ज़मीन से शिखर तक…कुछ ऐसा रहा है टेलीविज़न के ‘अलादीन’ सिद्धार्थ निगम का सफर

1 min


एक्टर नहीं बल्कि जिमनास्ट बनना चाहते थे सिद्धार्थ निगम!

कहते हैं फर्श से अर्श तक पहुंचना कोई आसान बात नहीं। दिन रात मेहनत, जज्बा, जुनून, प्रोत्साहन और किस्मत। इन चीजों के बलबूते ही हासिल किया जा सकता है ऐसा मुकाम जहां पहुंचने का ख्वाब हर इंसान देखता है। ऐसा ही सपना देखा था आज टेलीविज़न के ‘अलादीन’ बन चुके सिद्धार्थ निगम ने भी, और नसीब से सिद्धार्थ के पास ये सभी चीज़ें मौजूद थीं। इसीलिए उनकी किस्मत उन्हे वहां ले आई जिसके बारे में उन्होने कभी सोचा भी नहीं था।

काम करो ऐसा कि पहचान बन जाए, चलो ऐसे कि निशान बन जाए

सिद्धार्थ निगम के ऊपर ये लाइन पूरी तरह सटीक बैठती हैं। सिद्धार्थ निगम आज इंडस्ट्री का जाना माना नाम है। किसी परिचय के मोहताज नहीं है वो। फिलहाल सिद्धार्थ निगम सब टीवी पर आने वाले ‘अलादीन-नाम तो सुना होगा’ सीरीयल में लीड रोल निभा रहे हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि बाल कलाकार के तौर पर विज्ञापन और फिल्मों में नज़र आने के बाद टेलीविज़न के हिट शो कर चुके सिद्धार्थ निगम असल में एक्टर बनना ही नहीं चाहते थे, बल्कि ये मौका तो उन्हे किस्मत से मिला।

जिमनास्टिक में गोल्ड विजेता हैं सिद्धार्थ निगम

महज़ 5 साल के थे सिद्धार्थ निगम जब उन्होने जिमनास्टिक शुरू की। और समय के साथ उसमें माहिर होते गए। उन्होने जिमनास्टिक में कई गोल्ड अपने नाम किए हैं। और वो देश के लिए गोल्ड जीतना चाहते थे। शरीर में चुस्ती-फुर्ती तो गज़ब की थी ही साथ ही जिमनास्टिक की हर कला में माहिर हो चुके सिद्धार्थ निगम को इसी के चलते Bournvita की AD करने का मौका मिला। और उन्होने इस मौके को हाथ से जाने नहीं दिया। ये साल 2011 की बात थी जब सिद्धार्थ निगम के इंडस्ट्री में सफर की शुरूआत हुई। लेकिन ये सफर लंबा होने वाला था। Bournvita के इस एक विज्ञापन ने सिद्धार्थ निगम को फिल्म इंडस्ट्री के उस बैनर में जगह दिलवा दी जिसमें एंट्री के लिए न्यूकमर तरसते हैं। वो यशराज बैनर की फिल्म धूम 3 से जुड़ गए वो भी करियर के शुरूआती दौर में ही। इस फिल्म में उन्होने आमिर खान के बचपन का रोल निभाया था।

‘धूम 3’ के बाद टेलीविज़न इंडस्ट्री को दिए कई हिट शो

आमिर खान जैसे सुपरस्टार के साथ ‘धूम 3’ के बाद सफर रूका नहीं बल्कि कारवां आगे बढ़ता गया। एक के बाद एक किस्मत मौके देती गई और सिद्धार्थ आगे बढ़ते रहे। 2013 में धूम आई और अगले ही साल यानि 2014 में उन्हे टेलीविज़न का बड़ा शो ‘महाकुंभ – एक रहस्य, एक कहानी’ करने का मौका मिला।

  • 2014 में टेलीविज़न इंडस्ट्री में सिद्धार्थ निगम का ये डेब्यू सीरीयल था जिसमें इनके कैरेक्टर का नाम था रूद्रा।
  • साल 2015 में वो ऐतिहासिक ड्रामा सीरीज़ ‘चक्रवर्ती अशोक सम्राट’ से जुड़े जिसमें इन्होने युवा अशोक का लीड रोल निभाया। इस शो से इन्हे घर-घर में पहचान मिली।
  • साल 2016 में वो ‘झलक दिखलाजा’ में बतौर प्रतियोगी नज़र आए।
  • साल 2017 में उन्होने ‘चंद्र नंदिनी’ नाम के सीरीयल में बिंदुसार का रोल निभाया। जिसमें रजत टोकस और श्वेता बासु प्रसाद जैसे एक्टर मौजूद थे।
  • फिलहाल वो सब टीवी पर आने वाले शो ‘अलादीन – नाम तो सुना होगा’ में लीड रोल कर रहे हैं।
  • सिद्धार्थ निगम म्यूज़िक वीडियो में भी नज़र आ चुके हैं जो दर्शकों ने काफी पसंद की।

9 साल का करियर और 6 अवॉर्ड

सिद्धार्थ निगम के करियर को 9 साल हो चुके हैं और इन 9 सालों में अपनी काबिलियत के बदौलत वो 6 अवॉर्ड अपने नाम कर चुके हैं। उन्हें

  1. Most Promising Child Star के लिए इंडियन टेलीविज़न एकेडमी अवॉर्ड
  2. Best Actor Debut Male के लिए ज़ी गोल्ड अवॉर्ड
  3. Best Child Actor Male के लिए लायंस गोल्ड अवॉर्ड
  4. Most Stylish Debut के लिए टेलीविज़न स्टाइल अवॉर्ड
  5. Best Child Actor Male के लिए इंडियन टेली अवॉर्ड
  6. Favourite Child Actor के लिए गोल्डन पेटल अवॉर्ड से सम्मानित किया जा चुका है।

फैन फोलोइंग में बड़े टेलीविज़न स्टार्स को भी छोड़ते हैं पीछे

सिद्धार्थ निगम ने बेहद ही कम समय में प्रसिद्धि हासिल कर ली है। वो सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहते हैं। इंस्टाग्राम, ट्विटर और फेसबुक पर इनकी गजब की फैन फोलोइंग देखने को मिलती है। इंस्टाग्राम की बात करें तो सिद्धार्थ निगम 3.8 मिलियन फोलोअर्स के साथ नकुल मेहता, अर्जुन बिजलानी, कर सिंह ग्रोवर और करण पटेल जैसे टेलीविज़न के दिग्गजों को भी पछाड़ रहे हैं। वहीं ट्विटर पर सिद्धार्थ निगम के 60 हज़ार से ज्यादा फॉलोअर्स हैं। वहीं फेसबुक पर पांच लाख से ज्यादा लोग इन्हे फॉलो करते हैं। यहां तक की इंस्टा पर जितने फॉलोअर्स सिद्धार्थ निगम के हैं उतने तो बॉलीवुड के ‘मिस्टर परफेक्शनिस्ट’ यानि आमिर खान के भी नहीं है।

मां से रखते हैं Special Bonding

महज़ छोटी सी उम्र में ही पिता को खो देने  के बाद सिद्धार्थ की पूरी दुनिया उनकी मां में ही है। वो अपनी मां के साथ स्पेशल बॉन्ड शेयर करते हैं। क्योंकि आज वो जो कुछ भी हैं अपनी मां की बदौलत ही हैं। अपनी पहचान का श्रेय वो अपनी मां को देते हैं और इसलिए उन्हे जिंदगी का हर सुख देना चाहते हैं।

करियर का पहला मौका मिलते ही सिद्धार्थ ने ये साबित कर दिया था कि वो जीतने के इरादे से मैदान में उतरते हैं। सिद्धार्थ बाल कलाकार के तौर पर मनोरंजन की दुनिया से जुड़े थे और देखते ही देखते 9 साल इंडस्ट्री में पूरे कर चुके हैं। अपनी मेहनत और लगन से इन 9 सालों में सिद्धार्थ निगम ने जो कमाया वो हर किसी के बस की बात नहीं। कहते हैं

मेहनत इतनी ख़ामोशी से करो कि, तुम्हारी सफलता शोर मचा दे

चकाचौंध से भरी इस मायानगरी में हर रोज़ नए चेहरे खुद को चमकाने के इरादे से आ रहे हैं। इनमें से कईयों को वो मौका मिलता भी है लेकिन कुछ ही हैं जो वाकई सफलता के शिखर पर अपनी चमक को बरकरार रख पाते हैं। और सिद्धार्थ निगम उन्ही में से एक हैं जो ज़मीन से उठे और तमाम तकलीफों को दरकिनार कर शिखर तक पहुंचे और अपनी मेहनत के बलबूते आगे ही बढ़ते जा रहे हैं। और आज उनकी सफलता का ही शोर हर ओर है।