INTERVIEW!! “मेरी खुशकिस्मती है की नेशनल अवॉर्ड मेरी दूसरी फिल्म को भी मिला” आयुष्मान खुराना

1 min


Ayushmaan-khurana.gif?fit=650%2C450&ssl=1

लिपिका वर्मा

आयुष्मान खुराना अपनी फिल्म, “दम लगा के हईशा” के लिए नेशनल अवॉर्ड पाकर बहुत खुश हुए- लिपिका वर्मा के साथ एक एक्सक्लूसिव गुफ्तगू में ढ़ेर सारे प्रश्नों के जवाब दिए –

आपको सबसे पहले खबर किसने दी ?

जी हाँ मुझे तो नेशनल अवॉर्ड के बारे में पता ही नहीं था किन्तु जब हमारी फिल्म ‘दम लगा के हईशा” को नेशनल अवॉर्ड मिलने की घोषणा टेलीविजन पर हुई तो सबसे पहले मेरे पापा ने यह खुशखबरी मुझे दी थी। जाहिर सी बात है नेशनल अवॉर्ड पाने के बाद मुझे बहुत खुशी हुई।

316294-ayushmann-1

आपकी फिल्म, “विकी डोनर” को भी नेशनल अवॉर्ड मिला था, क्या कहना चाहेंगे ?

जी हाँ यह मेरी खुशकिस्मती है कि ये विश्वसनीय अवॉर्ड मेरी फिल्मों को इन चार साल के मेरे फिल्मी सफर में दूसरी बारी मिल रहा है। दरअसल में जब भी किसी फिल्म की कहानी लोगों से जुड़ती है तो वह फिल्म हिट ही होती है। ‘विकी डोनर’ एवं ‘दम लगा के हईशा’ हमारी ऐसी ही फ़िल्में है जो लोगों के दिल में सीधी उतरी हैं। इस बात की ख़ुशी होती है कि मेरी फ़िल्में बॉक्स ऑफिस और नेशनल अवॉर्ड जूरी के दिल में उतरी और इसीलिए हमें इस नेशनल अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।

‘दम लगा के हईशा’ में ऐसी क्या बात है जो लोगों को पसंद आई होगी ?

दरअसल में हम दोनों ही दलित व्यक्ति का किरदार निभा रहे हैं इस फिल्म में और कई लोगों को यह उनसे मिलती जुलती कहानी लगी होगी। हालांकि, यह पहली बारी है कि मैं उत्तर प्रदेश के फूहड़ से लड़के का किरदार निभा रहा हूँ, इस किरदार के लिए मुझे भाषा और उसकी हरकतों को बहुत करीब से करना था सो इसके लिए मैंने बहुत होम वर्क किया है और भूमि भी एक मोटी लड़की का किरदार निभा रही हैं उसने भी वजन बढ़ाने के लिए काफी मशकक्त की है। जब भी किसी रियल किरदार की असलियत पर्दे पर उतारी जाती है तो लोग उससे रिलेट करते हैं।

Ayushmann-Dum-BH2

आपकी अगली फ़िल्में कौन कौन सी हैं ?

एक तो, “मनमर्ज़ियाँ फिल्म है जिसमें मैं भूमि के साथ ही नजर आने वाला हूँ और दूसरी फिल्म परिणीति के साथ है। इस फिल्म में परिणीति बहुत ही खूबसूरत नजर आने वाली हैं और मैं इस फिल्म की शूटिंग के लिए फ़िलहाल बाहर जाने वाला हूँ।

आपकी फिल्म ‘मनमर्ज़ियाँ’ के डायरेक्टर को क्यों बदल दिया गया है ?

दरअसल में समीर शर्मा इस फिल्म को डायरेक्ट कर रहे थे शिमला में कुछ 13 दिवसीय शूटिंग भी पूरी की है हमने। शायद आनंद राय और उनमें कुछ क्रिएटिव अलगाव हुआ है, इसलिए क्योंकि अब मेरे पास वक़्त है मैं अपनी दूसरी फिल्म, “मेरी प्यारी बिंदु” की शूटिंग करने जा रहा हूँ।

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये