INTERVIEW: “यदि सीन की डिमांड है बिकिनी भी पहनूंगी, स्मूच भी करूंगी औऱ बोल्ड सीन भी”- उर्वशी रौतेला 

1 min


लिपिका वर्मा 

उर्वशी रौतेला ने मिस यूनिवर्स का खिताब (2012) में जीत लिया था किंतु  2012 की जो उम्र  (ऐज) कंट्रोवर्सी-उर्वशी की उम्र छोटी थी इस लिए मिस यूनिवर्स के खिताब को इनसे वापस ले लिए गया था। खेर उसके बाद भी  उर्वशी ने कई ब्यूटी पजेंट  खिताब जीत यह साबित  कर दिया की उर्वशी में अच्छा खास दम खम है। अपनी पहली फ़िल्म,”सिंह साहब दी  ग्रेट” में बतौर हीरोइन सनी देओल के अपोजिट काम  कर बॉलीवुड में अपनी एक छाप छोड़ी, किंतु फिर उर्वशी साउथ का रुख कर गई। लेकिन उर्वशी का दिल यही बॉलीवुड में ही अटका रहा बस कोशिश एक आशा के तहद उर्वशी ने अपनी दूसरी फ़िल्म टी  सीरीज के बैनर  तले बनी फ़िल्म,”सनम रे” में अच्छा अभिनय कर इंडस्ट्री में अपना जलवा दिखलाने के लिए खुद को तैयार कर लिया। अब फ़िल्म “ग्रेट ग्रैंड मस्ती” फ़िल्म में उर्वशी अपनी- कॉमेडी, रोमांस एवम  रोमांच सभी  एक साथ दिखलाने जल्द सिनेमा घरो में अपने फैंस को लुभाने आ  रही है। दूरध्वनी द्वारा उर्वशी ने लिपिका वर्मा के ढेर सारे सवालों  के जवाब दिए

urvashi-rautela

फ़िल्म “ग्रेट ग्रैंड मस्ती” एक सेक्स फ़िल्म का आप हिस्सा है क्या कहना चाहेंगी ?

इस फ़िल्म को ,”सेक्स” फ़िल्म की उपाधि देना  सही नही होगा। यह एक आउट एंड आउट फैमिली फ़िल्म है। इस फ्रैंचाइज़ी का हिस्सा हूँ इस बात का मुझे गर्व  है। ऐसी फिल्में भी दर्शकों में अपना एक स्थान बना  चुकी है। मुझे इस बात की खुशी है कि मैं इस फ़िल्म का हिस्सा हूँ। दरसल  मेरा किरदार एक खूबसूरत नॉर्मल लड़की का है जहां तीन लड़के उसका पीछा कर रहे है। साथ ही मै  एक भूत का किरदार भी निभा रही हूँ। जब एक अभिनेत्री को अपने अभिनय के अलग हुनर एक ही फ़िल्म में दिखलाने मिले  तो  उसे  औऱ  क्या चाहिए?

अपने किरदार के बारे   में थोड़ा बतलायें ?

मेरा किरदार एक मासूम खूबसूरत लड़की का भी है, औऱ  साथ उस हवेली में जहां यह तीनो लड़के -विवेक, रितेश औऱ अफताब पहुंचते है वहाँ एक भूत बन किस तरह इन तीनों लड़कों को नाचाती हूँ यह देख सभी  रोमांचित हो उठेंगे। मेरे किरदार के इर्दगिर्द ही घूम रही है सारी कहानी। बिना इस लड़की के कहानी आगे नही बढ़ती है।

Urvashi_hot Pic

विवेक, रितेश एवम अफताब के साथ कम करने का अनुभव कैसा रहा?

जाहिर सी बात है यह तीनों बहुत ही मंझे हुए कलाकार है औऱ  कॉमेडी करना  इनके बाएं हाथ का खेल  है। सो शुरू में थोड़ा नर्वस थी। किंतु इकलौती लड़की होने  की वजह  से इन सभी ने मेरा बहुत ख्याल रखा औऱ मेरा  ढढ़ास बंधे रखा। कॉमेडी में महारथ हासिल है इन सभी को, मैं पहली बारी कॉमेडी कर रही थी सो इन सभी से बहुत कुछ सीखने को  मिला। कॉमेडी करना  अत्याधिक कठिन है पर विवेक औऱ अफताब के समर्थन से मैं अपने अभिमय में काफी सुधार ला पाई। विवेक ने मेरी तारीफ में कहा -“आप एक अच्छी कलाकार है” यह सुन  मुझे बेहतर अभिनय करने की इच्छा हुई,  सफल अभिनय कर पाने  का श्रेय मै इन तीनो कलाकारों को ही देना चाहूँगी।

Urvashi-Rautela_vivek-Oberoi_riteish-deshmukh

आपकी सेक्सी सीन, किस एवम अंग प्रदर्शन की (लिमिटेशन) सीमा कहां तक है?

देखिए, मैं एक ऐसे व्यवसाय से जुड़ी हुई हूँ जहां सच्चाई  से कहानी पेश की जाए तो न केवल बॉक्स आफिस पर  वो फ़िल्म धमाल मचाती  है अपितु हमारे लिए भी कला दिखलाने को मिलती  है। सेक्स, किस एवं बोल्ड  सीन की मेरी सीमा कहानी की रूप -रेखा पर  जा कर ही खत्म होगी। यदि सीन की डिमांड है बिकिनी भी पहनूंगी, स्मूच भी करूंगी औऱ  बोल्ड सीन भी। पर यदि यह सब  मात्र लोगो  को उकसाने के लिए सीन डाले  जाए तो मै  इनका हिस्सा कभी  नही होना चाहूंगी। निर्देशक इंद्रा कुमार ने मुझे इस फ़िल्म का हिस्सा होने के लिए चुना यह मेरे लिए गर्व है। पहले शॉट के बाद मैं रो पड़ी फिर इंदर कुमार ने कहा -रोने की बात नही है किंतु खुश होने  की बात है। तुमने मेरी उम्मीदों  से बेहतर अभिनय किया है। “

SHARE

Mayapuri