गीतकार समीर अंजान अब जाएंगे कोर्ट, रीमिक्स गानों पर क्रेडिट न मिलने से हैं नाराज

1 min


गीतकार समीर अंजान

रीमिक्स गानों में क्रेडिट न मिलने से भड़के गीतकार समीर अंजान

कुछ दिनों से बॉलीवुड में रीमिक्स गानों का ट्रेंड सा चल गया है। नए गाने तो जैसे बनना ही बंद हो गए हैं। जो भी नई फिल्म आती है, उसमें एक न एक रीमिक्स सॉन्ग जरूर होता है। रीमिक्स गाने इतनी तेजी से बन रहे हैं, कि अब ऐसा लगने लगा है कि किसी भी फिल्म में रीमिक्स गाना न हो, ऐसा तो हो ही नहीं सकता। शायद रीमिक्स गानों की रफ्तार इस वजह से भी बढ़ती जा रही है, क्योंकि इसके लिए कोई ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ती। बस कोई भी पुराना गाना लिया और उसमें थोड़ा सा बदलाव करके उसे रीमिक्स बना दिया। लेकिन अब शायद गानों के मूल संगीतकार और लिरिक्स राइटर को रीमिक्स गानों से आपत्ति होने लगी है।

गीतकार समीर अंजान

Source: Amarujala

जावेद अख्तर से बात करेंगे समीर

दरअसल, हम बात कर रहे हैं गीतकार समीर अंजान की। जी हां, गीतकार समीर अंजान ने हाल ही में रीमिक्स गानों पर आपत्ति जताई है। उनका कहना है कि पुराने गानों का रीमिक्स वर्जन बनाकर उनमें मूल गीतकार का क्रेडिट न दिया जाना बिलकुल गलत है। गीतकार समीर अंजान का कहना है कि न उन्हें इसका क्रेडिट दिया जाता है और न ही इसके लिए उन्हें कोई पैसे दिए जाते हैं। उन्होंने कहा, कि वो इस बारे में जावेद अख्तर सी भी बात करेंगे और कोर्ट में भी ये मुद्दा उठाएंगे।

कोर्ट में उठाएंगे ये मुद्दा

हाल ही में न्यूज एजेंसी पीटीआई से बात करते हुई समीर ने कहा, ‘जो हो रहा है, ठीक नहीं हैं। हम इसके पूरी तरह से खिलाफ हैं और हम इसके खिलाफ लड़ने के लिए अदालत जाने की योजना बना रहे हैं। हमने उन्हें (संगीत कंपनियों) एक खास फिल्म के लिए अधिकार दिया है, लेकिन वे इसका रीमिक्स तैयार कर रही हैं, गानों का अलग-अलग फिल्मों में इस्तेमाल कर रही हैं। मैंने जावेद अख्तर से बात की है, क्योंकि वह आईपीआरएस के प्रमुख हैं और हम सब कोर्ट जाने पर विचार कर रहे हैं।’

गीतकार समीर अंजान

Source: Ritzmagazine

कैसे पता चलेगा की मूल लेखक कौन है ?

गीतकार समीर अंजान ने आगे कहा, सिर्फ यही हल है, अन्यथा वे इसे नहीं रोकेंगे।’ आपको बता दें, समीर के दिलबर दिलबर गाने को भूषण कुमार की अगुवाई वाली टी सीरीज ने जॉन अब्राहम की फिल्म बटला हाउस में रीमिक्स किया था। इस पर समीर ने कहा, ‘उन्होंने शब्बीर अहमद को इसका श्रेय दिया, जिन्होंने शुरू की सिर्फ दो पंक्तियां लिखी हैं। बाकी सारा मेरा लिखा हुआ ही था। भविष्य में आने वाली पीढ़ियों को कैसे मालूम चलेगा कि इसका मूल लेखक कौन है?’

एआर रहमान ने भी किया विरोध

समीर ने आगे ये भी कहा, कि संगीत कंपनियां उन्हें एक रुपया भी नहीं देती हैं। जो अनैतिक है। गौरतलब है कि हाल ही में दो रीमिक्स गानों को लेकर भी इसी तरह के विवाद सामने आए थे। हाल ही में रिलीज हुआ गाना ‘मसकली 2.0’ और बादशाह और जैकलीन का गाना ‘गेंदा फूल’। मसकली गाने का विरोध तो खुद एआर रहमान ने किया है।

ये भी पढ़ेंजानिए, क्या है अनीता राज का वर्कआउट सीक्रेट ? 57 साल की उम्र में भी हैं इतनी फिट


Like it? Share with your friends!

Sangya Singh

अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये