एक बार में वो मजा नहीं है

1 min


अर्नब गोस्वामी ने हाल ही में अमिताभ बच्चन का इंटरव्यू लिया इस इंटरव्यू में अर्नब ने अमिताभ बच्चन से बहुत सारे सवाल किये जिसका जवाब देना अमिताभ बच्चन पर काफी भारी पड़ा जैसे की बोफोर्स कांड, उनका नेहरु और गाँधी फैमिली से रिलेशन और उनका रिलेशन पाॅलिटिशियन जेसे की अमर सिंह, मुलायम सिंह यादव और नरेन्द्र मोदी से और यही ही नहीं बल्कि कंगना रनोट के रोल तनु वेड्स मनु रिटर्न्स में और उस कविता के बारे में जो अमिताभ ने खुद तनु वेड्स मनु के लिए लिखी है और उस लेटर और फूल के बारे में जो उन्होंने कंगना को भेजे हैं।

आमिर खान ने कंगना को बाॅलीवुड की बेस्ट एक्टर भी कहा है और यही ही नहीं बल्कि कई सारे जाने माने डायरेक्टर, प्रोडयूसर, एक्टर्स, ने कंगना की तारीफों के पुल बांध दिए है। टीवी पर हर चैनल मे सिर्फ कंगना रनोट की तन्नु वेड्स मन्नू की तारीफ हो रही है और हर अखबार, मैग्जीन मे सिर्फ कंगना ही कंगना है। यहाँ तक की कंगना की फिल्म ने बाॅलीवुड के खान और कुमार की फिल्मों को भी पीछे छोड़ना शुरू का दिया है।

Kangana-Ranaut-Tanu-Weds-Manu-Returns

कंगना रनोट और सन्नी देओल की फिल्म आई लव न्यूयाॅर्क जो कई टाइम से रिलीज नहीं हो पा रही है अब जल्द ही सिनेमा घरों मे रिलीज की जाएगी, ‘कट्टी बट्टी’ जो कंगना की अगली फिल्म होगी इस फिल्म को जल्दी खत्म करने में निर्देशक और टीम जुट गई है ताकि कंगना की पब्लिसिटी का फायदा फिल्म को भी मिले। विशाल भारद्वाज ने अपनी अगली फिल्म ‘रंगून’ के लिए शाहिद कपूर के साथ कंगना रनोट को साइन किया है… कंगना रनोट के बारे मे कई कहानियाँ भी सुनने को मिल रही है जो कभी नहीं सुनी हो… खैर कुछ भी हो मगर एक बात तो पक्की है की कंगना रनोट जो कभी कुछ नहीं थी आज एक ऐसी हीरोइन बन गई है जिस के साथ हर कोई काम करना चाहता है… यह कहना गलत नही होगा की कंगना ने अपनी शानदार जगह बाॅलीवुड मे बना ली है और मुझे ऐसा लगता है की कंगना रनोट की यह शानदार कामयाबी ने लोगो को हौसला दिया है बताया है और दिखाया है की बाॅलीवुड की फिल्में भी खूबसूरत होती है। कंगना की इस कामयाबी से माध्यम वर्ग के लोगों को भी कुछ ऐसा लगने लगा है की फिल्मों को अगर सिनेमा घर में देखें तो कुछ पैसे का नुकसान नहीं होगा। वह नवयुवक जिन के मन में बाॅलीवुड की फिल्मों के बारे में गलत छवि बन गई थी उन को भी ऐसा लगने लग गया है की बाॅलीवुड में भी अच्छी फिल्म बनती है और उनका विश्वास भी वापस से जगने लगा है। यही नहीं बल्कि वह लोग जो समझते हैं की बाॅलीवुड की फिल्म देखना सिर्फ वक्त की बर्बादी है भी सोचने पर मजबूर हो गए हैं की शायद बाॅलीवुड का विकास का वक्त शुरू हो गया है। लोग जो हिंदी भाषा भी नहीं जानते हैं वह लोग भी आज के वक्त में बाॅलीवुड की फिल्मों की तरफ आने लगे हैं और कंगना की फिल्म देखने लगे हैं ….

Beautiful-Kangana-Ranaut-540x405

कंगना रनोट की फिल्म ‘तनु वेड्स मनु रिटर्न्स’ में डबल रोल के बारे में काफी ज्यादा बोल सकता हूँ पर यह बात मुझे सबसे ज्यादा हैरान कर रही है की लोग एक बार नहीं बल्कि बार-बार यही फिल्म देखने सिनेमा घरों में वापस आ रहे हैं। मैंने खुद ‘तनु वेड्स मनु रिटर्न्स 2 बार देखी है एक तो अकेले जो की मैंने काॅलेज के वक्त से ही बंद कर दिया था और एक बार सब के साथ जो की लोगो ने मुझे साथ बिठा कर मूवी देखने से इनकार कर दिया था क्योंकि मैं फिल्मों का डायलाॅग और सबसे पहले ही बोलने लग जाता था जिस कारण लोग मुझे कभी फिल्म देखने के लिए नहीं बुलाते थे…. मैं दूसरी बार जब फिल्म पीवीआर अंधेरी में 7 बजे का शो देख रहा था तब मुझे ऐसा महसूस हुआ की मैं अकेला ही नहीं था जो दूसरी बार फिल्म को देखने आया था बल्कि कुछ लोग तो फिल्म को पहले ही 2, 3, 4, बार देख चुके थे। ऐसा होता था मुझे अभी भी याद है जब देव आनंद की गाईड, गुरु दत्त की (मैंने प्यासा 15 बार देखी थी न्यू वेंकटेश इन विले परले मे देखी थी। इस थिएटर को प्यासा के बाद तोड़ भी दिया था जिसकी जगह पर नया थिएटर शान खुला था जहाँ बाद में रेस्टोरेंट और बार में बदल गया था और यहाँ लडकियां रात को नाचने गाने आती थी)… कंगना रनोट के अलावा अभिनेता अमिताभ बच्चन की फिल्म ‘पीकू’ मैंने 2 बार देखी है। मेरे जैसे पहले वक्त में कहीं होते थे जिस करण फिल्में सिल्वर जुबली (25 वीक्स), गोल्डन जुबली (50 वीक्स) प्लैटिनम जुबली(75 वीक्स), और कई फिल्में जैसे गंगा जमुना, शोले, हम आपके है कौन, जो की आज भी फिल्म के 17 साल बाद भी मराठा मंदिर, मुंबई मे चल रही है। कौन भूल सकता है कि एम एफ हुसैन ने ‘हम आपके हैं कौन’ को 102 बार एक ही थिएटर में एक ही सीट पर बैठ कर देखा था?

kangana_ranaut_wallpapers_hd_20-540x375

उस दिन पीवीआर में मेरी मुलाकात सचिन पाटनकर जो अपने बीवी उमा और 2 बेटियों के साथ कंगना की फिल्म देखने आये थे और फिल्म देखने के बाद सचिन पाटनकर ने यह भी कह दिया की इस फिल्म को जितनी बार भी देखो उतना ही अच्छा लगता है..एक कपल जो काॅलेज के लग रहे थे इस फिल्म को चौथी बार देख रहे थे क्योंकि उनके हिसाब से यह फिल्म बाॅलीवुड की बेस्ट फिल्म है। उनका यह कहना था की कंगना रनोट हमेशा से ही अच्छी लगती थी मगर उन्हें यह नहीं पता था की कंगना रनोट इतनी जबर्दस्त कलाकार भी है। कुछ औरतें बुर्के में भी मुझे मिली और वो औरतें इतनी जबर्दस्त इंग्लिश बोल रही थी उनसे बात कहने में ऐसा लग रहा था की कंगना का किरदार उन पर काफी इम्पैक्ट कर रहा था। उन औरतों ने बताया की वो हैदराबाद से शादी के सिलसिले में आई हुई थी पर वक्त होने के करण वह इस फिल्म को 3 से 4 बार लगातार देख रहे थे। और यहाँ तक की एक औरत ने यह भी कह दिया की वह चाहती है की वह काश कंगना रनोट की तरह बन सके। एक नौजवान रामनाथन ने कहा – मुझे कंगना रनोट से प्यार हो गया है, मैं जनता हूँ की मेरा प्यार मुझे कहीं नहीं लेकर जाएगा मगर मुझें प्यार है तो क्या करूँ… पिछली बार जब मुझे ऐसा हुआ था वह था काजोल से डी डी एल जे के वक्त पर.. पाॅपकाॅर्न बेचने वाले ने कहा की इस बार धंधा बहुत जबर्दस्त हुआ है और उसने यह भी कहा ऐसा मजा कभी नहीं हुआ और धंधा ऐसा ही चलेगा सिर्फ और सिर्फ कंगना रनोट मेमसाब के करण…

indiatoday2

जैसे मैं लिफ्ट से नीचे आया तो मैंने सिर्फ लोगों से कंगना रनोट की तारीफ ही सुनी एक औरत ने यह भी कहा की इतना मजा 30 साल में कभी नहीं आया और माँ अब कंगना रनोट की मैं हर फिल्म देखूंगी..हाँ ! यह सब लोग एक त्योहार के लिए आये थे और वह त्योहार है कंगना का जुडवां धमाका उत्सव। मैंने कई साल पहले जब कंगना रनोट 2 फिल्में पुरानी थी तब ही मैंने कहा था की ये लड़की एक वक्त में बाॅलीवुड की सबसे बड़ी हीरोइन में से होगी और मैं वह शर्त आज जीत गया हूँ। और हाँ मैं तनु वेड्स मनु रिटर्न्स फिर से देखूंगा ।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये