कल्कि की ख्वाहिशें ऐसी कि हर ख्वाहिश पे जान निकले

1 min


Exclusive-images-of-Kali-Koechlin-5

गोरी गोरी इंडियन बॉर्न फ्रेंच पैरेटन्स की छोटी कल्कि कोचलिन ( जिन्हें शरारत से फिल्म वाले कलकी छोकरी के नाम से बुलाते हैं) अपनी नई फिल्मों में एक ऐसी अपंग लडकी की भूमिका निभा रही है जिसके दिल में हजार ऐसी ख्वाहिशे हैं कि ख्वाहिश पे जान निकले। एक ऐसी लडकी जो लाईफ को एन्जॉय करना चहाती है, वह लाइफ के लुत्फ उठाना चाहती है, प्यार करना चाहती है, फ्लर्ट करना चाहती है। उसे देख कर कोइ उस पर दया नहीं दिखा सकता। कल्कि कहती हैं कि जब से उसने बालीवुड में कदम रखा है उसने हिन्दी फिल्मों की फिरंगी लडकी बनने से इंकार कर दिया। अक्सर गोरी फिरंगी कलाकारों को बस विदेशी का किरदार थमाया जाता रहा है। पर वह भारत में जन्मी है, गोरी है तो क्या हुआ, वह तरह तरह के महत्वपूर्ण रोल करना चाहती है ‘देव डी’ ‘यह जवानी है दिवानी’ की तरह ‘’अपंग किरदार के बारे में वह कहती है कि लोग सोचते हैं व्हील चेयर पर बंधा व्यक्ती कोइ हसरत नहीं रखता जब की उस के मन में भी जवान हसरतें हैं’’, कल्कि यही बताना चहाती है दुनिया को.


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये