11वीं क्लास में हुआ था पहला प्यार- कृति

1 min


कृति खरबंदा को बैंगलुरु की “मोस्ट डिजायरेबल वुमन” और “हॉटेस्ट वुमन” का खिताब मिल चुका है। फिल्मों में काम करने की कोशिश करते ही कृति को शुरुआत में साउथ की फिल्मों से काम मिलने लगा। वो अच्छी फिल्मों और रोल की खोज में रहने लगीं। इसके बाद पवन कल्याण की तेलुगु फिल्म, “टीन मार”  में एक ख़ासा रोल मिलने के बाद फिर कन्नड़ फिल्म ,”चिरु” में उन्हें मैं लीड रोल मिल गया।

विक्रम भट की फिल्म, “राज़ रीबूट” में इमरान हाशमी के अपोजिट किरदार कर, अब कृति की अगली फिल्म जाने माने  ऐक्टर राजकुमार राव के साथ, “शादी में जरूर आना” में  नजर आने वाली है। यही नहीं इसके बाद कृति धर्मेंद्र, सनी देओल और बॉबी देओल के साथ उनकी बेहतरीन फिल्म फ्रेंचाइज़ी,”यमला पगला दीवाना” में अकेली फीमेल के रूप में नजर आएंगी। “जी हाँ  मेरे अलावा कोई और अभिनेत्री नहीं  है। में तीनों – धर्मजी, सनी और बॉबी के साथ नजर आऊंगी। इसके लिए आपको फिल्म  देखनी  होगी। ”

शादी का क्या  मतलब है आपके लिए?

देखिये हमारे यहाँ शादी का मतलब है, कुछ दिनों तक बेहतरीन कपड़े पहन, गहने पहन हर कोई अच्छी तरह तैयार होने की होड़ में लगा होता है। सही मायने में – कर अच्छा मौका कोई और नहीं होता है। दरअसल में दो व्यक्ति में एक साथ रहने का उत्साह होना चाहिए। कोई भी मैरिज परफेक्ट नहीं।  व्यक्ति अलग अलग ही होते है। और यदि उनके बीच ड्रामा न हो तो शादी ज्यादा समय तक चल भी नहीं पाती है। हर जीव ड्रामा देखना पसंद करता है। मैं भी रिलेशनशिप में रह चुकी हूँ। शादी के बाद  उत्साह  समझिए शादी सफल हो सकती है उत्साह एक अहम कारण है शादी को चलाने  में।  यदि लड़ाई -झगडे न हो दो लोगों के बीच और मनाना रूठना  यह रिश्ता चल नहीं पाता है।

अपने रिलेशनशिप्स के बारे में कुछ बतायें?

देखिये में ऑल गर्ल्स स्कूल से पढ़ी। सो पहली  बारी जब में 11वीं में लड़कों के सम्पर्क में आयी तब एक लड़के के प्रति आसक्ति का एहसास हुआ मुझे, किन्तु सही मायने में हाल ही में एक रिश्ते में थी। यह रिश्ता किन्ही पर्सनल वजहों से ज्यादा चल नहीं पाया। इसका यह भी कारण हो सकता है -मुझे अभी फ़िल्मी दुनिया की उंचाईयों को छूना  है। और काम को में ज्यादा महत्व देने लगी हूँ। यह एक बड़ा स्वीट सा लव था। हम दोनों अगले कदम के लिए तैयार नहीं थे- यानी शादी करना नहीं चाहते थे।

आजकल के बच्चे (यूथ) पार्टनर तो जैसे किताबों की तरह बदलते है। क्या कहना है आपको इस बारे में?

ऐसा नहीं होता है। कभी कभी हम एक दूर की आदतों को बदलना चाहते है। यह भी एक कारण होता है एक दूसरे से दूर होने का। यदि आप किसी से प्रेम करते है तो जाहिर सी बात है आपको उनकी  आदतों के साथ  रहना सीखना चाहिए। ज्यूं ही हम किसी की आदतों को बदलने की कोशिश करते है रिश्तों में दरार पड़  जाती है। और आज का युथ किसी की वजह से अपने आपको बदलना नहीं चाहता  है। सो सीधी सी बात है यदि आपको साथ नहीं रहना हैं तो आप अलग हो सकते है।

आप लव मैरिज या फिर अरेंज्ड मैरिज में विश्वास रखती हैं. कैसी शादी करना चाहेंगी आप?

ऐसा कुछ सोचा नहीं है। पर हाँ मेरे यहाँ सब रिश्तेदारों ने अरेंज्ड मैरिज ही की है। और सभी  सुखी भी है। मेरे माता पिता की भी अरेंज्ड मैरिज ही है। लेकिन,हाँ मुझे किसी के साथ  यदि ज़िन्दगी गुजारनी होगी तो मै उसके साथ कुछ समय जरूर बिताना चाउंगी।

कैसा पति चाहेंगी आप?

 देखिये, हर समय बातचीत  करते रहना मुझे कतई पसंद नहीं है। पर हाँ वह मुझे जाने और मेरे बारे में समय समय पर जानकारी भी रखे। किन्तु यदि मुझे साइलेंस पसंद है और में चुप्पी सादे हुए  हूँ -तो वह चिन्तित  हो जाये  और बारम्बार पूछते रहे  -डार्लिंग तुम्हे क्या हुआ है?  बार बार पूछना मुझे बोर कर सकता है। कई मर्तबा मुझे एकांत अच्छा लगता है। मै एकांत प्रिय हूँ. सो मेरे पीछे यदि कोई पड़े तो मुझे बोर लगता है। और मै उससे दूर हो सकती हूँ।  अपने पार्टनर को दोनों को अच्छी तरह से समझ लेना चाहिए और तभी हम अपनी शादी को सफल भी बना सकते है। पर हाँ मुझे यदि कोई लड़का पसंद करे तो फ़िल्मी दुनिया की तरह प्रपोज़  भी में खुश हो जाउंगी। मुझे अपनी बातो से पैरों तले  ज़मीन खिसका दे- वह भी अत्यंत लुभान्वित कर सकता  है मुझे। क्योंकि जीवन में ड्रामा  होते रहे तो मुझे मजा आता है। चाहे वह इतना इंटेलीजेंट न हो। पर हाँ कुछ ऐसा हो जो मुझे अच्छा लगे।

आप अपने आप को कोई टाइटल देना चाहेंगी?

जी बिलकुल में एक बहुत बड़ी ड्रामा क्वीन हूँ। जीवन में ड्रामा करना बहुत पसंद है। फ़िल्में देख कर कई बारी तो मैं वीएस ही अनुसरण करने लगती थी। रियल लाइफ में भी एक फिल्म चलती रहे तो दिल को मजा आता है।

अगली फिल्म ” यमला पगला दीवाना ” के बारे में -क्या बता सकती हैं हमें?

देखिये धर्मजी के साथ काम करना मेरे लिए एक बहुत ही बड़ी उपलब्धि है। तीनो के साथ मेरे सीन पूरे दिन चलते है यह अपने आप में बहुत ख़ुशी की बात है। सनी जी के साथ पहली बारी सीन कर रही थी तो उन्होंने मुझे एक अच्छा सा ओके बोला, किन्तु में जरा भी नहीं हंसी। तो वह बोले यार कुड़ी को हंसी नहीं आयी !! वह बहुत ही मजाकिये किस्म के अभिनेता है। बॉबी तो मस्त एक्टर है उनके साथ बेझिझक काम किया.हम दोनों ने बहुत एन्जॉय किया सेट पर. धर्मजी इतने बड़े है किन्तु अपने फैंस को जरा बी निराश नहीं करते है। कितने भी थके हो उनके साथ  बाकायदा फोटो खिंचवाते है। और यह भी देखते है -कि फोटो बराबर लाइट में खींची जा रही है या नहीं ?उनका मानना है कि फैंस की वजह से ही वह आज इस मुकाम पर पहुंचे है। और उन्ही की वजह से आज भी फिल्मों का हिस्सा  है।

 


Like it? Share with your friends!

Lipika Varma

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये