INTERVIEW!! “हम यह कभी नहीं कह सकते कि प्यार के लिए समय नहीं है” – करीना कपूर

1 min


kareena-kapoor-khan-interfvie2w.gif?fit=650%2C450&ssl=1

लिपिका वर्मा

करीना कपूर की फिल्में, “की एंड का” और ‘उड़ता पंजाब’ भले ही अलग किस्म की फ़िल्में हो किन्तु करीना को ऐसी ही अलग फ़िल्में करने की उत्सुकता रहती है – “जी हाँ! मेरी फिल्म, “की एंड का” एक अलग परिकल्पना है और इसीलिए मुझे यह कहानी और मेरा केरैक्टर पंसद आया। इस फिल्म में आइटम नंबर और भले ही कमर्शियल लव सांग नहीं है किन्तु फिल्म बहुत ही अलग है। बाल्की ने ऐसी परिकल्पना चुनी है कि सैफ को भी बहुत पसंद आई है और जहाँ तक, “उड़ता पंजाब” की कहानी ग्रे है रियल ड्रग्स के मामले से जुड़ी हुई एक कहानी है, जैसा कि पंजाब में अक्सर देखा जाता है किस तरह युथ ड्रग्स से जुड़ जाता है, सो यह भी डार्क है पर अलग भी है। इसलिए मैंने इस केरैक्टर और फिल्म को करने के लिए हामी भर दी।”

आप किस तरह से फिल्में चुनती हैं ?

देखिये, मैं कभी भी कास्टिंग में कुछ भी नहीं बोलती हूँ मैं फिल्म कहानी और अपने चरित्र के हिसाब से ही चुनती हूँ। फिर चाहे मेरे अपोजिट कोई नया एक्टर भी हो मैं काम करती हूँ। सबसे ज्यादा अच्छी मुझे इस फिल्म की एक लाइन लगी जिसमें अर्जुन बोलता है, “मुझे अपनी माँ जैसा बनना है” बस यही सब चीज़ करना अच्छा लगता है मुझे। कुछ हट के कहानी हो तो करने में बहुत मजा आता है। अक्सर कोई भी आदमी अपने पिता जैसा बनना चाहता है किन्तु यहाँ कुछ अलग है।

kdjfe

फिल्म ‘की एंड का’ में क्रेडिट्स में आप का नाम अर्जुन के बाद आता तो क्या कहती ?

शायद, जयेष्ठता के हिसाब से मेरा नाम क्रेडिट्स में ऊपर लिखा गया है किन्तु यदि अर्जुन का नाम मेरे नाम के पहले भी लिखा जाता तो मुझे बुरा नहीं लगता।

इस वर्ष (2016 ) बहुत ढ़ेर सारे बॉलीवुड कपल्स के ब्रेकअप हुए हैं, रिलेशनशिप के बारे में क्या टेक है आपका ?

कोई भी रिलेशनशिप में प्यार, आदर और एक दूसरे का समर्थन होना अत्यन्त अवश्यक होता है। प्यार में कोई भी सीमाएं तय नहीं की जा सकती है और ना ही किसी तरह की गणना भी कभी की जा सकती है और यदि ऐसा कोई करता है तो उसे प्यार नहीं कहा जा सकता है।”

कुछ सोच के करीना ने बॉलीवुड कपल्स ब्रेकअप के बारे में कहा, “देखिये बहुत सारे कपल्स के ब्रेकअप होते हैं, किन्तु क्यूंकि बॉलीवुड कपल्स के बारे में लिखा जाता है इसलिए हम सब इस बात की चर्चा आम कर देते हैं। सही बात है लाइम लाइट में रहने का खामियाजा भुगतना तो पड़ता है [हंस पड़ी] पर बन्द दरवाज़ों में असलियत में क्या होता है यह एक बहुत ही पर्सनल सवाल है जो उन्हीं को मालूम होता है। यह एक बहुत ही व्यक्तिगत बात है बाकी सब तो अटकलों के आधार पर हम सब को पढ़ने मिलता है।

IndiaTv060520_kareena-kapoor-udtapunjab

आपका और सैफ का रिश्ता कैसे सुरक्षित रख पाती हैं आप ?

देखिए जब मैं ‘की एंड का’ और ‘उड़ता पंजाब’ की शूटिंग में व्यस्त थी तो हम एक दूसरे के लिए समय निकालने की कोशिश करते हैं, और जब वह शूटिंग कर रहे होते हैं यदि मैं फ्री होती हूँ तो उन्हें मिलने के रस्ते ढूंढ ही लेती हूँ। रिश्ते को कायम रखने की इच्छा होनी चाहिए हम यह कभी नहीं कह सकते की प्यार के लिए समय नहीं है। हमें प्यार के लिए समय निकाल ही लेना चाहिये और एक दूसरे का ख्याल भी रखना चाहिए।

आप ट्विटर पर कब एक्टिव होंगी ?

कभी भी नहीं। हर कोई छोटी छोटी बातें ट्विटर पर डालता है और उसी से पेपर अपनी कहानी बनकर छापता है। मुझे यह सब बेकार लगता है। यदि मुझे किसी की फिल्म अच्छी लगी हो तो मैं उसे पर्सनली फोन करूंगी ट्विटर पर ट्रॉलिंग करने का कोई मजा नहीं है। पर हाँ लोगों को मिलियन हिट्स मिलते हैं और यही उनकी उत्तेजना की वजह बनती है।”

646709

कुछ रुक कर करीना बोली, “दरअसल में ट्विटर से हॉस्पिटल, या फिर अन्य कोई जानकारी मिलती है वह काबिले तारीफ है। इससे लोगों को बहुत हेल्प मिलती है। शायद मैं ओल्ड स्कूल की हूँ!!”

रणबीर कपूर और कैटरीना के ब्रेकअप को लेकर कुछ बोलना चाहेंगी आप ?

मुझे इन सब बातों में शामिल होना पसंद नहीं है, मैं उनकी बहन हूँ पर यह उनकी पर्सनल जीवन से जुडी ही कोई बात है और क्या हुआ होगा वह दोनों ही जानते है बेहतर। इन सब के साथ उन्हें डील करना होगा मैं एक आउटसाइडर हूँ (बाहरी)  किन्तु जो कुछ भी उन दोनों का निर्णेय होगा उसका मैं आदर एवं सपोर्ट भी करुँगी।

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये