किरदार, कहानी और स्टार कास्ट की वजह से मैं ‘कार्टेल’ के लिए राजी हुई: सुश्री मिश्रा

1 min


शाहरुख खान की ब्लॉकबस्टर फिल्म ‘ज़ीरो’ में काम करने के बाद, सुश्री मिश्रा ऑल्ट बालाजी के हाल ही में लॉन्च किए गए एक्शन ड्रामा ‘कार्टेल’ में एक मुख्य किरदार वैदेही कपूर की भूमिका निभा रही हैं। सुश्री मिश्रा विस्तार से बता रही हैं कि कैसे उन्होंने अपने किरदार के लिए ब्लड प्रेशर जांचना सीखा।

अपने किरदार के बारे में बताएं?

मैं शो में वैदेही कपूर का किरदार निभा रही हूं। सीरीज में वह पेशे से जूनियर डॉक्टर हैं। वैदेही एक ताकतवर, बुद्धिमान महिला है जिसके साथ बहुत कुछ चल रहा है। हालांकि संतुलित, शांत और दयालु व्यक्तित्व के कारण उसके संघर्षों के बारे में कोई नहीं जानता। वैदेही और शानदार अभिनेता तनुज विरवानी द्वारा निभाए गए किरदार – अर्जुन एक-दूसरे के पहले प्यार थे, और उनका एक-दूसरे से प्यार करना कभी थमा नहीं। लेकिन वे जल्दी ही अलग हो गए। वे अब वर्षों के बाद मिलते हैं और जैसे-जैसे कहानी आगे बढ़ती है, मेरे किरदार की भूमिका बहुत दिलचस्प होती जाती है, जो चिकित्सा बिरादरी से आने वाली पूरी तरह से बाहरी व्यक्ति होने से लेकर आंग्रे परिवार का एक बहुत ही अभिन्न अंग बनने तक, प्रत्येक किरदार के साथ एक अद्वितीय संबंध विकसित करती है।

इस किरदार को निभाते वक्त सबसे रोमांचक क्या था?

मेरे लिए बहुत सारी रोमांचक बातें रहीं। मुझे चीजों को करीने से रखना पसंद है। मैं एक जूनियर डॉक्टर की भूमिका निभा रही हूं, इसलिए मैं किरदार की तैयारी के दौरान डॉक्टरों और नर्सों से मिली। उनकी मानसिकता की अधिक स्पष्ट समझ हासिल करने के लिए मैंने उनसे बातचीत की। मैंने ब्‍लड प्रेशर जांचना, कोमा के रोगियों की मालिश करना, टांके लगाना आदि भी सीखा। सेट पर सुप्रिया पाठक मैम, तनुज विरवानी, जितेंद्र जोशी सर, ऋत्विक, गिरिजा और अन्य स्थापित एक्‍टर्स के साथ होना एक अभूतपूर्व अनुभव था।

आप शो के लिए राजी क्यों हुईं?

किरदार, कहानी और स्टार कास्ट की वजह से! मुझे बहुत ही अच्‍छे लगे। वैदेही कपूर के पास जो ताकत और बुद्धिमत्ता है, वह मेरे साथ इतनी अधिक इको हुई कि मैं ‘कार्टेल’ की दुनिया में जाने के लिए तैयार थी।

कार्टेल’ वास्तव में लंबे समय से बन रहा है। क्या यह शो समय के किसी मोड़ पर एक्झॉस्टिव हो गया था?

यह मेरे लिए एक्झॉस्टिंग नहीं था। लेकिन जीवन में सभी अच्छी चीजों के बनने में समय लगता है और जब मेहनती और प्रतिभाशाली लोगों की टीम साथ काम करती है, तो आप जानते हैं कि भले ही इसमें कितना भी समय लगे, लेकिन अंतिम परिणाम उम्‍दा होता है।

शो की शूटिंग कैसी रही? सेट से जुड़ी आपकी सबसे प्यारी याद…

इसमें कई तरह की भावनाएं शामिल हैं। ऐसी कई यादें थीं। मुझे आउटडोर शेड्यूल पसंद था; कई बार हम सब साथ बैठकर लंच करते थे। लेकिन सबसे प्यारा समय मैंने सुप्रिया पाठक मैम से बात करते हुए और उनका परफॉरमेंस देखते हुए गुजारा। वह इतनी शानदार एक्‍टर हैं, और इसकी याद भर ही मुझे गर्मजोशी से भर देती है और मेरे गूजबम्प्स निकल आते हैं।

अब शो शुरू होने के बाद आपको कैसा लग रहा है?

मैंने कड़ी मेहनत की है और अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दिया है। पूरी टीम ने इस शानदार कृति को बनाने में बहुत सारा प्यार, ऊर्जा और समय लगाया है। लॉन्च के बाद से ही, इस शो की काफी अच्छी समीक्षा हो रही है और मुझे यह जानकर बहुत खुशी हो रही है कि इसे दर्शकों और समीक्षकों ने खूब सराहा है। यदि आपने अभी तक शो नहीं देखा है, तो कृपया शो देखें और मेरा वादा है कि आप इससे प्रभावित हुए बिना नहीं रहेंगे। ‘कार्टेल’ फिलहाल आल्‍ट बालाजी और एमएक्‍स गोल्‍ड पर स्ट्रीम हो रहा है।

SHARE

Mayapuri