INTERVIEW: अन्ना इस उम्र में भी फिट, हैंडसम तथा बहुत प्यारे इंसान हैं – जैकलिन फर्नांडीज

1 min


जैकलिन फर्नांडीज जैसी श्रीलंकाई मॉडल ने कभी कल्पना तक नहीं की थी कि एक दिन उसे हिन्दी फिल्मों की स्टार हीरोइन बनने का अवसर हासिल होगा। फ्लॉप फिल्म से अपने करियर की शुरूआत करने वाली जैकलिन ने बाद में बॉलीवुड के हर छोटे बड़े स्टार्स के साथ काम किया। अब वह सिद्धार्थ मल्हौत्रा के अपोजिट फिल्म ‘ ‘जेन्टलमैन’में एक अलग से रोल में नजर आने वाली हैं। फिल्म को लेकर जैकलिन से एक बातचीत।

फिल्म का टाइटल किस किरदार को फॉलों करता है ?

फिल्म में सिद्धार्थ दो किरदार निभा रहे हैं। इन में एक गौरव है और दूसरा ऋषि। गौरव मियामी में रहता है वो एक साभ्रांत, सज्जन तथा मृदभाशी लड़का है और मेरे साथ ही ऑफिस में काम करता है। मुझे लगता है कि उसके अच्छे गुणों की वजह से टाइटल उसी पर जाता है।

फिल्म में टाइटल के नीचे लिखा हैं सुंदर सुशील और रिस्की। ये कौन हैं?

सुंदर तो डेफिनेटली मैं ही हूं इसके अलावा सुशील गौरव है और रिस्की ऋषि। क्योंकि ऋषि थोड़ा एग्रेसिव है। उसे हमेशा मारधाड़ गोली, बम धमाके पंसद हैं।

अपने किरदार के बारे में क्या कहना है?

मैं एक एनआरआई लड़की हूं जिसका नाम काव्या है। वो भी मियामी में सैटल है और जैसा कि मैने बताया गौरव के साथ ही काम करती है। स्वभाव से वो काफी चुलबुली है। उसे एक्शन और रोमांच में बहुत मजा आता है लेकिन वो उसे करने या देखने को नहीं मिल पाता। सीदे सादे लोग उसे बौर करते हैं।

फिल्म के पोस्टर में आप और सिद्धार्थ किस लेने की मुद्रा में हैं लेकिन आपके मुंहू में एक सेफ्टीपिन दबा हुआ है। वो सब क्या है?

अगर मैं कहुं कि वो पोस्टर एक पूरा सीन बताने की कोशिश कर रहा है। जैसे  हम दोनों के हाथों में हथकड़ी लगी हुई हैं क्योंकि हमें विलन्स ने किडनेप किया हुआ है। मेरे मुहूं में जो सेफ्टीपिन है उससे हम अपनी हथकड़ी खोलने की कोशिश कर रहे हैं।

फिल्म में सिद्धार्थ का डबल रोल हैं। आप किसके साथ हैं ?

यहां मैं गौरव के साथ हूं। जबकि एक्शन ऋषि करता है और एक्शन मुझे भी पसंद है लेकिन वो मियामी में नहीं मुबंई में रहता है। वैसे इसे आप टिपिकल डबल रोल वाली फिल्म नहीं कह सकते, क्योंकि इसमें अच्छे ट्वीस्ट हैं और फिल्म मिस्टेक ऑफ आइडेंटिटी पर आधारित है।

एक अरसे बाद कोई हीरोइन यानि आप फिल्म के एक गाने चन्द्रलेखा में बार बार ड्रैस बदलती दिखाई दे रही है?

आपने सिर्फ यही देखा। ये नहीं देखा कि इस बार मैं और सिद्धार्थ गाने में बिलकुल अलग और डिफिकल्ट स्टेप्स करते नजर आये। ये गाना हमारे लिये इतना टफ था कि उसकी पहले दो महीने तक हमने सिर्फ रिहर्सल की। इसके बाद सेट पर जब ये गाना फिल्माया जा रहा था तो डांस करते करते मेरे मसल्स इतने दुखने लगते थे कि मुझे पेन किलर लेना पड़ता था। सच बताऊं तो जिस प्रकार के स्टेप्स मैने किये हैं उसे कोई ज्यादा वजन वाली हीरोइन तो बिलकुल नहीं कर सकती। लेकिन मैं वो सब आसानी से इसलिये कर पाई क्योंकि मैं बहुत पहले से प्रिपियेर थी। मुझे सेट पर किसी ने मेरे डांस को लेकर वॉव करते हुये बधाई भी दी थी।

सुनील शेट्टी के साथ काम करते हुये कैसा लगा ?

सुनील सर, सब उन्हें अन्ना कहते हैं। मुझे उनके साथ काम करने का ज्यादा मौका तो नहीं मिल पाया। लेकिन इतना जरूर कहना चाहूंगी कि वे इतने नम्र और डाउन टू अर्थ पर्सन हैं कि कभी भी हर किसी की मदद करने के लिये तैयार रहते हैं। मैं और सिद्धार्थ उनसे उनके कॅरियर से जुड़ी कहानीयां बहुत ही दिलचस्पी से सुना करते थे। वाकई अन्ना इस उम्र में भी बहुत फिट और बहुत हैंडसम लेकिन प्यारे इंसान हैं।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये