाली है। मैं बचपन में अक्सर कमरा बंद कर पता नहीं क्यों फालतू फंड में कूद फांद करती रहती थी और शीशे के सामने तरह तरह के मुंह बनाया करती थी। उन दिनों मुझे दिन में सपने देखना बहुत अच्छा लगता था। फिल्म की आलिया भी कुछ ऐसी ही है ।

फिल्म में बिकनी पहनने की कोई खास वजह रही ?

वो कहानी का ही एक हिस्सा है लेकिन मुझे पता था बिकनी पहनने से पहले किस तरह की बॉडी चाहिये। उसके लिये मुझे काफी मेहनत करनी पड़ी। मैं शाहिद के साथ काफी दिन जिम गई, तब जाकर कहीं अपनी बॉडी को एक खास शेप दे पाई। लेकिन बाद में बिकनी सीन के लिये मुझे बहुत सारी तारीफ हासिल हुई ।

alia-bhatt (2)

शाहिद के अलावा आपका उनके पिता यानि पंकज कपूर के साथ काम करने का कैसा अनुभव रहा?

फिल्म में पंकज सर मेरे पिता बने हैं। इसलिये पूरी फिल्म में ऑन स्क्रीन और ऑफ स्क्रीन उनकी शाहिद से अनबन ही रही। पिता बेटी के संबंध को लेकर वे सेट पर हमेशा सर्तक रहा करते थे। एक पार्टी सीन में मैं उनके साथ डांस करती हूं और जैसे ही मैं शाहिद की तरफ जाती हूं तो वे फौरन मुझे अपनी तरफ खींच लेते हैं। उन्होंने कभी ये एहसास नहीं होने दिया कि वे शाहिद के पिता हैं। उन्हें देखकर पता चला कि सही मायने में एक्टर ऐसे होते हैं।

जब आपको पता चला कि पंकज कपूर भी फिल्म में हैं तो क्या फीलिंग थी ?

दरअसल शाहिद और मैं तो शुरू से ही फिल्म में थे पंकज जी को बाद में कास्ट किया गया था। सेट पर मैं उन्हें देखकर नर्वस फील करती थी। एक दिन विकास बहल ने कहा तुम्हें एक एक्टर के साथ काम करने का मौका हासिल हुआ है तो दिखा दो कि तुम भी स्टार नहीं एक्टर हो। बस उस दिन के बाद मैं उनके सामने खुलकर काम करने लगी।

CQd51l9WEAAHEY6

अपनी फिल्म ‘उड़ता पंजाब’ के बारे में क्या कहना है?

यही कि अभी उसके बारे में कुछ बात नहीं करनी, सिवाय इसके कि वह एक फिल्म है। उसकी स्क्रिप्ट पढ़ते हुये मेरी कई बार आंखे नम हुईं क्योंकि पहली बार मैंने किसी सिक्रप्ट में इतना इमोशन देखा था। मैं बहुत खुशकिस्मत हूं कि अभी तक मेरे पास जो भी फिल्म आई उसमें मेरे रोल्स एक दूसरे से अलग रहे। उड़ता पंजाब भी एक ऐसी ही फिल्म है जिसमें कुछ अलग करती नजर आउंगी


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये