शक्ति कपूर के कूल इरादे

1 min


काॅन्ट्रोवर्शियल फिल्म ‘क्या कूल है हम’ (2005) के तीसरे इन्स्टाॅलमेन्ट में शक्ति कपूर की भूमिका भी जबर्दस्त कूल है, अब यह तो सबको पता है कि शक्ति कपूर सिर्फ खतरनाक विलेन की भूमिकाओं में ही नहीं बल्कि धाँसू काॅमेडी रोल्स में भी अपना जलवा दिखा चुके हैं जैसे ‘अंदाज अपना अपना’, हीरो नंबर वन। जब ‘क्या कूल है हम’ थर्ड की टाॅपिक छिड़ी तो शक्ति जो बोले, ‘‘आज तो काॅमेडी की बहार है, दर्शक कामेडी से जुड़ गये है।
Shakti Kapoor in Confession Room 1लेकिन बतौर एक्टर या होस्ट हमें यह बात नहीं भूलनी चाहिए कि एक हद पार नहीं करनी चाहिए काॅमेडी में क्योंकि दर्शकों को हंसाना हमारा मकसद है उनका या किसी का दिल दुखाना नहीं। जिस तरह से फिल्मों या किसी भी शो में एक्शन, भाषा, बोल्ड दृश्यों की एक हद बनाई गई है वैसी ही काॅमेडी में भी एक हद रखनी चाहिए। ओह, हद हो गई शक्ति जी, ऐसा बाकी काॅमेडियन्स क्यों नहीं सोचते?


Like it? Share with your friends!

Mayapuri

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये