INTERVIEW!! “ऐश्वर्या ने पंजाबी भी बहुत अच्छी तरह से बोली और मेरी तरह दबंगई भी बखूबी दिखाई है” दलबीर कौर

1 min


Dalbir-kaur-interview.gif?fit=650%2C450&ssl=1

लिपिका वर्मा

‘सरबजीत’ फिल्म जल्द ही सिनेमाघरों में दस्तक देने वाली है इस फिल्म के जरिए ‘सरबजीत’ की सच्चाई सामने आएगी। ऐश्वर्या राय बच्चन इस फिल्म में दलबीर कौर का किरदार निभा रही हैं और उनके भाई – सरबजीत बने हैं हमारे फिल्मी दुनिया के मंझे हुए कलाकार एवं माचो मैन रणदीप हूड्डा।

दलबीर कौर ने हमसे बातचीत में इस फिल्म को लेकर अपने भाई की लड़ाई के बारे में बताया

तो पेश है उनके दिल की आवाज़

Dalbir kaur
Dalbir kaur

सरबजीत पर अत्याचार हुआ है?

जी हाँ, हमारी दोनों तरफ की सरकारों ने मेरे भाई के लिए कुछ किया होता तो शायद आज मेरा भाई ज़िंदा होता। मैं यही कहूँगी कि हमारी सरकार ‘सरबजीत’ को छुड़ाने में नाकामयाब रही है। उस पर इतना अत्याचार हुआ है कि हमारे परिवार का सुकून ही छिन गया था, उसे जब भी कालकोठरी में देखती तो मेरा दिल दहल जाता। कितना मुश्किल समय रहा हमारे लिए और सरबजीत के लिए भी। अफ़सोस हमारी लड़ाई में हम हार गए। यदि जीत होती तो बहुत ख़ुशी होती और हमारा घर आबाद हो जाता।

‘सरबजीत’ केस में असफलता क्यों प्राप्त हुई ?

जैसा कि शायद हमे लगता है पाकिस्तान सरकार की नियत ही नहीं थी उसे छोड़ने की। एक बारी तो घोषणा भी कर दी थी उसकी रिहाई की लेकिन शाम को उसे कैंसिल भी कर दिया गया। हमें ऐसा लगता है कि आतंकवादियों को सरबजीत की रिहाई मंजूर नहीं थी। पर हाँ यदि हमारी सरकार कुछ थोड़ा और इस मामले को   समय देती और इस पर ध्यान देती तो हम सफलता हासिल कर लेते।

Randip Hooda Aishwarya Rai Bachchan, Dalbir kaur
Randip Hooda Aishwarya Rai Bachchan, Dalbir kaur

फिल्म बन रही है दलबीर बहुत खुश हैं ?

जी हाँ मैं सरबजीत पर बन रही फिल्म से बहुत खुश हूं क्योंकि ओमंग (निर्देशक) ने हमारी कहानी बहुत बारीकी से मुझ से पूछी थी और बचपन में दोनों भाई  बहन में नोक झोंक होती उसे भी इस फिल्म में बखूबी दिखाया गया है। जैसे राखी वाले दिन मैं जान – बुझ कर सरबजीत को तंग किया करती। वह सुबह से मेरे लिए बैठा रहता और मैं उसे बहुत देर मैं नाश्ता पानी देती। इसके अलावा बचपन में हम दोनों ने बहुत होली भी खेली है। उन दिनों को भी बहुत अच्छी तरह से दिखाया गया है फिल्म, “सरबजीत” में और जब भी मैं सरबजीत से गुस्सा होती तो वह जब तक मुझे झप्पी पाकर मुझे मना नहीं लेता तो उसे चैन नहीं मिलता। दोनों भाई बहन के रिश्तों को बहुत अच्छी तरह से दर्शाया गया है आशा है यह फिल्म रियल से रील पर बखूबी उतारी गयी है। लोगों को भी यह फिल्म देख कर यह एहसास होगा कि किस तरह सरबजीत ने सजा काटी और मैंने क्या कुछ किया।

Bhushan kumar, Randip Hooda, Dalbir kaur, Omang kumar, Aishwarya Rai Bachchan
Bhushan kumar, Randip Hooda, Dalbir kaur, Omang kumar, Aishwarya Rai Bachchan

ऐश कितना दलबीर को उतार पाई पर्दे पर ?

ऐश्वर्या राय को जब मैंने देखा तो मुझे लगा कि यह दलबीर का किरदार कर पाएगी और जितने भी सीन्स मैंने देखे है बिलकुल लगा कि मैं ही बोल रही हूँ। ऐश ने पंजाबी भी बहुत अच्छी तरह से बोली है और ताज्जुब की बात यह लगी कि मेरी तरह दबंगई भी बखूबी दिखाई गई है। मुझे बहुत बेहतरीन एक्टिंग लगी है ऐश की। दरअसल में मुझे लगा ही नहीं कि पर्दे पर दलबीर काम नहीं कर रही है। मैं सचमुच यह यकीन ही नहीं कर पा रही थी कि ऐश मुझे इतने बेहतरीन तरीके से पेश कर पाई।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये