INTERVIEW!! “मुझे सुपर स्टार्स पसंद है किन्तु उन्हें देवता नहीं मानता हूं मैं!” नवाज़ुद्दीन 

1 min


नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी बजरंगी भाईजान में एक रिपोर्टर के किरदार में अपना जलवा बखूबी बिखेर चुके है। अब वो अपनी अगली फिल्म ,”माउंटेन मैन ” जो की उनके दिल के करीब है उस किरदार को करने में नवाज़ ने अपने जीवन के अनुभवों को भी इस चरित्र को जीवंत करने के लिए इस्तेमाल किया है।

नवाज़ ने बहुत कुछ बतलाया हमारी संवादाता लिपिका  वर्मा को सपनी सक्सेस और जीवन दर्शन के बारे में –

बजरंगी भाईजान  बॉक्स ऑफिस पर अपना जलवा बिखेर चुकी है उसमें क्या सब से अच्छा  लगा आपको ?

मेरी वजह से पाकिस्तानी रिपोर्टर (चाँद नवाब) जो की बेरोजगार थे, उन्हें काम मिल गया, इस बात की बहुत ख़ुशी हो रही है  मुझे। यदि मेरे पास पंख होते तो मै ऊँची उड़ान जरूर  उड़ता।

आपकी माउंटेन मैन फिल्म को अपनी निजी ज़िन्दगी से कैसे जोड़ कर देखते हैं आप?

मैंने फिल्मी दुनिया में अपना एक मुकाम बनाने के लिए लगभग १५ साल स्ट्रगल किया है। जबकि यह माउंटेन मैन  भी 22  साल तक एक पहाड़ खोदता है और उसका जीवन उसी में बीत  जाता है। जो कुछ भी मैंने अपनी बेकारी  के दौरान सीखा था उसे मैंने इस चरित्र में बखूबी डाला है और इस चरित्र  को  जीवंत किया। आज माउंटेन मैन  का किरदार मेरे दिल के सबसे करीब है। मैंने अभिनेता बनने के लिए जितना भी स्ट्रगल किया है अभिनेता उसे जब मैं इस किरदार में इस्तेमाल कर रहा था तो मुझे पहले वाला  समय याद आ रहा था। इसी तजुर्बे की वजह से में एक अच्छा अभिनेता बन सका  हूं।

Nawaz_manjhi

जीवन दर्शन आपके लिए सही मायने में क्या है ?

मेरे  जीवन की फलसफा (दर्शन) बहुत ही सीधा और साधारण है -कभी भी भग़वान से मदद की अपेक्षा मत करो- अपनी मदद  खुद करो ,मेहनत करो और आपका मुकाम आपके सामने आकर खड़ा हो जायेगा।

अब आप भी स्टार बन गए है। आपके लिए स्टारडम क्या मायने रखता है ? 

मेरे लिया स्टारडम के मायने है – अच्छा काम करना। इसलिए मैं अच्छी फिल्म और अच्छे किरदार हमेशा करता रहूँगा। मैं काम के लिए  लालची कतई नहीं रहा हूं  किन्तु जब अच्छा किरदार मिलता है तो  उसे बेहतर  करने की भूख होती है मुझे। मैं अपने किरदार को सबसे बेस्ट  शॉट देना चाहता हूं हमेशा।

nawazuddin-national-read

अपने सबसे पहले शॉट के बारे में बतलाएं हमें?

मेरा लक्ष्य हमेशा एक ही होता है कि मैं अपने किरदार में जान डाल दूं और उसे बेहतर करने के लिए फोकस रहता हूं। मेरा पहला शॉट केवल ४० सेकण्ड्स का ही था। उसके बाद दूसरी फिल्म में केवल एक मिनट का किरदार निभाया है मैंने। इसी तरह मेरे किरदारों की अवधि धीरे धीरे बढ़ती चली गई।

आपका पसंदीदा एक्टर बॉलीवुड से ?

मैं किसी भी  एक अभिनेता से प्रेरित नहीं हुआ हूं। मुझे सुपर स्टार्स पसंद है किन्तु उन्हें देवता नहीं मानता हूं मैं, उनका काम उनके लिए बोलता है। मैंने जब लियोनार्ड डी केप्रिओ की फिल्म, “वुल्फ ऑफ़ वाल स्ट्रीट देखी  तो मैं अचंभित रह गया। उनकी अभिनय क्षमता बहुत ही बेहतरीन और जिंदगी के करीब लगी मुझे। आजकल बॉलीवुड में लार्जर देन  लाइफ किरदार दिखाए जा रहें है। रियल लाइफ कैरेक्टर्स आजकल रील पर उतारे जा रहे है। रील पर भी हम सोसाइटी से प्रेरित किरदार ही दिखलाते है और उसे हम लोग अच्छी तरह पर्दे पे उतार पायें बस यही अभिलाषा करते है हम और सब।

NAWAZUDDIN-SIDDIQUI

पाकिस्तानी फिल्मों से यदि ऑफर मिले तो क्या आप उसे निभाने के लिए राजी हो जायेगे ?

जी हां यदि कुछ अच्छा किरदार  करने को मिले तो जरूर उसे करने के लिए में अपना राजीनामा दे दूंगा। में किसी भी भाषा में फिल्म करने के लिए तैयार  हूं।

 

 

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये