मुझे राम कमल मुखर्जी निर्देशित फिल्म शुभ विजया के प्रदर्शन का बेसब्री से इंतजार है – खुशबू कारवा

1 min


‘‘केकवाॅक’’,‘सीजंस ग्रीटिंग्स’ और ‘‘रिक्शावाला’’ फिल्मों को मिल रही शोहरत के चलते पत्रकार से लेखक व निर्देषक बने राम कमल मुखर्जी काफी जोश से काम कर रहे हैं। कुछ दिन पहले जब पश्चिम बंगाल मंे चुनाव हो रहे थे, उसी दौरान राम कमल मुखर्जी ने अपनी बंगला फिल्म ‘‘ब्रोकन फ्रेम्स’’ की शूटिंग की थी। इस फिल्म की शूटिंग खत्म करते ही लेखक व निर्देशक राम कमल मुखर्जी ने अपनी आगामी हिंदी फीचर फिल्म ‘‘शुभ विजया’’ का भी फिल्मांकन मंुबई में कोरोना महामारी की दूसरी लहर के आने से पहले पूरा कर लिया। फिलहाल, फिल्म के पोस्ट प्रोडक्शन का काम जोरों पर चल रहा है। -शान्तिस्वरुप त्रिपाठी

फिल्म ‘‘शुभ विजया’’ में पूर्व मिसेस युनिवर्स खुशबू कारवा सूत्रधार (कथावाचक) के रूप में नजर आएंगी।जबकि फिल्म में गुरमीत चैधरी और देबिना बनर्जी मुख्य भूमिका में हैं। फिल्म ‘‘शुभ विजया’’में खुशबू कारवा को जोड़ने की चर्चा करते हुए राम कमल मुखर्जी कहते हैं,‘‘ मैं एक ऐसे चेहरे की तलाश कर रहा था,जिसमें पाथोस हो और फिल्म में हमारे मुख्य नायक के साथ भावनात्मक रूप से जुड़ा हो। फिल्म में नेत्रहीन युवक का किरदार निभा रहे गुरमीत चैधरी एक काफी शौंफ में अपनी कहानी सुनाते हैं।और दर्शक खुशबू की आँखों के माध्यम से फिल्म देखते हैं।”

दो बच्चों की माॅं तथा 2018 में फिलीपींस में ‘‘मिसेस युनिवर्स ’’में चैथी रनर अप रही पुणे निवासी खुशबू कारवा कहती हैं-‘‘मुझे एक ऑडीशन के लिए राम कमल दादा के कार्यालय से फोन आया। मैने आॅडीशन दिया,पर मैं बहुत घबरा गयी थी। इसलिए मुझे यकीन नहीं था कि मेरा चयन होगा। लेकिन एक हफ्ते के बाद मुझे प्रोडक्शन से पुष्टिकरण कॉल मिला।इस फिल्म के लिए मेरा चयन मेरे जीवन का सबसे रोमांचक क्षण था। इससे पहले मैंने एक मॉडल के रूप में एक वैश्विक मंच का सामना किया है, लेकिन एक कैमरे का सामना करना और एक चरित्र को निभाना मेरे लिए एक अलग चुनौती थीं।‘‘

गुरमीत और देबिना संग काम करने के अनुभवांे की चर्चा चलने पर खुषबू कारवा ने कहा- ‘‘गुरमीत और देबिना के संग काम करने का अवसर पाकर मैं उत्साहित थी। लेकिन मैं अंदर ही अंदर डरी हुई थी कि क्या इनके साथ काम करना आसान होगा? क्योंकि मैं एक नई कलाकार हूं। जबकि यह दोनों इस क्षेत्र में कई वर्षों से कार्यरत हैं। लेकिन गुरमीत ने मुझे कभी इस बात का अहसास नही कराया कि वह महान कलाकार हैं और मैं एक नई नवेली कलाकार। देबिना भी एक महान इंसान हैं, ठंड के कारण उनकी आवाज के साथ कुछ समस्या थी।इसके बावजूद वह मेरे दृश्यों में संवाद की लाइनें देने के लिए काफी प्यारी थीं।’’

बाॅलीवुड में हमेशा नेपोटिजम की चर्चा होती रहती है। ऐसे में गैर फिल्मी परिवार से आने वाली खुशबू के लिए बाॅलीवुड से जुड़ना कितना आसान रहा। इस पर वह कहती हैं-‘‘सच कहूं तो मुझे पहले भी धोखा दिया गया है, और यह उद्योग अवसरवादियों से भरा हुआ है। लेकिन अगर आप बुद्धिमान और स्मार्ट हैं तो आप अपने सपने को सच कर सकते हैं। मैं हमेशा फिल्मों में अभिनय करना चाहती थी।लेकिन मुझे सही ब्रेक नहीं मिल रहा था। मुझे अपनी प्रतिभा और भाग्य पर भरोसा था। और अब ओटीटी प्लेटफार्मों के साथ मुझे लगता है कि नई प्रतिभाओं को और अधिक स्कोप मिल रहे है।‘‘

वर्तमान में खुशबू पुणे स्थित एक प्रमुख वैश्विक स्मार्ट डिजिटल जल संसाधन प्रबंधन कंपनी के साथ काम करती है, लेकिन साथ ही वह फिल्मों में काम करने की इच्छुक हैं। वह कहती हैं-‘‘मेरे पास वेब सीरीज और मराठी फिल्मों में अभिनय करने के प्रस्ताव आ रहे हैं। मैं हर तरह के काम के लिए खुली हूं, बशर्ते मुझे चुनौतीपूर्ण किरदार निभाने के मौके मिले।फिलहाल मुझे फिल्म ‘शुभ विजया’के प्रदर्षन का बेसब्री से इंतजार है।’’

एक कामकाजी महिला, एक सौंदर्य प्रतियोगिता की विजेता,दो बच्चों की माँ, पत्नी और कर्तव्यनिष्ठ बेटी और अब एक अभिनेत्री, खुशबू हमारे देश की एक सच्ची बहु-आदर्श महिला का आदर्श उदाहरण लगती हैं। वह कहती हैं-‘‘उम्र सिर्फ एक संख्या है।आप हमेशा अपने सपने का पीछा कर सकते हैं,जहाँ भी आपने इसे छोड़ा था।’’

फिल्म के संगीतकार ‘9 इमोशंस मीडिया’और कैमरामैन मधुरा पालित है,जिसे मुंबई और मालदीव में फिल्माया है।अरित्रा दास, शर्बानी मुखर्जी और गौरव डागा द्वारा निर्मित फिल्म ‘‘शुभ विजया’ एक प्यारी प्रेम कहानी है।

SHARE

Mayapuri