INTERVIEW!! ‘‘मैं आधी मराठी और आधी हरियाणा की जाटनी हूं” – भूमि पेडनेकर

1 min


Bhumi-pednekar-interview.gif?fit=650%2C450&ssl=1

हाल ही में यशराज की फिल्म ‘दम लगा के हईशा’ को बेस्ट फिल्म का अवॉर्ड हासिल हुआ। इसे लेकर फिल्म की नायिका भूमि पेडनेकर बहुत खुश और उत्साहित हैं। वे इस फिल्म और इसे मिले नेशनल अवॉर्ड को अपनी बहुत बड़ी उपलब्धि मानती हैं। हाल ही में उनसे फिल्म और उनके करियर को लेकर एक बातचीत।

फिल्म को मिले नेशनल समेत ढ़ेर सारे पुरस्कारों को लेकर क्या सोचती हैं ?

मैं बहुत खुश हूं क्योंकि साल दो हजार पंद्रह मेरे लिये बहुत ही अच्छा रहा। फिल्म ने जितनी प्रशंसा हासिल की उसकी किसी ने कल्पना तक नहीं की थी। बस उम्मीद थी कि अच्छा करेगी मूवी क्योंकि वो एक सच्ची फिल्म थी। लेकिन फिल्म को नेशनल समेत इतने सारे अवॉर्ड मिल जायेगें, ये किसी ने नहीं सोचा था। बहुत रेयर होता है जब आपकी पहली ही फिल्म को नेशनल अवॉर्ड मिल जाये। मुझे यहां तक पहुंचाने वाले सभी लोगों को मैं अपनी तरफ से ढ़ेर सारी दुआयें देना चाहूंगी।

745387547

ये फिल्म करने के बाद क्या सोचती हो ?

फिल्म को जिस तरह से एंक्रेज किया गया है उसके बाद मुझमें एक नया आत्मविश्वास पैदा हुआ कि चलो मुझे भी थोड़ी बहुत एक्टिंग आती है। अब इसके बाद जो भी होगा इंप्रूवमेंट ही होगा। इसके अलावा मुझे खुद पर अब कॉन्फीडेंस है क्योंकि मैंने ये फिल्म अपने कॉन्फिडेंस से ही की थी। मैंने जो सोचा था कि मैं एक्टर बन सकती हूं आई होप वो पूरा हुआ।

दम लगा के हईशा…. में आपका वजन, आपकी स्पेशलिटी थी, उसके बाद आपने, अपने आपको कितना बदला है ?

मैं आपको बता दूं कि मैंने उस फिल्म के लिये बाकायदा पच्चीस किलो वेट बढ़ाया था। ये बात मैंने पहले भी पेरेंट्स के साथ शेयर की है। मैं उस फिल्म के लिये भूमि से संध्या बनी थी और अब वापस संध्या से भूमि बन रही हूं। पिछले ढ़ाई साल में मैंने पच्चीस किलो वेट गेन किया था और अब तीस किलो घटा चुकी हूं। ये सब एक्टर को करना ही पड़ता है। अब अगली फिल्म में मैं एक पंजाबी लड़की का रोल प्ले कर रही हूं तो मैं अब पंजाबी लड़की लग रही हूं हो सकता है आगे फिल्म में मुझे पेशेंट का किरदार निभाना पड़े और उसके लिये और बीस किलो वजन और घटाना पड़े।

Ayushmann-Dum-BH1

यशराज एक ऐसी फिल्म संस्था है जो अपने स्टाफर को भी एक्टर बना सकती है। उदाहरण के लिये हम रणबीर सिंह, परिणिति और आपको ले सकते हैं ?

ठीक, लेकिन किसी को भी ऐसे ही चांस नही मिल गया कि बस देखा और उठाकर एक्टर बना दिया। मेरे एक्टर बनने के पीछे मेरी छह साल की अथक मेहनत है। मैंने ये सोच कर यशराज ज्वाईन नहीं किया था कि मुझे इसके बाद एक्टर बनना है। मैंने अपनी शुरूआत यहां सतरह साल की उम्र में कास्टिंग डिपार्टमेन्ट से शुरू की थी लेकिन उस वक्त मुझे कास्टिंग या किसी और के बारे में कुछ भी नहीं पता था। उस वक्त मेरा ध्येय था कि नौकरी मिल रही है तो कर लेती हूं, वरना घर वाले वापस पढ़ने के लिये भेज देगें। यहां मेरा एक्टर के तौर पर नहीं दूसरी वजह से संघर्ष था।

फिर एक्टर के तौर पर आपकी लाइफ में एक नया मोड़ कैसे आया ?

ये मेरी तरफ से नहीं बल्कि आदि सर की तरफ से आया था। दरअसल उन्होंने मुझे सालों साल ऑडिशन लेते और कास्टिंग करते देखा था। दूसरे हमारे यहां ऑडिशन होते हैं उनमें बाकायदा सीन किये जाते हैं लेकिन मैं शानू के सामने कभी ऑडिशन नहीं करती थी क्योंकि आप जिसके क्लोज होते हो वो आपका सबसे बड़ा क्रिटिक बन जाता है इसलिये मैं शानू से बहुत घबराती थी। एक दिन में किसी का ऑडिशन ले रही थी उसी वक्त शानू ऑफिस में आई उन्होंने मुझे रिहर्सल करते देखा। बाद में उन्होंने कहा कि तू टाइम खराब मत कर क्योंकि तू एक्टर है इसलिये जा एक्टिंग कर। इसके दो महिने बाद दम लगा के… शुरू हो गई तो आदि सर ने कहा कि मैंने तुझे देखा है इसलिये अब तू संध्या का रोल कर ।

Bhumi Pednekar_AFP

मराठी होने के बावजूद आपकी हिन्दी बहुत साफ है ?

उसकी वजह ये है कि मेरे पिता मराठी हैं और मेरी मम्मी हरियाणा की जाटनी हैं। यानि मैं भी आधी मराठी और आधी हरियाणा की जाटनी हूं । इसलिये मेरी भाषा में हिन्दी के साथ थोड़ी बहुत पंजाबियत भी झलकती है।

इस फिल्म के बाद फैंस का कैसा रिस्पांस है ?

आप बाहर की बात कर रहे हैं मुझे तो यहां भी कोई नहीं पहचानता। मैं यहां कैंटीन में भी जाती हूं तो वहां भी काफी देर बाद पहचाना जाता है। ये मेरे लिये सबसे बड़ा कॉम्पलीमेंट भी हैं क्योंकि मैंने अभी तक करीब तीस किलो वेट कम किया है।

bhumi-story_647_080115043306 (1)

आज मराठी में बहुत अच्छी फिल्म बन रही है ?

मराठी ही नहीं बल्कि आज सभी क्षेत्रीय फिल्में बढ़िया बन रही हैं। इसलिये मराठी के अलावा मैं किसी और भाषा की फिल्में भी करना चाहूंगी।

आने वाली फिल्म ?

फिलहाल तो मैं ‘मनमर्जियां’ का नाम लूंगी। ये एक क्लासिक लव स्टोरी है।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये