जावेद अख्तर का यंग तेवर था ‘भारत माता की जय’ नाद में

1 min


जिस तरह आमिर खान और शाहरुख को जनता ने उनके माफी मांगने पर भी माफ नहीं किया है (उनके द्वारा ‘असिष्णु भारत’ कहने पर) उसी तरह जावेद अख्तर लोगों के दिलों के हीरो बन गये हैं संसद में ‘भारत माता की जय’ का नारा लगाकर। दरअसल AMIM के नेता ओवैसी के कहने पर कि गरदन पर तलवार रखी हो तो भी वह भारत माता की जय नहीं बोलेंगे। जावेद साहब भारत की सर्वोच्च सभा (राज्य सभा) से अपने विदाई समारोह में बोल रहे थे। बोलते बोलते उनको ओवैसी की प्रतिक्रिया याद आ गयी जो मुस्लिम नेता ने धर्मभिरू लोगों को उकसाने के लिए दी थी। जावेद अख्तर ने तीन बार ‘भारत माता की जय’ का नाद किया। बताते हैं उस समय उनके बोलने में वही एंग्री यंग मैन का तल्ख अंदाज था जो ‘सलीम-जावेद’ जोड़ी द्वारा अमिताभ के लिखे डायलॉग लिखते समय हुआ करता था।
जावेद अख्तर के इस देश भक्ति के जोश को देश की जनता ने सर आंखों लिया है। लता मंगेशकर ने ट्विट करके गीतकार-लेखक को इस बात के लिए बधाई दी है। सोशल मीडिया ने ‘भारत माता की जय’ बोलने की इस टाइमिंग को सलाम किया है। खासकर मुस्लिम युथ ने उनमें यंग तेवर देखा है। जावेद अख्तर ने तो ओवैसी को चैलेन्ज करते हुए कहा भी है कि वह कहीं से भी उनके सामने चुनाव लड़कर देख लें- जहां हिन्दू-मुस्लिम दोनों की जनसंख्या 50-50 हो, वह पूरी वोट पाएंगे। खबर है देशभर से जावेद साहब को चुनाव लड़ाने और जीतवाने का आह्वान शुरू हो गया है। सचमुच जावेद साहब जो आपकी लेखनी कहती है वहीं आपका दिल भी कहता है। काश इंडस्ट्री के दूसरे कुछ भटके स्टार आप से कुछ सीख पाते।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये