काजोल की तरह करीना से भी हुई थी करण की लड़ाई लेकिन फिर यूँ हुआ सब ठीक 

1 min


करण जौहर की बायोग्राफी ‘एन अनसूटेबल ब्वॉय’ में एक के बाद एक बड़े खुलासे हो रहे हैं। पहले उनकी बेस्ट फ्रेंड काजोल को लेकर और अब उनकी दूसरी बेस्ट फ्रेंड करीना को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। जैसा की आप जानते हैं की करन की बायोपिक में पहले उनके काजोल से खराब रिश्तों की बात बताई गई थी लेकिन अब उनकी इसी बॉयोपिक से उनके करीना कपूर खान के साथ भी लड़ाई की बात सामने आई है। जहाँ करण ने किताब में लिखा है कि, ‘मैंने करीना को ‘कल हो ना हो’ ऑफर किया थी। लेकिन उन्होंने फिल्म के लिए शाहरुख खान जितनी रकम मांग ली थी और इसकी वजह बताते हुए उन्होंने बताया की उस समय कुणाल कोहली की ‘मुझसे दोस्ती करोगी’ उसी समय रिलीज हुई थी और फिल्म बुरी तरह से फलॉप हुई थी। उस समय करीना को लगा की आदित्य चोपड़ा के असिस्टेंट की फिल्म बुरी तरह फ्लॉप हुई है तो करण जौहर के असिस्टेंट निखिल आडवाणी पर भी भरोसा नहीं किया जा सकता। तब करन ने ये बात अपने पापा को बताई तो उन्होंने कहा कि आगे बात मत करो। लेकिन मैंने फिर भी करीना को फोन किया लेकिन उन्होंने मेरा फोन नहीं उठाया। इससे मैं बहुत हर्ट हुआ था। ‘हम पार्टियों में भी मिलते थे लेकिन एक-दूसरे से कभी बात नहीं करते थे’।

लेकिन फिर इन दोनों की दोस्ती हो गई करण आगे लिखते हैं। कि जब मेरे पापा का इलाज न्यूयॉर्क में चल रहा था तो करीना ने मुझे फोन कर कहा, ‘मैंने यश अंकल के बारे में सुना। वो फोन पर बहुत भावुक हो गईं थीं। उन्होंने कहा, आई लव यू, मुझे दुख है कि मैं तुम्हारे संपर्क में नहीं थी। चिंता मत करना। ‘

फिर करण को एहसास हुआ और उन्होंने आगे लिखा है कि ‘वो मुझसे 10 साल छोटी थीं और मेरा उनसे बात ना करना बेवकूफाना था’। हालांकि 9 महीने बाद करीना और करण में सब कुछ ठीक हो गया और फिर करीना ने करण के बैनर तले ‘गोरी तेरे प्यार में’, ‘एक मैं और एक तू’, ‘वी आर फैमिली’ और ‘कुर्बान’ जैसी फिल्मों में काम किया है। तो इससे तो साफ होता है की दोस्तों में तकरार चलती रहती है और वक़्त हर घाव भर देता है और कहीं न कही करन और काजोल का मन मिटाव भी जरूर ठीक होगा


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये