जसपाल भट्टी को गुरू मानते हैं सुनील ग्रोवर

1 min


हास्य अभिनेता के रूप में सुनील ग्रोवर आज बड़ा नाम हो गया है। मगर वह आज भी जसपाल भट्टी को अपना गुरू मानते हैं। खुुद सुनील ग्रोवर बताते हैं-‘‘चंडीगढ़ में जसपाल भट्टी से मेरी मुलाकात हुई थी। उन्होंने मेरा पहला ऑडीशन लिया था। उनसे मैंने ह्यूमर के बारे में बहुत कुछ सीखा। उनसे मैंने सीखा कि क्रॉफ्टेड ह्यूमर क्या होता है। उनकी सीख का ही परिणाम है कि मैं भी लेगों के चेहरों पर मुस्कान लाने में कामयाब हो गया हूं।;;

सुनील ग्रोवर ने जसपाल भट्टी से बहुत कुछ सीखा था। उसी की चर्चा करते हुए वह कहते हैं-‘‘मैने उनसे एक पंक्ति को पॉंच पंक्तियों में बयां करना सीखा। यह कला मैं अभी भी सीख रहा हूू। इसमें माहिर नहीं हुआ हॅूं।वह तो लीजेंड थे। उनके दिमाग को पूरी तरह से अपनाना बहुत कठिन है। मेरा अपना नेच्युरल तरीका बहुत अलग था। मैने उनसे सीखा कि एक बात कहते समय ह्यूमर के साथ संदेष देना। ह्यूमर के साथ विचार का होना बहुत जरुरी है’’


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये