कंगना ने अपने को आर्टिफीशियल बनाने से किया इंकार

1 min


टैलेन्ट, खूबसूरती और किस्मत का डेडली कॉम्बीनेशन है कंगना रनोट और यही वजह है कि इस कम उम्र में भी उन्होंने वो शोहरत, इज्जत दौलत हासिल कर ली है जो बॉलीवुड में कम ही नायिकायें इस उम्र में हासिल कर पाती है, लेकिन सफलता के साथ ही बाला को व्यस्तता के जाल में भी फँसना पड़ता है। तो इन दिनों कंगना की मसरुफियत का जवाब नहीं। पिछले दिनों अपने फैशन लाइन को लॉन्च करते हुए उन्होंने रैंप वॉक के लिए अपना वक्त दिया था, फिर उन्होंने पैरिस फैशन वीक के फ्रन्ट रो अटेन्डेंट के तौर पर अपना वक्त दिया, अब वहां से वे लंदन यू.के. के लिए प्रस्थान कर रही हैं क्योंकि वे वहां प्रेस्टीजियस वूमन इन द वर्ल्ड समिट को एटेन्ड करने वाली हैं। यहां वे ग्लोबल आइकॉन्स जैसे मेरी स्ट्रीप, जार्डन की क्वीन रानिया, कैरी मुलिगन जैसे हस्तियों के साथ स्टेज शेयर करेंगी इस समिट में भाग लेने वाली बॉलीवुड की पहली फीमेल स्टार है कंगना। क्योंकि इस इवेन्ट का मुख्य उद्देश्य है विश्व की प्रेरणादायक और बहादुर नारियों की कहानी सबको बताना तो आज के युवाओं के भारत को प्रतिनिधित्व करने वाली कंगना से बढ़कर कौन हो सकती है, उन्हें वहां भारतीय एन्टरटेनमेन्ट जगत की, नारियों को आर्टिफिशियल और अनरीयलिस्टिक जाहिर करने की लत के बारे में बोलने के लिए निमंत्रित किया गया है। चूंकि कंगना ने अपने को आर्टिफिशियल और बनावट वाली इमेज (ऑन स्क्रीन) में बाँधने से बोल्डली इंकार किया इसलिए वह शायद युवा भारतीय नारी की रोल मॉडल बन गई। कंगना रोशन कर रही है भारत का नाम।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये