INTERVIEW!! ‘‘फिल्म ‘ऑल इज वेल’ में कम्यूनिकेशन गैप का मुद्दा उठाया गया है..’’ – अभिषेक बच्चन

1 min


 

15 साल के अभिनय करियर में कई पड़ाव पार कर चुके अभिषेक बच्चन अब उमेष शुक्ला निर्देशित फिल्म ‘आल इज वेल’ को लेकर अति उत्साहित हैं। उनका दावा है कि यह फिल्म उनके दिल के काफी करीब है।

अपने करियर को लेकर क्या सोचते हैं?

अच्छा जा रहा है। अच्छा काम कर रहा हूं। बेहतरीन फिल्मों का हिस्सा बन रहा हूं।

पिछले 15 साल के दौरान आपकी तमाम फिल्में फ्लॉप हुई हैं?

जी हां! मैं इस बात को कबूल करता हूं। मैंने अपनी हर असफलता से बहुत कुछ सीखा है। मेरी राय में हर इंसान को अपनी सफलता और असफलता दोनों से सीखना चाहिए। लेकिन मैं बहुत ही सकारात्मक सोच वाला इंसान हूं। मुझे उम्मीद है कि मैं आगे बहुत अच्छा काम कर पाऊंगा।

‘आल इज वेल’ के ट्रेलर को कैसा रिस्पांस मिल रहा है?

बहुत अच्छा रिस्पांस मिल रहा है। लोगों को ट्रेलर व गाने भी पसंद आ रहे हैं। ट्रेलर से यह बात पता चल जाती है कि फिल्म किस बारे में है। मुझे जो अपेक्षाएं थी, उससे कहीं ज्यादा अच्छा रिस्पांस मिल रहा है। पर अंततः फिल्म के रिलीज के बाद ही दर्शकों की राय पता चलेगी।

Abhishek-Rishi-All-is-Well

फिल्म ‘आल इज वेल’ क्या है?

यह एक रोड ट्रिप के साथ साथ बाप बेटे के रिश्तों व पारिवारिक मूल्यों पर बात करने वाली फिल्म है। इस फिल्म की कहानी में बेटा अपने पिता से झगड़ कर अलग रहने चला जाता है। दस साल तक वह अपने पिता से नहीं मिलता है। दस साल बाद हालात कुछ ऐसे होते हैं कि उसे अपने पिता के पास वापस लौटना पड़ता है। और फिर पिता के साथ जो समस्याएं खड़ी हो चुकी होती हैं, वह उन्हें सुलझाता है। फिल्म में अच्छा संदेश है।

किस तरह का संदेश हैं?

पिता पुत्र के बीच कम्यूनिकेशन गैप का मसला है। आप इसे पीढि़यों का अंतराल कह सकते हैं। कहानी सुनते हुए ही मुझे लगा कि आज कल के जीवन में हम लोग इस कदर व्यस्त हो गए है, कि हम अपने माता पिता के बारे में सोचते ही नहीं हैं।

फिल्म ‘ऑल इज वेल’ में पिता पुत्र के बीच के झगड़े की वजह क्या है?

यह कम्यूनिकेशन गैप का मसला है। पीढि़यों के अंतराल का मसला है। पिता यह नहीं समझ पाया कि उसका बेटा करना क्या चाहता है?  उसकी मंशा क्या है?  उधर बेटा इतना सेल्फिश है कि वह इस बात को नहीं समझ पाया कि उसके पिता ने उसके लिए क्या क्या किया है?

rishi-kapoor_640x480_51435762324 (1)

क्या ‘ऑल इज वेल’ की रिलीज के बाद आज की युवा पीढ़ी को यह बात समझ में आएगी कि उसे किसको महत्व देना चाहिए?

मैं उम्मीद करता हूं।

आपने फिल्म ‘आल इज वेल’ के संगीतकार हिमेश रेशमिया की काफी तारीफ की है ?

गाना है- ‘‘बातों को तेरी..’ बहुत अच्छा गाना बनाया है। इसलिए मैंने ट्विटर पर उनकी तारीफ की थी कि बहुत बहुत धन्यवाद कि आपने मेरे लिए यह बेहतरीन गाना बनाया। लोगों को पूरा अलबम पसंद आ रहा है। गाने काफी हिट हैं। खासकर ‘चार शनिवार..’ गाना मुझे भी काफी पसंद है।

फिल्मों में गानों की मौजूदगी..?

हमारे यहाँ कहानी सुनाने की जो परंपरा रही है, वह संगीत व गाने के माध्यम से ही रही है। जबसे समाज और सभ्यता का प्रादुर्भाव हुआ है, तब से हमारे यहां कहानी को कहने के लिए गीत-संगीत ही माध्यम रहा है। फिर चाहें वह रामायण हो या महाभारत। ‘ऑल इज वेल’  में भी कहानी सुनायी गयी है। इसलिए इस फिल्म के गाने बहुत अच्छे हैं। गाने कहानी को आगे बढ़ाते हैं। हॉलीवुड फिल्म वाले इस बात को नहीं समझ सकते।

bollywood_abhishek_bachchan_1

आपका ड्रीम रोल…?

मेरी राय में हर कलाकार के लिए ड्रीम रोल वही होना चाहिए, जिस फिल्म के किरदार को वह उन दिनों निभा रहा हो। यदि ऐसा नहीं होगा, तो वह बेहतर परफार्मेंस नहीं दे सकता।

आपने अंतिम फिल्म कौन सी देखी थी ?

‘दिल धड़कने दो’ देखी थी और मैंने इंज्वॉय किया था। मैं अजय देवगन की फिल्म ‘दृश्यम’ और सलमान खान की फिल्म ‘बजरंगी भाईजान’ देखना चाहता हूँ। मैं अपनी कबड्डी टीम को लेकर व्यस्त था, इसलिए अब तक यह फिल्में नहीं देख पाया। मुझे सिनेमा देखना बहुत पसंद है। और सिनेमा देखते समय मैं मोबाइल वगैरह सब बंद करके रखता हूं।

आपके अनुसार एक अच्छी फिल्म क्या होती है?

वास्तव में फिल्म देखना एक इमोशनल यात्रा होती है। फिल्म लोगों से कहती है कि, ‘मैं तुम्हें एक यात्रा पर ले जाती हूँ।’ जब फिल्म लोगों को किसी यात्रा पर ले जाने में सफल नहीं होती है, तो फिल्म अच्छी नहीं होती है और असफल हो जाती है। फिर चाहे यह ‘इमोशनल यात्रा’  हो या ट्रेजडी या कॉमिक जर्नी हो।

abhishek-bachchan_660_101913120005_103013074721

आप ‘प्रो कबड्डी लीग’ से जुड़े हुए है। इसकी फ्रेंचाइजी लेकर ‘पिंक पैंथर’ टीम के मालिक हैं। इस बार ‘प्रो कबड्डी लीग’ के एंथम सांग को गाने के लिए आपने अपने पापा को कैसे राजी किया ?

इसमें मेरा कोई योगदान नहीं है। यह तो स्टार स्पोर्ट्स के लोगों ने पापा से संपर्क करके सब कुछ किया।

‘ब्लफ मास्टर’ के सिक्वल की भी चर्चाएं है?

यह चर्चा पिछले दस साल से हो रही है। रोहन सिप्पी के पास आइडिया है, पर जब तक हम सभी को स्क्रिप्ट पसंद न आए, तब तक कोई घोषणा नही होगी।

‘आल इज वेल’ के बाद कौन सी फिल्में आएंगी?

‘हाउसफुल 3’ और ‘हेराफेरी 3’ कर रहा हूं। ‘हाउसफुल 3’ की शूटिंग अगस्त के अंतिम सप्ताह में शुरू होगी। जबकि ‘हेरा फेरी 3’ की शूटिंग पूरी हो चुकी है।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये