INTERVIEW!! ‘‘मुझे तालाब या समुद्र में स्वीमिंग करने से डर लगता है’’ – राधिका आप्टे

1 min


Radhika-apte-interview.gif?fit=650%2C450&ssl=1

पुणे के मशहूर न्यूरो सर्जन की बेटी व अभिनेत्री राधिका आप्टे पल पल बदलती रही हैं वह एकमात्र ऐसी अदाकारा हैं, जिनकी कई फिल्में इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में धूम मचा चुकी हैं उनकी कुछ फिल्में विदेशों में रिलीज हो चुकी हैं, मगर भारत में रिलीज नहीं हो पायी हैं इन दिनों वह एक तरफ पवन कृपलानी निर्देशित फिल्म ‘फोबिया’ को लेकर चर्चा में हैं तो दूसरी तरफ वह हॉलीवुड निर्देशक बेन रेखी की अंग्रेजी भाषा की फिल्म ‘आश्रम’ को लेकर चर्चा में हैं, जिसमें वह अमेरीकन कलाकारों के साथ अभिनय कर रही हैं।

आपको नहीं लगता कि बॉलीवुड में आपको पहचान बहुत देर में मिली ?

मैंने हमेशा अच्छा काम करने का प्रयास किया मैंने कभी भी इस बात की परवाह नहीं की कि किस फिल्म से मुझे क्या मिलेगा मैंने यह देखा कि मुझे काम करने का अवसर मिल रहा है दूसरी बात ‘रक्त चरित्र’ और ‘शोर इन द सिटी’ फिल्मों में अभिनय करने के बाद मैं अपनी डांस की ट्रेनिंग के लिए लंदन चली गयी थी पूरे दो साल तक वहां रही उसके बाद जब वापस आयी, तो ‘बदलापुर’ मिली और इस फिल्म की सफलता ने मुझे हर घर का सदस्य बना दिया। बहुत जल्द लोग मुझे फिल्म ‘फोबिया’ में एक अलग अंदाज में देख सकेंगे।

Radhika-Apte-pics

फिल्म ‘फोबिया’ क्या है ?

फिल्म ‘फोबिया’ एक ऐसी लड़की की कहानी है, जो कि ‘फोबिया’ की वजह से घर से बाहर नहीं निकलती वह एक पेंटर है मुंबई में रहती है, बहुत आत्मविश्वासी है, स्वतंत्र है चियरफुल लड़की है उसकी जिंदगी में एक हादसा हो चुका है, जिसकी वजह से उसे अग्रो फोबिया हो गया है इसी वजह से उसकी पूरी जिंदगी बदल जाती है। भारत में अग्रो फोबिया के बारे में लोगों को जानकारी नहीं है लोगों को कलास्टर फोबिया या वर्टिबो फोबिया के बारे में पता है। कुछ लोगों को ऊंचाई पर जाने पर चक्कर आने लगते हैं ऊंचाई पर जाने के बाद नीचे देखने पर डर लगने लगता है लेकिन जिसे अग्रो फोबिया होता है, उसे एक मिनट के लिए भी घर से बाहर नहीं निकाला जा सकता। मेरी एक दोस्त को भी अग्रो फोबिया है वह पिछले 15 वर्षों से घर से बाहर नहीं निकल पायी। मेरी दोस्त घर से बाहर निकल भी नहीं पाती है, जिसे देख मुझे बड़ी तकलीफ होती है यदि दबाव डालकर उसे घर से निकलने पर मजबूर किया जाए, तो उसे पैनिक अटैक आ जाता है ऐसी ही एक अग्रो फोबिया से ग्रसित लड़की की कहानी है फिल्म ‘फोबिया’ सायाकोलॉजिकल थ्रिलर है, इसलिए कहानी में कुछ दूसरे एलीमेंट भी हैं पर मूल कहानी इसी लड़की की है।

0db85b1c1cd5fb179a29a6219487cd24ce3e73d5-tc-img-preview

जब अग्रो फोबिया का सायकोलॉजी से कोई संबंध नहीं है तो फिल्म ‘फोबिया’ सायकोलॉजिकल थ्रिलर क्यों ?

इसका जवाब अभी दे पाना मेरे लिए मुश्किल है जब आप फिल्म देखेंगे तो आपको एहसास होगा।

आपको निजी जिंदगी में किस बात का ‘फोबिया’ है ?

देखिए, यह जो डिसऑर्डर वाला ‘फोबिया’ होता है, वह मुझे नहीं है लेकिन मुझे तालाब या समुद्र में स्वीमिंग करने से डर लगता है इसे आप मेरा फोबिया कह सकते हैं।

फिल्म ‘फोबिया’ के निर्देशक पवन कृपलानी को लेकर क्या कहेंगी ?

बहुत अच्छे अनुभव रहे वह बेहतरीन निर्देशक हैं फिल्म माध्यम की उन्हें बहुत अच्छी समझ है हमारी व उनकी पसंद एक जैसी है। उन्होंने हमें काम करने की पूरी छूट दी थी उन्होंने हर दिन मेरी राय सुनी मेरे आइडिया को भी तवज्जो दी।

radhika-apte-1

आप रजनीकांत के साथ ‘कबाली’ कर रही हैं ?

जी हाँ! यह रजनी कांत के करियर की 159 वीं फिल्म है। तमिल भाषा की यह बहुत ही अलग तरह की विषयवस्तु वाली फिल्म है, जिसमें मैंने बहुत ही ज्यादा सशक्त और परफार्मेंस ओरिएंटेड किरदार निभाया है। हमने इसके लिए गोवा और मलेशिया में शूटिंग की पहले यह फिल्म मई माह में रिलीज होने वाली थी पर अब इस साल के अंत तक रिलीज होगी। मैंने रजनी सर के साथ काम करके बहुत इंज्वॉय किया लेकिन इस फिल्म के मेरे किरदार को गुप्त रखा जा रहा है इसलिए मैं कुछ कह नहीं सकती।

आपकी और रजनीकांत की उम्र में तो बहुत बड़ा अंतर है, फिल्म में यह किस तरह से है ?

मैंने पहले ही कहा कि मैं ‘कबाली’ को लेकर ज्यादा बता नहीं सकती पर फिल्म में उम्र का अंतर नजर नहीं आएगा।

Radhika Apte with Rajnikant
Radhika Apte with Rajnikant

मराठी आपकी मातृभाषा है आपको हिंदी और अंग्रेजी अच्छी आती है मगर मलयालम, तमिल, तेलुगु.. ?

दक्षिण भारत की सभी भाषाएं मुझे एक जैसी लगती हैं मुझे दक्षिण भारत की एक भी भाषा नहीं आती मगर सेट पर फिल्म के निर्देशक मुझे अंग्रेजी में सीन समझाते थे और मैं उसे करती थी वैसे मैं कई बार संवादों को देवनागरी में लिखकर समझने का प्रयास करती हूं बाद में मेरी डबिंग दूसरे कलाकार से करवाते हैं मगर बंगला फिल्म में मैं अपनी डबिंग खुद करती हूँ।

दूसरी कौन सी फिल्में कर रही हैं ?

कई फिल्में हैं इंटरनेशनल फिल्म ‘आश्रम’ के अलावा पार्च्ड, ऑएस्टर, बॉम्बेरिया आदि।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये