जब-जब बड़े पर्दे पर दिखाया गया इतिहास, तब – तब करणी सेना ने खींची अपनी तलवार..

1 min


करणी सेना

अब अक्षय की पृथ्वीराज चौहान की लटकी अधर में शूटिंग, ‘करणी सेना’ ने मांगी स्क्रिप्ट

बॉलीवुड में इन दिनों जहां रियलिस्टिक फिल्मों पर मेकर्स ज्यादा ज़ोर दे रहे हैं तो वहीं दूसरी पर पीरीयड ड्रामा फिल्मों को पसंद करने वाले दर्शकों की भी कोई कमी नहीं है। बॉलीवुड में इन दिनों पृथ्वीराज चौहान की जिंदगी पर आधारित फिल्म की शूटिंग चल रही थी लेकिन ‘करणी सेना’ की तलवार अब इस फिल्म पर लटकती नज़र आ रही है। आलम ये है कि फिल्म की शूटिंग रोक दी गई है।

पढ़ने के लिए की गई है फिल्म स्क्रिप्ट की डिमांड

कहा जा रहा है कि करणी सेना ने पृथ्वीराज चौहान के मेकर्स से स्क्रिप्ट की डिमांड की है। इस स्क्रिप्ट को इतिहासकारों का पैनल पढ़ेगा और उसके बाद ही फिल्म बनाने की इजाज़त दी जाएगी। वहीं ये भी कहा गया है कि अगर मेकर्स स्क्रिप्ट पढ़ने के लिए नहीं देंगे तो केवल राजस्थान ही नहीं बल्कि पूरे देश में कहीं भी इसकी शूटिंग को होने नहीं दिया जाएगा। लेकिन ऐसा पहली बार नहीं है जब करणी सेना ने ऐसा कुछ करने की धमकी दी हो। इससे पहले भी बनी कई पीरीयड ड्रामा फिल्मों की शूटिंग के दौरान वो विघ्न डाल चुके हैं…और कई बार तो नौबत बड़े विद्रोह तक पहुंच चुकी है। आज हम उन्ही कुछ फिल्मो की बात करेंगे जिन्हें रिलीज़ से पहले लड़नी पड़ी थी एक लंबी लड़ाई..

1. जोधा अकबर

जोधा अकबर

Source – Pinterest

साल 2008 में रिलीज़ हुई थी जोधा अकबर। अकबर बने थे ऋतिक रोशन तो उनकी जोधा के किरदार में नज़र आई थीं विश्व सुंदरी ऐश्वर्या राय। फिल्म को निर्देशित किया था आशुतोष गोवारिकर ने। लेकिन शूटिंग के दौरान ही करणी सेना ने फिल्म में ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए जमकर विरोध जताया। राजस्थान में फिल्म के प्रदर्शन पर रोक के लिए ना जाने क्या – क्या बवाल हुआ।

भेजे गए थे खून से लिखे ख़त

उस वक्त विरोध का स्तर क्या रहा होगा इसका अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उस दौरान खून से लिखे खत राजस्थान में थियेटर और सिनेमाघरों के मालिकों को भेजे गए थे। नतीजा डर के मारे राजस्थान के कई सिनेमाघरों में इस फिल्म को दिखाया ही नहीं गया। बाद में आशुतोष गोवारिकर ने बाकायदा माफी तक मांगी जिसके बाद कहीं जाकर ये मामला शांत हुआ।

2. पद्मावत

पद्मावत

Source – Wallpaper Cave

ऐसा ही कुछ हुआ साल 2018 में रिलीज़ हुई पद्मावत के साथ भी। फिल्म को नवंबर 2017 में रिलीज़ होना था। लेकिन करणी सेना के भारी विरोध प्रदर्शन का नतीजा ये हुआ कि रिलीज़ को कैंसिल करना पड़ा। खास बात ये थी कि पद्मावत को लेकर विरोध केवल राजस्थान तक ही सीमित नहीं था। बल्कि इस विद्रोह की आंच दिल्ली तक भी पहुंची। मांग थी इतिहास के साथ छेड़छाड़ ना हो और खिलजी के साथ रानी पद्मावती का कोई भी सीन फिल्म में ना दिखाया जाए। सिर्फ फिल्म बनने के बाद ही नहीं बल्कि राजस्थान में फिल्म की शूटिंग के दौरान सेट पर तोड़फोड़ और निर्देशक संजय लीला भंसाली के साथ मारपीट जैसे वाक्या पहली बार सुनने को मिले थे। लेकिन अंततः फिल्म 25 जनवरी, 2018 को रिलीज़ हुई और ब्लॉकबस्टर साबित हुई।

3. पानीपत

पानीपत

Source – Youtube 

बीते साल रिलीज़ हुई और ना जाने कब बड़े पर्दे से गायब हो गई फिल्म ‘पानीपत’ को भी भारी विरोध का सामना करना पड़ा था। पहले हरियाणा के जाट समुदाय और फिर करणी सेना। अहमद शाह अब्दाली और मराठाओं के बीच पानीपत की जंग पर आधारित इस फिल्म में अर्जुन कपूर, कृति सेनन और संजय दत्त जैसे स्टार्स शामिल थे। पानीपत के विरोध में फिल्म से जुड़े पोस्टर जलाए गए, जगह जगह प्रदर्शन हुए। नतीजा फिल्म बुरी फ्लॉप साबित हुई।

4. मणिकर्णिका

मणिकर्णिका

Source – IMDB

कंगना रनौत की ‘मणिकर्णिका’ भी काफी हद तक करणी सेना के निशाने पर रही। इनका कहना था कि फिल्म में रानी लक्ष्मीबाई और ब्रिटिश अफसर के बीच के रिलेशन को दिखाया गया है जो सरासर गलत है। इसलिए फिल्म को रिलीज़ से पहले देखने की मांग भी की गई थी। लेकिन कंगना ने भी इस पर कड़ा रूख अख्तियार रखा था।

और पढ़ेंः फिल्म ‘राधे’ के सेट पर सलमान खान ने बनाए सभी के लिए कुछ खास नियम


Like it? Share with your friends!

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये