INTERVIEW!! क्रिकेट -फिर डांस फ्लोर और अब सरहद पर जाने की चाह!! – इरफ़ान  पठान !!

1 min


इरफ़ान पठान  क्रिकेट की दुनिया में अपना अच्छा खासा नाम तो बना ही चुके है ,अब झलक दिखला जा  में भी अपने नाचने के गुर दिखाने बहुत जल्द छोटे पर्दे पर दिखाई  देने वाले है।  इरफ़ान जिनका शुरूआती जीवन एक मस्जिद से शुरू हुआ वे अपने बल  बुते पर यहाँ तक पहुंचे है। यह कबीले तारीफ है -इरफ़ान में देश भक्ति का मादा भी कूट कूट कर भरा है। क्रिकेट से डांस फ्लोर तक तो आ ही चुके हैं बस अब सरहद पर जाने की तमन्ना  रखते है ,अपने देश के लिए कुछ कर गुजरना चाहते है इरफ़ान। एक छोटी सी मुलाकात लिपिका  वर्मा -मायापुरी के लिए उन्होंने कुछ सीधे सीधे  जवाब दिया –

जी हाँ मैंने झलक दिखला  जा “में  अभी हाल  ही में ज्वाइन किया है। मेरा शाहिद कपूर,करन और सब  कंटेस्टेंट्स ने बहुत ही स्वागत किया है। कोरियोग्राफर सुचित्रा ने मुझे बहुत अच्छी  तरह नाचने के गुर सिखलाये है। यदि मै अच्छा नाच भी नहीं पाता हूं तो भी वह मेरी झूठी झूठी तारीफ करके मेरा मनोबल बहुत बढ़ाती है। और मेरी सब एनर्जी में नाचने में लगा देता हूं।  अभी मेरी एंट्री नहीं हुई है, आप लोग मेरी एंट्री का इन्तजार कीजिये इंशाअल्लाह में आप लोगों को निराश नहीं करूँगा।

मैंने सब से पहले एक शादी के फंक्शन में जम के नाच किया था। तब मैं  शायद 12 – 13 साल का छोटा सा लड़का ही था. लेकिन उसे मैं उछलना कूदना ही कहूँगा । सही मायने में अब नाच सीख रहा हू  और आशा करता हूं की अच्छी तरह सब कुछ कर पाऊँ । मुझे आज भी याद है वो गाना  जो बज रहा था ,”अफ़लातून” नंबर था जिसमें मैंने जम के ठुमके लगाये थे।

मैं डांस की तुलना क्रिकेट से नहीं करना चाहता , क्रिकेट मेरा जोश है, और जब हम देश के लिए खेलते है तो हम में एक जज्बा होता है  वार का नहीं कह सकता किन्तु लगता है कि अपने देश के लिए हम कुछ कर पाएं। अपने देश को रिप्रेजेंट  करना होता है तो पूरी शक्ति लगा देते है गेम में ताकि हम जीत कर देश का नाम रोशन कर पाये।

Shahid Kapoor with Irfan Pathan

झलक में एंट्री ली है जीतने की चाह  से नहीं पर हाँ इसलिए भाग लेना उचित समझा कि मै अपने नाचने के गुर से कम से कम अपने देशवासियों का मनोरंजन कर पाऊं।

आप के अंदर देश भक्ति का मादा है उसके लिए क्या करना चाहते है आप ? देखिये यदि हम क्रिकेट मैच किसी भी  देश से खेल कर जीतते है तो यह हमारी देश भक्ति है। क्योंकि खेल के मैदान में हमारा यही  जोश होता है कि जीत कर देश का नाम रोशन करें।

सरहद पर सेना के जवानो जैसे लड़ने के लिए तो मुझे आर्मी में भर्ती होना पड़ेगा। और यदि ऐसा समय आया और मुझे इसकी अनुमति मिली तो मैं सरहद पर भी जाकर अपने  देश के लिए लड़ने के लिया तैयार रहूँगा । मेरी परवरिश इसी  तरह से की गयी है यदि मैं आगे बढ़ता हूं किसी भी फील्ड से तो मेरा देश आगे बढ़ेगा। अपने मूल्क के लिए मैं अपनी देश भक्ति साबित करने के लिए कुछ भी कर सकता हूं।

नाच सीखते समय अभी तक तो मैंने अपनी कोई भी हड्डी नहीं तुड़वाई है खुदा का शुक्र है मेरी डांस मास्टर मुझ से बहुत सलीके से नाच करवाती है।

आखिर में अपनी पसंदीदा नाच करने वाली अभिनेत्रियों में इरफ़ान ने कहा -माधुरी  दीक्षित एवं ऐश्वर्या राय  बच्चन सबसे पसंदीदा डांसर है मेरी

और मर्दों में -शाहिद कपूर एवं ऋतिक रोशन मेरे सबसे पसंदीदा डांसर है।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये