INTERVIEW: हाउसफुल मेरे लिए पारिवारिक बॉन्ड की तरह है – जैकलिन फर्नांडिज

1 min


jaqueline-fernadez1.gif?fit=650%2C450&ssl=1

जैकलिन फर्नांडिज के पास ढ़ेर सारी हिंदी फ़िल्में हैं और उसका केवल एक ही कारण है वह है उनकी लग्न और कड़ी मेहनत। जैकलिन अपने काम को बेहद गंभीरता से लेती हैं। अपने शुरुआती दौर के बारे में जैकलिन ने बताया, “मुझे आज भी याद है जब मैं रैम्प वॉक और मॉडलिंग किया करती तो मेरी पहली पॉकेट मनी केवल 800 रूपये ही थी। पर मुझे इस बात की ख़ुशी थी कि उन पैसों से मैंने मेरा पहला मोबाइल फोन ख़रीदा था और जब मैं केवल 16 साल की थी तब अपनी कमाई से टिकट खरीद कर पहली बारी लंदन पहुँच कर बेहद ख़ुश थी। वहां पर मैंने ढ़ेर सारी शॉपिंग भी की थी।

जैकलिन फर्नांडिज बॉलीवुड फिल्मों में अपनी सफलता को लेकर बहुत ही संतुष्ट हैं। क्या कहना चाहेंगी इस बारे में ?

“मैंने हिंदी फिल्मों में आइटम नंबर से अपनी पहली पारी की शुरुआत करके आज जो कुछ भी मुकाम हासिल किया है वह मेरे लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। मुझे अपना यह फिल्मी दौर बेहद अच्छा लगता है। हाँ, यह जरूर है कि आज मैं यदि केवल पांच मिनट का किरदार भी कर रही हूँ तो उसके लिए मुझे तैयारी करनी होती है। मुझे अपनी नृत्य कला को भी प्रैक्टिस करके बेहतरीन करना पड़ता है। यह सब करने के लिए मुझे बहुत मेहनत करनी पड़ी और मैं इन सब के लिए तैयार हूँ।”

12-Jacqueline-Fernandez (1)

कुछ सोच कर जैकलिन ने कहा, “मुझे अपनी अभिनय क्षमता को बेहतरीन करना है और कुछ न कुछ नया करना अच्छा लगता है। यदि हम अपनी अभिनय क्षमता को बेहतरीन नहीं करते हैं तो लोग हमें उसी रंग ढंग में देख कर बोर हो जाएंगे। मैंने डांस क्लासेज भी ज्वॉइन कर ली हैं ताकि डांस के हाव – भाव में कुछ नयापन ला पाऊँ।”

हाउसफुल 1, 2 और 3 क्या कहना चाहेंगी आप ?

हाउसफुल मेरे लिए पारिवारिक बॉन्ड की तरह है क्योंकि मैं इस फिल्म से हॉउसफुल 1 से ही जुडी हुई हूँ। साजिद नाडियाडवाला मेरे फेवरेट हैं क्योंकि उन्होंने मुझे मेरी फर्स्ट फिल्म से उन्नति करते हुए देखा है। आज मुझे ढ़ेर सारी फ़िल्में मिल रही हैं। मेरे पास हॉलीडेज लेने के लिए इस साल समय बिल्कुल भी नहीं है। यही मेरा पेशेवर समय है। शायद अगले वर्ष मैं छुट्टी ले पाऊँ।

jacqueline2

आप केवल ग्लैमरस डॉल की तरह हैं क्या ?

आज समय बदल गया है। आज निर्देशक भी हर एक्ट्रेस में अभिनय क्षमता देख कर ही उसे अपनी फिल्मों में लिया करते हैं। आज यदि एक्ट्रेस सही तरह अपना किरदार न कर पाये तो निर्देशक उनसे असंतुष्ट रहते हैं। कमर्शियल किरदार हो या फिर कोई भी किरदार हो हमें अपना बेस्ट देना होता है।

सोनम और आपकी बॉन्डिंग बहुत अच्छी है, क्या कहना चाहेंगी ?

सोनम और मैं बहुत ही अच्छे दोस्त हैं। हम दोनों अपने भविष्य प्लान के बारे में भी चर्चा किया करते हैं। मेरा फिल्मी दुनिया से संबंध नहीं रहा किन्तु सोनम जो फिल्मी बैकग्राउंड से हैं उनसे ढ़ेर सारी जानकारी मिलती है। दरअसल अपने परिवार के लोग हमेशा एक अच्छी सलाह ही देते हैं, किन्तु जब फिल्मी दुनिया में कोई सलाहकार हो तो हमें उनके इरादों का पता नहीं होता है। ऐसे समय में अपने दोस्तों से भी बातचीत कर ली जाती है इस बारे में और उसके बाद सही निष्कर्ष निकाला जा सकता है। सोनम एक बहुत ही अच्छी अभिनेत्री होने के साथ साथ मेरी अच्छी दोस्त भी हैं। आजकल गर्ल बॉन्डिंग नजर आती है। पुराने ज़माने की हिरोइंस में ऐसी बॉन्डिंग कम देखने को मिलती है। यह सोच कर भी बहुत बुरा लगता है।

 

 


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये