कीर्तिराज फिल्म्स प्रस्तुत- राज नायक लेकर आ रहे हैं-“इंटरनेशनल घूमर दीवा 2021”

1 min


International Ghoomar Diva 2021

घूमर राजस्थान की वह नृत्य कला है जिसको देखने के लिए न सिर्फ राजस्थान बल्कि पूरे देश और दुनिया भर के लोग लालायित रहते हैं।

इस लोक नृत्य कला को जब भी पर्दे पर पेश किया गया है, पूरा आकर्षण उसी ने खींचा है।

पिछले सालों की रिलीज फिल्में हो या हाल की बहुचर्चित फिल्म ‘पद्मावत’ रही हो, फ़िल्म देखने के लिए सिनेमा घरों पर दर्शकों को ‘घूमर नृत्य’ के आकर्षण ने ही खींचा था।

अब इसी घूमर को विस्तृत कैनवास पर लेकर आने जा रहे हैं निर्देशक राज नायक।

राज नायक का यह कैनवास एक रियलटी शो के रूप में आएगा- ताकि इसमे देश और दुनिया भर से घूमर नृत्यांगनाएं भाग ले सकें तथा वे सभी जिनके लिए लोक नृत्य का आकर्षण हमेशा लुभावना रहा है।

शरद राय

“इंदौर जैसे शहरों में आज भी लोक- संस्कृति बची हुई है” राज नायक

Raj Nayak

राज नायक से मेरी टेलीफोनिक बातचीत होती है तब वह राजस्थान के जयपुर शहर में प्रोजेक्ट की तैयारियों में होते हैं- “सिर्फ जयपुर ही नहीं, इंदौर, पुणे , अहमदाबाद और मुम्बई में हम शूट करके वहां से ‘घूमर’ प्रतिभावों को बाहर लाने के प्रयास में हैं।”

‘घूमर के प्रति आकर्षण कैसे हुआ? क्यों लगा कि घूमर पर काम किया जाए?”

मैं वहां का हूं जयपुर , इंदौर जैसे शहरों में आज भी लोक- संस्कृति बची हुई है। बचपन से मुझे इस नृत्य के प्रति लगाव रहा है। घूमर की कला तो अब भी विरासत के रूप मे समझी जाती है।

यह ऐसी कला है जो राजस्थान में महिलाएं घूघट में करती हैं, आज भी उसका वह रूप बना हुआ है।” राज नायक टीवी इंडस्ट्री से जुड़े व्यक्ति हैं। “मैंने 10 साल टीवी इंडस्ट्री में दिया है।

इसलिए विस्तृत और लंबे कैनवास पर बहुत सारे लोगों को जोड़ने के लिए घूमर दीवा की खोज की जाए, इस खयालात से मैं और मेरे कुछ मित्र मिलकर घूमर दीवा 2021 की परिकल्पना पर काम किए और अब इंटरनेशनल घूमर दीवा 2021 पर काम चल रहा है।”

एकता कपूर की बालाजी टेलीफिल्म्स की कम्पनी से निकलर बहुत से नवजवान आज सिनेमा और टेलीविजन की इंडस्ट्री में अपनी पहचान बना रहे हैं, उसी में एक हैं राज नायक भी।

राज ने असिस्टेंट फिर एसोसिएट फिर इंडिपेंडेंट अपना स्वयं का प्रोजेक्ट किया। वह अपनी प्रोडक्शन कंपनी कीर्तिराज फिल्म्स की शुरुवात किये जिसके तहत वह कई शार्ट फिल्मों व डॉक्युमेंट्रीज़ का निर्माण किये।वह थियेटर से भी जुड़े रहे हैं।

राज नायक का एक नाटक रानी पद्मावती के जीवन पर ‘ पद्मावती’ खूब पसंद किया गया नाटक रहा है। इस प्ले को पूरे इंडिया में मंचित किया गया है।

वह बताते हैं – जयपुर के एक शो में तो साढ़े तीन- चार हज़ार दर्शकों की गेदरिंग थी। अक्षय कुमार की फ़िल्म ‘ट्वायलेट एक प्रेम कथा’ जैसे विषय पर वह पहले हो शार्ट फ़िल्म बना चुके हैं।

सामाजिक बदलाव पर वह कई डॉक्यूमेंट्री बनाए हैं जैसे ‘ आज़ाद द पॉवर’, ‘एक थी दुल्हन’आदि। उनके आगामी प्रोजेक्ट हैं- ‘बच्ची’ और ‘क्षत्राणी’।

घुमर दीवा के चुनाव और चयन की क्या प्रक्रिया है? इसको बताते राज नायक कहते हैं- अभी हम 26 एपिसोड तक शो को ले जाने की सोच रहे हैं।

जिसको कई शहरों से ऑनलाइन दो मिनट के वीडियो मंगा कर कर रहे हैं। दो स्टेजेज में घूमर्स का चुनाव है। पहले वीडियो देखना फिर एक मिनट का प्रदर्शन फिर स्टार्स के साथ इंटरेक्शन।

50 फाइनलिस्ट के साथ शो की शुरुवात होगी। राज नायक का एक और प्रोजेक्ट है- ‘क्षत्राणी’ जो वीरांगनाओं की पृष्ठ भूमि पर है- ‘क्षत्राणी पद्मावती’, क्षत्राणी राणा बाई’ आदि।

एक फ़िल्म है -‘बच्ची’। इन सब पर काम चल रहा है। लेकिन अभी वह पूरा ध्यान दे रहे हैं “इंटरनेशनल घूमर दीवा 2021” पर जो उनका अम्बिसिस प्रोजेक्ट है।


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये